होम /न्यूज /मनोरंजन /समाज को झकझोर देगी फिल्म 'बाल नरेन' की कहानी, रिलीज हो गया पोस्टर

समाज को झकझोर देगी फिल्म 'बाल नरेन' की कहानी, रिलीज हो गया पोस्टर

फिल्म में यज्ञ भसीन, बिदिता बाग, रजनीश दुग्गल, गोविंद नामदेव और विंदू दारा सिंह शामिल हैं.

फिल्म में यज्ञ भसीन, बिदिता बाग, रजनीश दुग्गल, गोविंद नामदेव और विंदू दारा सिंह शामिल हैं.

फिल्म 'बाल नरेन' की कहानी लोगों को सफाई के लिए जागरुक करने आ रही है. 14 अक्टूबर को यह फिल्म सिनेमाघरों में रिलीज हो जाए ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

स्वच्छ भारत अभियान से प्रेरित फिल्म बाल नरेन 14 अक्टूबर को सिनेमाघरों में रिलीज होने के लिए तैयार है. निर्देशक पवन नागपाल द्वारा निर्देशित और सोहम रॉकस्टार एंटरटेनमेंट के दीपक मुकुट द्वारा निर्मित, फिल्म में यज्ञ भसीन, बिदिता बाग, रजनीश दुग्गल, गोविंद नामदेव और विंदू दारा सिंह शामिल हैं. फिल्म का पोस्टर रिलीज हुआ है. निर्माता दीपक मुकुट, जिन्होंने धाकड़, मुल्क और कई अन्य प्रशंसित फिल्मों को निर्मित किया है.

दीपक ने इस फिल्म के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि उन्हें बाल नरेन का समर्थन करने के लिए किसने प्रेरित किया है. वह बताते हैं कि बाल नरेन सिर्फ एक फिल्म नहीं बल्कि एक विचार प्रक्रिया है जो समाज को झकझोर कर रख देती है. सोहम रॉकस्टार में हम ऐसी फिल्में बनाने में विश्वास करते हैं जिसमें मजबूत सामाजिक संदेश हो और जो आज हमारे देश में बहुत जरूरी बदलाव लाने की क्षमता रखती हो. हमारे पास हमारे पीएम द्वारा दिया गया एक शानदार स्वच्छ भारत मंत्र है, और हमें इसे आगे बढ़ाने की जरूरत है. हमें इस फिल्म के लिए अपने उद्योग से भी सभी समर्थन की जरूरत है.

हर वर्ग के लिए है फिल्म
इस बारे में बात करते हुए कि क्या फिल्म को सरकार से कोई समर्थन मिला है, दीपक ने कहा कि मुझे लगता है कि अगर सरकार पैड और शौचालय जैसे विषय का समर्थन करती है जो अभी भी समाज के एक विशेष वर्ग को संबोधित कर रहे हैं. हमारी फिल्म हर वर्ग के लिए है. चाहे वह जवान हो, बूढ़ा हो, अमीर हो या गरीब. हर जगह सफाई की जरूरत है और लोगों को जागरूक करने की जरूरत है. इससे पहले, हमने मुल्क, शादी में जरूर आना, फॉरेंसिक जैसी फिल्में बनाई हैं जो सामाजिक रूप से संचालित और समीक्षकों द्वारा प्रशंसित हैं.

सफाई का सामाजिक संदेश देती है फिल्म
निर्देशक पवन नागपाल ने साझा किया कि दर्शकों को इस फिल्म से क्या उम्मीद करनी चाहिए. वे कहते हैं, “फिल्म एक बहुत ही अच्छे सामाजिक संदेश के इर्द-गिर्द घूमती है और इसकी एक सुंदर कहानी है. यह कुछ मधुर गीत, खूबसूरत लोकेशन और एक अच्छे संदेश के साथ पूरी तरह से मनोरंजक फिल्म है.

13 साल के लड़के से ली प्रेरणा
दीपक बताते हैं कि उन्हें इस फिल्म की कहानी के लिए 13 साल के लड़के से प्रेरणा मिली है. इस बारे में साझा करते हुए वे कहते हैं कि मैंने एक 13 साल के लड़के के बारे में एक अफवाह सुनी. जिसने अपने प्रयासों और दृढ़ संकल्प के कारण अपने गांव को कोरोनावायरस का एक भी मामला नहीं होने दिया. इसलिए मैंने एक काल्पनिक कहानी बनाई और इसे मर्ज कर दिया स्वच्छ भारत अभियान के साथ. इसलिए यह एक वास्तविक जीवन के हीरो से प्रेरित है.

Tags: Bollywood news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें