नेपोटिज्म पर बोले आयुष्मान खुराना- आउटसाइडर होने के नाते दूसरा चांस नहीं मिलता, इसलिए छोड़ दी थीं 5 फिल्में

नेपोटिज्म पर बोले आयुष्मान खुराना- आउटसाइडर होने के नाते दूसरा चांस नहीं मिलता, इसलिए छोड़ दी थीं 5 फिल्में
आयुष्मान खुराना.

बॉलीवुड में सफल डेब्यू के लिए एक्टर आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) ने लगभग आधा दर्जन फिल्में छोड़ दी थीं. उन्होंने कहा कि, 'मुझे पता था कि एक बाहरी व्यक्ति होने के नाते मुझे दूसरा मौका नहीं मिलेगा.'

  • Share this:
बॉलीवुड में स्थापित हो चुके एक्टर आयुष्मान खुराना ( Ayushmann Khurrana) ने फिल्म इंडस्ट्री में भाई-भतीजावाद (Nepotism) के बारे में अपने विचार रखे हैं. आयुष्मान को इस बहस के दौरान 'सबसे सफल' बाहरी लोगों में से एक बताया जा रहा है. हालांकि, बॉलीवुड में एक सफल शुरुआत करने के लिए आयुष्मान ने अपने अभिनय की शुरुआत के लिए लगभग आधा दर्जन फिल्मों को अस्वीकार कर दिया था. उन्होंने कहा कि, 'मुझे पता था कि एक बाहरी व्यक्ति होने के नाते मुझे दूसरा मौका नहीं मिलेगा.'

आयुष्मान ने फिल्म उद्योग में भाई-भतीजावाद की प्रवृत्ति पर कहा कि, 'सफल स्टार किड्स वास्तव में प्रतिभाशाली हैं. उन्हें अपना पहला ब्रेक मिलता है लेकिन फिर उन्हें बॉलीवुड में बने रहने के लिए एक बेंचमार्क तय करना पड़ता है. यदि मैं अपना 50% देता हूं, तो लोग कहते हैं कि मैंने इसे स्वयं किया है. अगर स्टार किड्स में 80% की क्षमता है और अगर वे अपना 100% देते हैं, तो भी लोग संतुष्ट नहीं होते हैं.'

काम मांगने के लिए संपर्क करने में नहीं करते हैं संकोच
एक्टर ने 2012 में फिल्म 'विक्की डोनर' में एक शुक्राणुदाता की भूमिका निभाई थी. उन्होंने न केवल कॉमर्शियल एंटरटेनर के रूप में अपनी सूक्ष्मता साबित की है, बल्कि सामाजिक रूप से प्रासंगिक फिल्मों में दमदार अभिनय करके प्रशंसा भी अर्जित की है. खुराना अभी भी फिल्म निर्माताओं से काम मांगने के लिए संपर्क करने में संकोच नहीं करते हैं. एक मीडिया हाउस के कार्यक्रम में उन्होंने खुलासा किया कि, वे खुद ही फिल्म अंधाधुंन और अनुच्छेद 15 के निर्माताओं से संपर्क करने गए थे क्योंकि उनका मानना है कि, 'काम मांगने में शर्म नहीं करनी चाहिए.'
आयुष्मान, जो एक फेमस एक्टर होने के साथ-साथ एक सफल गायक भी हैं, उन्होंने अपने कॉलेज के दिनों में कई नाटकों में काम किया था और अपने समूह के साथ विभिन्न शहरों में परफॉर्म किया करते थे. एक बार उन्होंने मजाक में कहा था, 'मैं एक प्रशिक्षित गायक हूं क्योंकि मैं ट्रेन में गाता था.' उन्होंने इस घटना पर खुलासा किया था कि कैसे उन्होंने पश्चिम एक्सप्रेस ट्रेन में गीत गाया था और यात्रियों से पैसे पाए थे, जो इतना था कि उनकी गोवा यात्रा के लिए पर्याप्त था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading