Home /News /entertainment /

40 Years Of Kaalia: ‘कालिया’ के डायलॉग आज भी किए जाते हैं याद, वही बोलने को अमिताभ बच्चन नहीं थे तैयार

40 Years Of Kaalia: ‘कालिया’ के डायलॉग आज भी किए जाते हैं याद, वही बोलने को अमिताभ बच्चन नहीं थे तैयार

अमिताभ की फिल्म 'कालिया' 25 दिसंबर 1981 में रिलीज हुई थी.(फोटो साभार: Movies N Memories/Instagram)

अमिताभ की फिल्म 'कालिया' 25 दिसंबर 1981 में रिलीज हुई थी.(फोटो साभार: Movies N Memories/Instagram)

अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) की दमदार आवाज, मजबूत डायलॉग डिलेवरी के सभी लोग कायल हैं. सदी के इस महानायक की खूबी जो सन 1981 में थी वही आज भी बरकरार है. इस उम्र तक आते-आते कई लीजेंड एक्टर की आवाज में कशिश खत्म होने लगती है और जुबान साथ नहीं देती लेकिन बिग बी की आवाज का करिश्मा आज भी कायम है. अपने डायलॉग की वजह से अमिताभ ने कई फिल्मों को शानदार सफलता दिलवाई है उसमें ‘कालिया’ (Kaalia) भी शामिल है.

अधिक पढ़ें ...

    अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) की शानदार फिल्मों की लिस्ट में शामिल ‘कालिया’ (Kaalia) 25 दिसंबर 1981 में रिलीज की गई थी. टीनू आनंद (Tinnu Anand) के निर्देशन में बनी इस फिल्म में परवीन बाबी (Parveen Babi), आशा पारेख (Asha Parekh), कादर खान (Kader Khan) और अमजद खान (Amjad Khan) जैसे लीजेंड एक्टर थे. इस फिल्म की कसी हुई पटकथा, शानदार डायरेक्शन के साथ साथ इस फिल्म में अमिताभ बच्चन की एक्टिंग और गजब की डायलॉग डिलेवरी ने सुपरहिट बना दिया था. इस फिल्म के रिलीज हुए 40 बरस हो गए हैं, इस खास मौके पर बताते हैं कि अमिताभ इस फिल्म में काम ही नहीं करना चाहते थे.

    अमिताभ बच्चन से सुपरहिट डायलॉग
    अमिताभ बच्चन की दमदार आवाज, मजबूत डायलॉग डिलेवरी के सभी लोग कायल हैं. सदी के इस महानायक की खूबी जो सन 1981 में थी वही आज भी बरकरार है. इस उम्र तक आते-आते कई लीजेंड एक्टर की आवाज में कशिश खत्म होने लगती है और जुबान साथ नहीं देती लेकिन बिग बी की आवाज का करिश्मा आज भी कायम है. अपने डायलॉग की वजह से अमिताभ ने कई फिल्मों को शानदार सफलता दिलवाई है उसमें ‘कालिया’ भी शामिल है.

    kaalia, amitabh bachchan

    कालिया फिल्म के एक सीन में अमिताभ बच्चन. (फोटो साभार: Movies N Memories/Instagram)

    ‘हम जहां खड़े होते हैं, लाइन वहीं से शुरू होती है’
    ‘कालिया’ फिल्म का एक डायलॉग ‘हम जहां खड़े होते हैं, लाइन वहीं से शुरू होती है’ एक ऐसा डायलॉग है जिसे हम सब गाहे बेगाहे सुनते रहते हैं और टशन के लिए बोलते भी रहते हैं. अमिताभ के इस डायलॉग का जमाना आज 40 साल बाद भी ज्यों का त्यों बरकरार है तो इसके पीछे अमिताभ की सधी हुई आवाज के साथ-साथ कादर खान जैसे हरफनमौला स्क्रिप्ट राइटर का भी कमाल था.कादर खान ने ‘कालिया’ फिल्म में काम भी किया था और एक्टिंग भी की थी. कादर खान एक बेहतरीन एक्टर, शानदार कॉमेडियन के साथ-साथ गजब के स्क्रिप्ट राइटर थे. अमिताभ की फिल्मों के सक्सेस में उनके कलम का भी कमाल शामिल है.

    amitabh bachchan, amjad khan

    कालिया फिल्म 40 पहले रिलीज हुई थी.(फोटो साभार: Movies N Memories/Instagram)

    अमिताभ बच्चन और टीनू आनंद के बीच हुई बहस
    इस फिल्म की कहानी इंदर राज आनंद यानी टीनू आनंद के पिता ने लिखी थी. मीडिया की खबरों के मुताबिक के इस फिल्म के एक डायलॉग को लेकर अमिताभ बच्चन अड़ गए थे. वह बोलने के लिए तैयार नहीं थे इसे लेकर टीनू आनंद और अमिताभ के बीच काफी बहस हुई आखिरकार किसी तरह बिग बी माने और जब फिल्म रिलीज हुई तो फिल्म में बोला गया डायलॉग ‘तू आतिश-ए-दोजख से डराता है जिन्हें, वो आग को पी जाते हैं पानी करके, चला दीजिए गोली’ सुनकर दर्शक सिनेमाघर में भाव विभोर हो उठे थे.

    अमिताभ बच्चन नहीं करना चाहते थे ‘कालिया’
    पहले तो अमिताभ बच्चन ‘कालिया’ फिल्म को करने के लिए तैयार नहीं थे.टीनू आनंद ने भी हार नहीं मानी और जिद पर अड़ गए कि इस फिल्म को करेंगे तो अमिताभ के साथ ही. टीनू करीब 6 महीने बाद फिर अमिताभ के पास गए. अमिताभ ने स्टोरी सुनाने के लिए कहा तो 15 मिनट टीनू उन्हें स्टोरी सुनाते रहे और इसके बाद पूछा कि ‘फिल्म की शूटिंग कब से शुरू करें’. अमिताभ को सोचने का मौका भी नहीं दिया. टीनू की इस अदा से अमिताभ काफी खुश हुए और फिल्म के लिए हामी भर दी और ‘कालिया’ अमिताभ के करियर में मील का पत्थर साबित हुई.

    ये भी पढ़िए-28 Years Of DARR: जूही चावला को दहशत में डालने वाले शाहरुख खान की भूमिका निभाने वाले थे टीवी के हनुमान

    ‘जहां तेरी ये नजर है’ समेत इस फिल्म के सभी गाने भी बहुत पसंद किए गए थे. ‘कालिया’ के गाने मजरूह सुल्तानपुरी ने लिखे थे और संगीत राहुल देव बर्मन ने दिया था.

    Tags: Amitabh bachchan, Kader Khan, Parveen babi, Tinnu Anand

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर