लाइव टीवी

BHU Protests: मुस्लिम प्रोफेसर की नियुक्ति के विरोध पर भड़के परेश रावल

News18India
Updated: November 20, 2019, 3:48 PM IST
BHU Protests: मुस्लिम प्रोफेसर की नियुक्ति के विरोध पर भड़के परेश रावल
बीएचयू में मुस्लिम प्रोफेसर की न‍ियुक्ति का व‍िरोध हो रहा है.

परेश रावल (Paresh Rawal) ने बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी (बीएचयू) ( Banaras Hindu University (BHU)) में चल रहे विरोध पर दिग्‍गज गायक मोहम्‍मद रफी और संगीतकार नौशाद का नाम लेते हुए अपना तर्क रखा है.

  • News18India
  • Last Updated: November 20, 2019, 3:48 PM IST
  • Share this:
वाराणसी. बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी (बीएचयू) ( Banaras Hindu University (BHU)) द्वारा संस्कृत विभाग में मुस्लिम प्राध्यापक की नियुक्ति पर स्‍टूडेंट्स का विरोध चल रहा है. इस मामले पर अब बीजेपी एमपी और एक्‍टर परेश रावल ने फिल्‍मों का उदाहरण देते हुए मुस्लिम प्रोफेसर (Muslim professor) फिरोज खान (Firoz Khan) की नियुक्ति का सपोर्ट किया है. परेश रावल (Paresh Rawal) ने दिग्‍गज गायक मोहम्‍मद रफी और संगीतकार नौशाद  हुए अपना तर्क रखा है.

बता दें कि बीएचयू में संस्‍कृत विद्या धर्म विज्ञान विभाग ने एक मुस्लिम संस्‍कृत स्‍कॉलर की नियुक्ति प्रोफेसर के तौर पर की है.

इस मामले पर परेश रावन ने ट्वीट करते हुए कहा, 'प्रोफेसर फिरोज खान के विरोध में हो रहे विरोध को देखकर स्‍तब्‍ध हूं. भाषा का धर्म से क्‍या लेना-देना है. विडंबना ये है कि प्रोफेसर फिरोज संस्‍कृत में अपनी मास्‍टर्स और पीएचडी कर चुके हैं. ईश्‍वर के लिए इस बेवकूफी को बंद करें.' वहीं अपने एक और ट्वीट में परेश रावल ने लिखा, 'इसी तर्क के आधार पर महान सिंगर मोहम्‍मद रफी (Mohammad Rafi) जी को कोई भजन नहीं गाने चाहिए और न ही नौशाद साहब (Naushad Saab) को वो कंपोज करने चाहिए थे.'

 


Loading...



 



बता दें कि बुधवार को बीएचयू ने संस्कृत विभाग में मुस्लिम प्राध्यापक की नियुक्ति का शुक्रवार को बचाव किया और कहा कि वह धर्म, जाति, समुदाय अथवा लैंगिक भेदभाव किए बिना हर व्यक्ति को समान अवसर उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है. बीएचयू का यह स्पष्टीकरण तब आया जब आरएसएस की छात्र शाखा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) ने संस्कृत साहित्य विभाग में फिरोज खान का सहायक प्राध्यापक पद पर नियुक्ति का विरोध किया. अपने इस बयान में प्रशासन ने स्‍पष्‍ट किया है कि चयन समिति ने विश्वविद्यालय अनुदान आयोग और केन्द्र सरकार द्वारा निर्धारित दिशानिर्देशों के अनुसार सर्वसम्मति से उक्त उम्मीदवार के चयन की अनुशंसा की है.

यह भी पढ़ें: Tanhaji Trailer: सैफ अली खान पर भारी पड़ गया बेटे तैमूर का स्‍टारडम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बॉलीवुड से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 20, 2019, 3:37 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...