होम /न्यूज /मनोरंजन /तेजी बच्चन की सांसे उखड़ रही थीं..डॉक्टर बचाने की कोशिश में जुटे थे, अमिताभ बच्चन को याद आए आखिरी पल!

तेजी बच्चन की सांसे उखड़ रही थीं..डॉक्टर बचाने की कोशिश में जुटे थे, अमिताभ बच्चन को याद आए आखिरी पल!

तेजी बच्चन का निधन 21 दिसंबर 2007 में हुआ था. (फोटो साभार: amitabhbachchan/Instagram)

तेजी बच्चन का निधन 21 दिसंबर 2007 में हुआ था. (फोटो साभार: amitabhbachchan/Instagram)

अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) की मां तेजी बच्चन (Teji Bahchchan) की आज डेथ एनीवर्सरी है. बरसों बाद भी अमिताभ अपनी मां ...अधिक पढ़ें

मुंबई: अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) अपनी मां तेजी बच्चन (Teji Bahchchan) के बहुत करीब थे. पिता हरिवंश राय बच्चन मशहूर कवि थे तो मां भी मनोविज्ञान की प्रोफेसर थींं और सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेती थीं. पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी से भी काफी नजदीकी थीं. अपनी मां की पुण्यतिथि पर अमिताभ ने उन्हें याद करते हुए भावुक हो गए. इस ब्‍लॉग में ब‍िग बी मांं के  आखिरी पलों का जिक्र करते हुए भावुक हो गए. बिग बी के ब्लॉग को पढ़ कोई भी इमोशनल हो जाएगा.

21 दिसंबर 2007 के दिन को याद करते हुए अमिताभ बच्चन ने लिखा ‘वह अपने नेचर की तरह ही शांति से चली गईं. मैंने डॉक्टरों को बार-बार उनके डेलीकेट हार्ट को फिर से जिंदा करने की कोशिश करते हुए देखा. डॉक्टर बार-बार पंप कर रहे थे. हम खड़े थे..अपनों का हाथ थामे हुए..भतीजियों और बच्चों की आंखों में आंसू थे.. तब तक मैंने डॉक्टर से कहा छोड़ दो.. उन्हें छोड़ दो.. वह जाना चाहती हैं.. रूको.. कोई प्रयास मत करो.. हर कोशिश उनके लिए दर्दनाक थी और हमारे लिए वहां खड़े रहना दर्दनाक था.. हर बार सीधी रेखा दिखाई दी.. और फिर फिजिकल पंपिंग ग्राफिक रिस्‍पांस में बदल जाएगी’.

अस्पताल के एक-एक पल अमिताभ को याद हैं
अमिताभ आगे लिखते हैं ‘रोको इसे और उन्होंने ऐसा किया..मॉनीटर पर सीधी रेखा का सिंगुलर टोन..हम सभी को छोड़ कर चली गईं..हाल ही में किसी ने अपने किसी खास के जाने के बारे में बताया था कि..वह एक बेहतर जगह चला गया..ऐसे शब्द हम अक्सर सुनते रहते हैं, किसी ने निधन पर सांत्वना देने के लिए इस्तेमाल किया जाता है. उनके माथे पर एक हाथ..अस्पताल में कमरे के सन्नाटे में लाखों यादें फ्लैश हो रही थी और फिर उन्होंने घर जाने के लिए कहा’.

ये भी पढ़िए-KBC के लास्ट शो में भावुक हुए अमिताभ बच्चन, दिया ‘रिटर्न गिफ्ट’, कहा- Bye फिर से वापस आऊंगा
" isDesktop="true" id="5088095" >
इसके बाद तेजी बच्चन के शव को अमिताभ के घर प्रतीक्षा लाया गया और वहां पूरी रात रखने के बाद अगले दिन अंतिम संस्कार किया गया.

Tags: Amitabh bachchan, Amitabh bachchan blog

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें