होम /न्यूज /मनोरंजन /Tinnu Anand B’day: टीनू ने अमिताभ बच्चन को बनाया ‘शहंशाह’, एक्टर को ध्यान मे रखकर इंदर राज ने लिखे थे डायलॉग

Tinnu Anand B’day: टीनू ने अमिताभ बच्चन को बनाया ‘शहंशाह’, एक्टर को ध्यान मे रखकर इंदर राज ने लिखे थे डायलॉग

टीनू आनंद को जन्मदिन की बधाई. (फोटो साभार: 
Film History Pics/twitter)

टीनू आनंद को जन्मदिन की बधाई. (फोटो साभार: Film History Pics/twitter)

Tinnu Anand B’day: एक्टर-डायरेक्टर-प्रोड्यूसर-राइटर टीनू आनंद (Tinnu Anand) आज अपना 77वां जन्मदिन मना रहे हैं. टीनू ने ...अधिक पढ़ें

Tinnu Anand B’day: टीनू आनंद (Tinnu Anand) और अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan)  का कुछ खास नाता है. दोनों की पहली फिल्म से लेकर कई हिट फिल्मों तक के साथ के कई मजेदार किस्से हैं. अमिताभ 11 अक्टूबर को जन्मदिन मनाते हैं तो टीनू  12 अक्टूबर को, 1945 में जन्में टीनू एक एक्टर और फिल्म डायरेक्टर, प्रोड्यूसर हैं, लेखनी तो उन्हें विरासत में मिली है. टीनू का असली नाम विरेंदर राज आनंद (Virender Raj Anand) हैं.  टीनू के पिता प्रसिद्ध फिल्म राइटर इंदर राज आनंद (Inder Raj Anand) हैं. मजे की बात है कि खुद इंडस्ट्री का हिस्सा रहते हुए इंदर राज कभी नहीं चाहते थे कि बेटा टीनू फिल्म इंडस्ट्री का हिस्सा बने, जबकि टीनू बड़े ही इस ख्वाब के साथ हुए कि उन्हें फिल्मों में ही काम करना है. टीनू ने अजमेर के फेमस मायो कॉलेज से पढ़ाई की है. टीनू और अमिताभ बच्चन का एक्टिंग करियर एक साथ शुरू होते-होते रह गया. अमिताभ की पहली फिल्म ‘सात हिंदुस्तानी’ में पहले टीनू ही कास्ट किए गए थे लेकिन किसी वजह से फिल्म नहीं कर सकें तो अमिताभ को लीड रोल मिल गया था. उसी टीनू ने अमिताभ को ‘शहंशाह’ बनाया.

इंदर राज आनंद ने काफी कोशिश की टीनू फिल्म इंडस्ट्री का हिस्सा ना बनें, लेकिन जब टीनू नहीं माने तो बकायदा सत्यजीत रे के पास भेजकर एक्टिंग से लेकर फिल्म मेकिंग के गुर सिखाए थे. दरअसल, अमिताभ बच्चन की पहली फिल्म ‘सात हिंदुस्तानी’ में पहले टीनू आनंद को कास्ट कर लिया गया था, लेकिन इसी बीच इंदर राज को सत्यजीत रे का लेटर मिला, जिसमें ये लिखा था कि टीनू मेरे साथ काम कर सकता है. इस लेटर के मिलने के बाद टीनू फिल्म छोड़ कोलकाता रवाना हो गए और उन दिनों शिद्दत से  अमिताभ फिल्म में काम की तलाश में जुटे थे, उन्हें ये फिल्म मिल गई. टीनू ने पूरे 5 साल सत्यजीत रे के साथ असिस्टेंट डायरेक्टर के तौर पर काम किया. बाद में कई फिल्मों में एक्टिंग किया और कई फिल्में बनाई. विलेन के रोल में टीनू सबसे अधिक पसंद किए गए.

" isDesktop="true" id="4728321" >

‘कालिया’ के लिए टीनू ने अमिताभ को जबरन मनाया था
अमिताभ बच्चन ने टीनू आनंद के निर्देशन में कई फिल्मों में काम किया था. टीनू आनंद ने अमिताभ के साथ ‘कालिया’ , ‘शहंशाह’, ‘मेजर साब’, ‘मैं आजाद हूं’ जैसी फिल्में बनाई. एक मजेदार किस्सा  ‘कालिया’  को लेकर है. अमिताभ बच्चन को टीनू ‘कालिया’ की कहानी सुनाना चाहते थे.  चूंकि अमिताभ उस वक्त फिल्म इंडस्ट्री के पॉपुलर एक्टर थे और फिल्म ‘डॉन’ की शूटिंग कर रहे थे. समय की कमी की वजह से अमिताभ ने टीनू को वक्त देने से मना कर दिया. टीनू ने हार नहीं मानी और जिद पर अड़ गए कि इस फिल्म बनाएंगे तो अमिताभ के साथ ही.

‘कालिया’ की सफलता अमिताभ के लिए बनी मील का पत्थर
टीनू करीब 6 महीने बाद फिर अमिताभ के पास गए. अमिताभ ने स्टोरी सुनाने के लिए कहा तो 15 मिनट टीनू उन्हें स्टोरी सुनाते रहे और इसके बाद पूछा कि ‘फिल्म की शूटिंग कब से शुरू करें’. अमिताभ को सोचने का मौका भी नहीं दिया. सब जानते है ‘कालिया’ फिल्म अमिताभ के करियर में मील का पत्थर साबित हुई.

amitabh post shahesnshah

(फोटो साभार:Moses Sapir/Twitter)

ये भी पढ़िए-अमिताभ बच्चन का फिल्म मैगजीन के लिए करवाया गया पहला फोटोशूट देखिए, शर्माते हुए मुश्किल से हुए थे राजी

‘शहंशाह’ के डायलॉग अमिताभ के लिए इंदर राज ने लिखे थे
टीनू आनंद और अमिताभ के लेकर कई किस्से हैं. टीनू अमिताभ को एक शानदार कलाकार मानते हैं. मीडिया को दिए एक इंटरव्यू में टीनू ने बताया था कि ‘शहंशाह’  फिल्म के डायलॉग मेरे पिता इंदर राज आनंद ने लिखे थे और अमिताभ की शख्सियत से वह इतने प्रभावित थे कि मुझसे कहा था कि बॉलीवुड में ऐसा कोई हीरो नहीं है जो पर्दे पर ये कह सके कि ‘रिश्ते में तो हम तुम्हारे बाप लगते हैं, नाम है शहंशाह’.

Tags: Amitabh bachchan, Bollywood Birthday, Entertainment Special, Tinnu Anand

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें