अमिताभ बच्‍चन की नातिन नव्‍या नवेली नंदा ने बताया 'एंजायटी' से जूझने का सफर, लेनी पड़ी थी थेरेपी

अमिताभ बच्‍चन की नातिन नव्‍या नवेली नंदा ने बताया 'एंजायटी' से जूझने का सफर, लेनी पड़ी थी थेरेपी
नव्‍या नवेली नंदा ने मेंटल हेल्‍थ पर खुलकर बात की है. (Photo- @shwetabachchan/Instagram)

अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) की नातिन नव्‍या नवेली नंदा (Navya Naveli Nanda) ने अपने 'एंजायटी' से जूझने और इसके इलाज के लिए थेरपी लेने की बात का खुलासा क‍िया है. नव्‍या का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वह अपने इस स्‍ट्रगल के बारे में बात करती हुई नजर आ रही हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 3, 2020, 1:50 AM IST
  • Share this:
मुंबई. अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) की नातिन नव्‍या नवेली नंदा (Navya Naveli Nanda) ग्रेजुएट होते ही ब‍िजनेसवुमेन बन गई हैं और उन्‍होंने हाल ही में अपनी संस्‍था 'आरा हेल्‍थ' (Aara Health) शुरू की है. उनका ये ऑर्गनाइजेशन मेंटल हेल्‍थ और उससे जुड़ी समस्‍याओं के प्रति जागरूकता फैलाने का काम कर रहा है. इसी बीच नव्‍या नवेली खुद ने अपने 'एंजायटी' से जूझने और इसके इलाज के लिए थेरपी लेने की बात का खुलासा क‍िया है. नव्‍या का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वह अपने इस स्‍ट्रगल के बारे में बात करती हुई नजर आ रही हैं.

'आरा हेल्‍थ' नाम की ये संस्‍था चार लड़कियों ने म‍िलकर शुरू की है, जिनमें से एक नव्‍या हैं. अपनी संस्‍था की बाकी की को-फाउंडरों से बात करते हुए नव्‍या ने कहा, 'शुरुआत में वह थेरपी के ल‍िए जाने की बात करने में उतनी सहज नहीं थीं. उन्‍होंने कहा, 'मेरे ल‍िए ये काफी नया था. मैं इसके बारे में बात करने से पहले खुद इसके बारे में अनुभव करना चाहती थीं. हालांकि मेरे परिवार को पता था क‍ि मैं थेरेपी ले रही हूं लेकिन शायद मेरा कोई भी दोस्‍त नहीं जानता था क‍ि मैं ऐसा कर रही हूं. मुझे नहीं पता क‍ि मैं अभी उन्‍हें बता पाऊंगी या नहीं.'


अपनी बेटी के इस वीडियो पर उनकी मां श्‍वेता बच्‍चन ने 'ब्रावो' कमेंट भी क‍िया है. नव्‍या ने आगे कहा, 'मैं हाल ही में इससे जूझी हूं. जैसा क‍ि तुमने कहा था क‍ि तुम्‍हें महसूस हुआ क‍ि तुम इस परेशानी की सबसे बुरी स्‍थिति में पहुंच चुकी हो, लेकिन मेरे साथ तो ये कई बार हुआ लेकिन मुझे समझ ही नहीं आया क‍ि ऐसा क्‍यों हो रहा है. फ‍िर मुझे लगा, कुछ बदलने की सच में जरूरत है और मुझे अब इसके बारे में बात करनी ही पड़ेगी. अब हफ्ते में एक बार ये मेरे रुटीन में शामिल हो गया है और मुझे नहीं लगता क‍ि मैं उस बुरी स्‍थ‍िति में फ‍िर से कभी पहुंचूंगी, क्‍योंकि अब सब मेरे कंट्रोल में है, मैं क‍िसी से इसके बारे में बात कर रही हूं. यहां तक क‍ि मैं अब उन चीजों को भी समझ गई हूं जो मुझे उस बहुत बुरी हालत में पहुंचा देते थे. मुझे लगता है क‍ि लोगों को काफी लेट समझ आता है क‍ि उन्‍हें सच में मदद की जरूरत है.'




बता दें कि नव्‍या ने फोरडम यूनिवर्सिटी से ड‍िजिटल टेक्‍नोलॉजी में ग्रेजुएशन किया है. हाल ही में उनकी ग्रेजुएशन सेरेमनी उनके मुंबई वाले घर में ही हुई क्‍योंकि वह कोरोना की वजह से अपनी यूनिवर्सिटी वापस नहीं जा सकी थीं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज