Home /News /entertainment /

5 Years of Pink: अमिताभ बच्चन की हां सुनते ही नाचने लगी थी शूजित की पूरी टीम,पढ़िए दिलचस्प किस्सा

5 Years of Pink: अमिताभ बच्चन की हां सुनते ही नाचने लगी थी शूजित की पूरी टीम,पढ़िए दिलचस्प किस्सा

पिंक फिल्म की रिलीज को 5 साल पूरे हो गए.(फोटो साभार: Movies N Memories/Twitter)

पिंक फिल्म की रिलीज को 5 साल पूरे हो गए.(फोटो साभार: Movies N Memories/Twitter)

अनिरुद्ध रॉय चौधरी (Aniruddh Roy Chowdhury) ने बताया कि ‘शूजित (Shoojit Sircar) ने मुझसे कहा कि मिस्टर बच्चन (Amitabh Bachchan) रोल के बारे में सुनना चाहते हैं. रितेश जो फिल्म के राइटर थे, रॉनी,शूजित और मैं अमित जी से मिलने पहुंचे. रोल सुनने के बाद उन्होंने हां कहने में सिर्फ 5 मिनट लगाया.’

अधिक पढ़ें ...
  • News18Hindi
  • Last Updated :

    5 Years Of Pink: आज से 5 बरस पहले एक फिल्म आई थी ‘पिंक’ (Pink), जिसने दर्शकों को असहज कर दिया था लेकिन एक नए अंदाज में महिला सशक्तिकरण की आवाज उठाई थी. 16 सितंबर 2016 को रिलीज हुई ‘पिंक’ में महिलाओं के ना कहने के मौलिक अधिकार  के बारे में  बड़े ही दिलचस्प तरीके से बताया गया. कोलकाता के अनिरुद्ध रॉय चौधरी (Aniruddh Roy Chowdhury) ने इसी फिल्म से बॉलीवुड में डायरेक्शन डेब्यू किया था. इस फिल्म में अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan), तापसी पन्नू (Taapsee Pannu), कीर्ती कुल्हाड़ी (Kirti Kulhari),अंगद बेदी (Angad Bedi), एंड्रिया टारियांग (Andrea Tariang) जैसे एक्टर थें. भले ही फिल्म को रिलीज हुए पांच साल हो गए लेकिन यह फिल्म आज भी अपने दमदार विषय की वजह से दर्शकों के दिलो-दिमाग पर स्ट्राइक करती है.

    अमिताभ बच्चन को इस फिल्म में लेने का किस्सा भी दिलचस्प है. इस बारे में टेलीग्राफ से बात करते हुए फिल्म डायरेक्टर अनिरुद्ध रॉय चौधरी बताते हैं ‘शूजित ने मुझसे कहा कि मिस्टर बच्चन रोल के बारे में सुनना चाहते हैं. रितेश जो फिल्म के राइटर थे, रॉनी,शूजित और मैं उनसे मिलने पहुंचे. शूजित ने उनको रोल के बारे में बताया, मैंने फिल्म की पॉलिटिक्स के बारे में बताया. इसे सुनकर मिस्टर बच्चन ने केवल पांच मिनट ही हां कहने के लिए लिया. हम जब उनके ऑफिस से निकले तो नाचने लगे थे. ये मिस्टर बच्चन की मौजूदगी ही थी जिसकी वजह से नो मीन्स नो की आवाज लाखों लोगों तक पहुंच सकी थी’.

    पिंक फिल्म सामाजिक मुद्दे पर बनीं शानदार फिल्म थी. (फोटो साभार: Movies N Memories/Twitter)

    ‘पिंक’ का डायलॉग ‘नो मीन्स नो’ इस कदर फेमस हुआ कि हर जगह बोला जाने लगा. अनिरुद्ध बताते हैं कि ‘जब फिल्म बना रहें थे तो मुझे और प्रोड्यूसर शूजित सिरकार को ये तो पता था कि फिल्म दर्शकों के दिल को छू लेगी लेकिन कॉमर्शियली भी सफल रहेगी इसका अंदाजा नहीं था. फिल्म मेकिंग भी एक बच्चे के पैदा होने जैसा होता है. आपका बच्चा पैदा होता है तो ये नहीं पता होता है कि वह बड़ा होकर डॉक्टर, इंजीनियर या सचिन तेंदुलकर बनेगा. लेकिन हम जो फिल्म बना रहे थे उसे लेकर बहुत भरोसा था और यह स्क्रीन पर दिखा. फिल्म मेकर के तौर पर हमारी कोशिश एक ऐसी फिल्म बनाने की होती है जो सीधे दर्शकों के दिल तक पहुंचे, कॉमर्शियल सफलता उसी का परिणाम है’.

    पिंक फिल्म तापसी पन्नू के करियर में मील का पत्थर साबित हुआ.(फोटो साभार: Movies N Memories/Twitter)

    अनिरुद्ध फिल्म की कास्टिंग के बारे में बताते हैं ‘जब मैं पहली बार तापसी से मिला तो मुझे तुरंत लग गया कि मीनल अरोड़ा का किरदार इनसे बेहतर कोई निभा नहीं सकता. देखते ही मुझे लगा कि ये तो मीनल है. कास्टिंग डायरेक्टर जोगी ने कीर्ति कुल्हारी का स्क्रीन टेस्ट लिया वह भी कमाल की निकलीं. कुछ ऐसा ही हुआ एंड्रिया टारियांग से मिलने के बाद. शिलांग की रहने वाली एंड्रिया को मैंने पहली बार देखा तो जो किरदार मेरे दिमाग में था वह उसके लिए फिट थीं. एंड्रिया से मेरी मुलाकात बांद्रा के एक कॉफी हाउस में हुई थी. कोर्ट में जो अमिताभ जी के साथ महिला पुलिस अधिकारी बात करती है, वह रोल निभाने वाली जोगी की असिस्टेंट थी. विजय वर्मा, अंगद बेदी हो या तुषार..मुझे इससे बेहतर कास्ट नहीं मिल सकती थी.

    ये भी पढ़िए-THROWBACK: बिग बी और तब्बू में कोई भी मना कर देता तो कभी नहीं बन पाती ‘चीनी कम’

    तापसी पन्नू के एक्टिंग करियर में ‘पिंक’ फिल्म का अहम योगदान है. एक बार मीडिया से बात करते हुए एक्ट्रेस ने बताया था कि ‘मुझसे अक्सर मेरे करियर के टर्निंग प्वाइंट के बारे में पूछा जाता है तो मैं हमेशा ‘पिंक’ का ही नाम लेती हूं. यह एक ऐसी फिल्म है जो मेरे करियर में मील का पत्थर साबित हुई और इसने मेरे करियर को एक दिशा दी’.

    Tags: Amitabh Bachachan, Pink, Taapsee Pannu

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर