Home /News /entertainment /

40 Years Of Satte Pe Satta: हालात बिगड़ने से नहीं बन पाई अमिताभ-रेखा की जोड़ी, बिग बी ने सुझाया था हेमा मालिनी का नाम

40 Years Of Satte Pe Satta: हालात बिगड़ने से नहीं बन पाई अमिताभ-रेखा की जोड़ी, बिग बी ने सुझाया था हेमा मालिनी का नाम

'सत्ते पे सत्ता' 22 जनवरी 1982 में रिलीज हुई थी. (फोटो साभार: Movies N Memories/Twitter)

'सत्ते पे सत्ता' 22 जनवरी 1982 में रिलीज हुई थी. (फोटो साभार: Movies N Memories/Twitter)

राज एन सिप्पी (Raj N Sippy) की फिल्म ‘सत्ते पे सत्ता’ (Satte Pe Satta) जब 40 बरस पहले रिलीज हुई थी तो इसने जबरदस्त कमाई भी की. अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) का जलवा था कि करीब 1 करोड़ 60 लाख में बनी इस फिल्म ने सवा 4 करोड़ का बिजनेस किया था. इस फिल्म की कहानी हॉलीवुड की फिल्म ‘सेवन ब्राइड्स फॉर सेवन ब्रदर्स’ पर आधारित थी, लेकिन एक्ट्रेस फाइनल करना काफी मुश्किल रहा.

अधिक पढ़ें ...

अमिताभ बच्चन  (Amitabh Bachchan) की सुपरहिट फिल्मों में शुमार ‘सत्ते पे सत्ता’ (Satte Pe Satta) 22 जनवरी 1982 में रिलीज हुई थी. राज एन सिप्पी (Raj N Sippy) के निर्देशन में बनी इस फिल्म में हेमा मालिनी (Hema Malini), शक्ति कपूर (Shakti Kapoor), सचिन पिलगांवकर (Sachin Pilgaonkar), अमजद खान (Amjad Khan) जैसे दिग्गज कलाकारों ने शानदार एक्टिंग से फिल्म को सफल बना दिया था. इस फिल्म के रोमांटिक सीन हो या शानदार कॉमेडी या फिर गाने, सबने मिल कर सिल्वर स्क्रीन पर ऐसा तिलिस्म बिखेरा कि कई सिनेप्रेमी तो लगातार कई शोज के लिए सिनेमाघर में बैठे ही रह गए थे. इस फिल्म के 40 बरस पूरे होने पर बताते हैं कुछ मजेदार किस्से.

अमिताभ के साथ रेखा को कास्ट करना चाहते थें राज सिप्पी

आर डी बर्मन जैसे मशहूर संगीतकार के संगीत से सजा एक गाना ‘दिलबर मेरे कब तक मुझे’ है, शायद आपको भी याद आ गया होगा. बता दें कि इस गाने में अमिताभ बच्चन के साथ हेमा मालिनी नहीं बल्कि रेखा को होना था. सोचिए अगर अमिताभ-रेखा की जोड़ी इस फिल्म में होती तो शायद आज इसका इतिहास कुछ और होता. खैर बताते हैं कि ऐसा क्यों नहीं हो पाया. मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो जब राज सिप्पी ने इस फिल्म को बनाने का फैसला किया तो उन्हें रेखा और अमिताभ की जोड़ी को ही लेना था लेकिन 1981-82 तक रेखा और अमिताभ के रिश्तों की वजह से उनकी पर्सनल लाइफ में काफी मुश्किलें आ गई थीं. जिसकी वजह से रेखा इस फिल्म का हिस्सा नहीं बन सकीं.

amitabh bachchan

अमिताभ बच्चन की सफल फिल्मों में से एक है सत्ते पे सत्ता. (फोटो साभार: Movies N Memories/Twitter)

परवीन बाबी ने फिल्म करने से कर दिया था इनकार

इसके बाद दूसरी एक्ट्रेस का नाम सुझाया गया वो थीं परवीन बाबी, लेकिन फिल्मों से उकता चुकीं परवीन ने भी फिल्म करने से मना कर दिया. एक समय धमाल मचा चुकीं परवीन को फिल्मी दुनिया ही रास नहीं आ रही थी तो वो फिल्मों से दूरी बनाने लगी थीं. अब एक्ट्रेस को लेकर संकट सामने आया तो अमिताभ बच्चन ने हेमा मालिनी का नाम सुझाया और इस तरह इस सक्सेसफुल फिल्म ‘सत्ते पे सत्ता’ की लीड एक्ट्रेस हेमा मालिनी बन गईं.

amitabh bachchan, hema malini

‘सत्ते पे सत्ता’ के एक सीन में हेमा मालिनी और अमिताभ बच्चन.(फोटो साभार: Movies N Memories/Twitter)

हेमा मालिनी शूटिंग के समय थीं प्रेग्नेंट

हालांकि हेमा मालिनी को भी ‘सत्ते पे सत्ता’ करते वक्त काफी दिक्कत आई थी, क्योंकि वह प्रेग्नेंट थीं. बहुत संभलकर शूटिंग करती थीं. फिल्म का एक गाना ‘परियों का मेला है’ अगर आप ध्यान से देखेंगे तो  हेमा की प्रेग्नेंसी का पता चल जाएगा . इसमें अपने बेबी बंप को छिपाने के लिए हेमा शाल का इस्तेमाल करती नजर आ रही हैं. हालांकि ये कोशिश की गई थी कि शूटिंग के दौरान उनके क्लोजअप पर फोकस किया जाए ताकि प्रेग्नेंसी छिपाई जा सके, फिर भी एक सीन में सामने आ ही गया था. फिल्म रिलीज होने के ठीक दो महीने पहले ही हेमा ने ईशा देओल को जन्म दे दिया था.

amitabh bachchan

‘सत्ते पे सत्ता’ का एक सीन.(फोटो साभार: Movies N Memories/Twitter)

ये भी पढ़िए-प्रियंका चोपड़ा साबित होंगी एक प्यारी मां, भतीजी के साथ बिताए ये पल दे रहे हैं गवाही, देखें PICS

‘सत्ते पे सत्ता’ ने जबरदस्त कमाई की थी

‘सत्ते पे सत्ता’ जब रिलीज हुई थी तो इसने जबरदस्त कमाई भी की. मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो करीब 1 करोड़ 60 लाख में बनी फिल्म ने सवा 4 करोड़ का बिजनेस किया था. इस फिल्म की कहानी हॉलीवुड की फिल्म ‘सेवन ब्राइड्स फॉर सेवन ब्रदर्स’ पर आधारित थी. फिल्म की जबरदस्त सफलता की वजह से फिल्म के एक्टर रहे सचिन पिलगांवकर ने मराठी में भी इस फिल्म को बनाया था.

Tags: Amitabh bachchan, Hema malini, Rekha

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर