B'day: संजय सूरी ने झेला है आतंक का दंश, एक्टिंग में फ्लॉप होने के बाद बन गए फिल्म निर्माता

संजय सूरी को जन्मदिन की बधाई.
(फोटो साभार :sanjaysuri
/instagram)

संजय सूरी को जन्मदिन की बधाई. (फोटो साभार :sanjaysuri /instagram)

मॉडल के तौर पर अपने करियर की शुरुआत करने वाले संजय सूरी (Sanjay Suri) ने बतौर एक्टर हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में 1999 में फिल्म ‘प्यार में कभी कभी’ (Pyaar Mein Kabhi Kabhi) से डेब्यू किया था. संजय आज अपना जन्मदिन मना रहे हैं.

  • Share this:

मुंबई: संजय सूरी (Sanjay Suri) का जन्म 6 अप्रैल 1971 को कश्मीर (Kashmir) के फूलों की घाटी में हुआ था. श्रीनगर की वादियों में अपना बचपन बिताने वाले इस एक्टर ने घाटी के आतंक को करीब से महसूस किया है. इनके पिता की मृत्यु एक आंतकी हमले (Terror Attack) में हो गई थी. पिता की मौत के बाद लंबे समय तक संजय को रिफ्यूजी कैम्प में रहना पड़ा था. संजय सूरी ने करियर की शुरुआत मॉडलिंग से की थी, मॉडल के तौर पर इनका करियर बेहद सफल रहा था.

मॉडलिंग के बाद संजय सूरी ने फिल्मों में किस्मत आजमाई. इनकी पहली फिल्म ‘प्यार में कभी-कभी’ थी,जिसमें सुपर स्टार राजेश खन्ना की बेटी रिंकी खन्ना और बॉलीवुड एक्टर डिनो मरिया के साथ काम किया. संजय की पहली फिल्म फ्लॉप साबित हुई थी, लेकिन संजय सूरी ने अपनी अदाकारी से दर्शकों और आलोचकों का ध्यान अपनी ओर खींचने में कामयाब रहे थे. उसके बाद वह ‘दामन’, ‘फिलहाल’, ‘दिल विल प्यार व्यार’ जैसी फिल्मों में काम किया.

2003 में संजय सूरी फिल्म ‘पिंजर’ में उर्मिला मांतोडकर के अपोजिट दिखाई दिए, लेकिन उर्मिला के आगे दर्शकों ने उन्हें नोटिस ही नहीं किया. इसके बाद वह फिल्म ‘झंकार बीट्स’ में जूही चावला के साथ काम किया. इस जोड़ी को दर्शकों ने बेहद प्यार दिया. इस फिल्म के बाद उनकी फिल्में लगातार फ्लॉप होने लगी जिसकी वजह से उन्हें काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा. 2005 में संजय फिर जूही चावला के साथ फिल्म ‘माय ब्रदर निखिल’ में दिखाई दिए. इस फिल्म में उन्होंने अपनी शानदार एक्टिंग से दर्शकों और क्रिटिक्स का दिल जीत लिया.

फिल्मों में कोई खास सफलता नहीं मिलने के बाद संजय सूरी फिल्म निर्माता की भूमिका में उतर आए. एक निर्देशक और निर्माता के रुप में उनका करियर ठीक-ठाक चल रहा है. उन्होंने फिल्म ‘आई एम’ का निर्माण किया. इस फिल्म में चार कहानियों को फिल्माया गया था. संजय की इस फिल्म को नेशनल फिल्म अवार्ड फॉर बेस्ट फीचर फिल्म की कैटेगरी में सम्मानित किया गया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज