पश्चिम बंगाल सरकार ने प्रदेश में टीवी शोज, वेब सीरीज, फिल्मों की शूटिंग पर लगाई रोक

राज्य में जिन 746 तकनीशियनों की कोरोना वायरस की जांच की गई है, उनमें से 34 संक्रमित पाए गए हैं. (File Photo)

राज्य में जिन 746 तकनीशियनों की कोरोना वायरस की जांच की गई है, उनमें से 34 संक्रमित पाए गए हैं. (File Photo)

पश्चिम बंगाल में भी 16 मई की सुबह 6 बजे से 30 मई तक लॉकडाउन लगा दिया गया है. साथ ही साथ पश्चिम बंगाल सरकार ने टीवी शोज, वेब सीरीज और फिल्मों की शूटिंग पर रविवार से रोक (Shooting Ban in West Bengal) लगा दी है.

  • Share this:

कोलकाता. कोरोना वायरस (Coronavirus) की सेकेंड वेव देश भर में कहर बरपा रही है. वायरस की दूसरी लहर रोज हजारों लोगों की जान ले रही है. इसके कारण देश के अधिकांश राज्यों ने लॉकडाउन लगा रखा है. लॉकडाउन के कारण अर्थव्यवस्था के सभी क्षेत्रों पर नकारात्मक असर पड़ रहा है. लॉकडाउन का सबसे अधिक असर फिल्म इंडस्ट्री पर पड़ रहा है. इसके कारण हजारों लोग बेरोजगार हो गए हैं और उनके सामने रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है.

राज्य सरकार ने कोविड-19 वायरस को फैलने से रोकने के लिए सख्त पाबंदियां लागू की हैं. कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए पश्चिम बंगाल में भी 16 मई की सुबह 6 बजे से 30 मई तक लॉकडाउन लगा दिया गया है. पश्चिम बंगाल सरकार ने टीवी शोज, वेब सीरीज और फिल्मों की शूटिंग पर रविवार से रोक (Shooting Ban in West Bengal) लगा दी है.

‘फेडरेशन ऑफ सिने टेक्नीशियंस एंड वर्कर्स ऑफ ईस्टर्न इंडिया’ के अध्यक्ष स्वरूप बिस्वास ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि राज्य में अभी 36 धारावाहिकों, तीन वेब सीरीज और एक फिल्म की शूटिंग चल रही थी जो रविवार से 30 मई तक के लिए रुक जाएगी.

बिस्वास ने कहा, ‘मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) से हमारा अनुरोध है कि वह देखें कि क्या कुछ ऐसा उपाय निकाला जा सकता है, जिससे इस पेशे में शामिल सैकड़ों लोग बेरोजगार न हो जाएं. बेहतर होगा कि वे कोविड-19 संबंधी सभी सुरक्षा उपायों का पालन करते हुए अपना काम कर सकें.’
राज्य में जिन 746 तकनीशियनों की कोरोना वायरस की जांच की गई है, उनमें से 34 संक्रमित पाए गए हैं. इनमें ज्यादातर मेकअप आर्टिस्ट थे, जो कलाकारों के करीबी संपर्क में आए. उन्होंने कहा, ‘हमने कलाकारों से अपनी कोविड-19 संबंधी जांच कराने का अनुरोध किया है जिससे फेडरेशन को शूटिंग वाला क्षेत्र कोविड-19 फ्री जोन बनाने में मदद मिलेगी.’

(भाषा के इनपुट के साथ)

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज