Home /News /entertainment /

anushka sharma reacts on bollywood and working mothers rk

अनुष्का शर्मा को पसंद है क्रिएटिव लोगों का साथ, बोलीं- 'मैं इंडस्ट्री में चूहे की दौड़ का हिस्सा...'

(फोटो साभारः Instagram @anushkasharma)

(फोटो साभारः Instagram @anushkasharma)

अनुष्का शर्मा (Anushka Sharma) ने एक इंटरव्यू में फिल्म इंडस्ट्री और कामकाजी माताओं के बारे में प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा कि फिल्म इंडस्ट्री सिर्फ दौड़ने के बारे में है. वह चूहे की इस दौड़ में सबसे अलग हैं. उन्होंने वर्कफोर्स में महिलाओं के बारे में भी बात की.

अधिक पढ़ें ...

अनुष्का शर्मा (Anushka Sharma) ने इन दिनों भारतीय महिला क्रिकेट टीम की पूर्व कप्तान झूलन गोस्वामी की बायोपिक ‘चकदा एक्सप्रेस’ (Chakda Express) की तैयारी में लगी हुई हैं. हाल ही में वह हार्पर बाजार के कवर पेज पर दिखाई दीं और इस मैगजीन को दिए इंटरव्यू में उन्होंने आंतरिक शांति पाने के लिए वर्क-लाइफ में संतुलन बनाने के महत्व के बारे में बात की. उन्होंने कहा कि एक दूसरे से आगे बढ़ने के लिए अंधाधुंध दौड़ में शामिल नहीं हैं. उन्होंने खुलासा किया कि वह एक ऐसे कमरे में रहना पसंद करती हैं जो क्रिएटिव लोगों से भरा हो. अनुष्का ने वर्कफोर्स में महिलाओं के फ्यूचर के बारे में भी बात की.

अनुष्का शर्मा (Anushka Sharma Magazine Covepage)  ने मैगजीन के कवर पेज को अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर शेयर करते हुए लिखा, “मेरी इंडस्ट्री ‘रन, रन, रन’ के बारे में है – यह एक चूहे की दौड़ है, और आपको बस इसका हिस्सा बनना है. लेकिन मैं चूहे की दौड़ में चूहे से कहीं ज्यादा हूं. मैं अपने जीवन को एन्जॉय करना चाहती हूं. मुझे फिल्मों में एक्टिंग करने में मजा आता है.”

Bazaar India

(फोटो साभारः Instagram @bazaarindia)

क्रिएटिव लोगों के बीच रहना पसंद

अनुष्का शर्मा (Anushka Sharma Interview) ने आगे लिखा, “मुझे क्रिएटिव लोगों से भरे कमरे में रहने, आइडिया पर चर्चा करने, एक सीन करने के तरीकों के साथ आने और यह सोचने में मज़ा आता है कि ऑडियंस इस पर कैसे प्रतिक्रिया देगी. यह सब बहुत सुखद है; मैं कभी हार नहीं मानना चाहती.” महिलाओं के लिए वर्क-लाइफ में संतुलन बनाना कठिन होता है? इस पर अनुष्का का मानना ​​है कि लोग एक कामकाजी मां के जीवन और भावनाओं को नहीं समझते हैं.

‘Chakda Xpress’ को लेकर नवर्स थीं अनुष्का शर्मा, बोलीं- ‘बेबी बर्थ के बाद फिजिकल स्ट्रेंथ पर नहीं था यकीन’

महिलाओं के लिए उठाई आवाज

अनुष्का शर्मा (Anushka Sharma On Women) ने इसके लिए पितृसत्तात्मक प्रभुत्व वाले समाज को जिम्मेदार ठहराया. यह बताते हुए कि आज उनके मन में महिलाओं के लिए बहुत अधिक सम्मान है. अनुष्का ने कहा, “अरे, मैं एक महिला हूं; यहां तक कि जब तक मैं मां नहीं बनी, तब तक मैं इसे नहीं समझ पाई. आज मेरे मन में महिलाओं के लिए बहुत अधिक सम्मान और प्यार है, और सिस्टरहुड की काफी मजबूत भावना है. मैंने हमेशा महिलाओं के लिए आवाज उठाई है, लेकिन इस उद्देश्य के लिए प्यार और कंपैसन महसूस करना इसे और ज्यादा पावरफुल बनाता है.”

Tags: Anushka sharma

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर