तांडव विवाद: बीजेपी व‍िधायक राम कदम ने कहा- सैफ अली खान, हम आ रहे हैं आपके घर, स्‍वागत करना

तांडव वेब सीरीज का एक सीन.

बीजेपी व‍िधायक राम कदम (Ramkadam) ने तांडव (Tandav) वेब सीरीज पर व‍िरोध जताते हुए ल‍िखा, 'सभी देशवासी तथा रामभक्तों और शिव भक्तों चलो चलो सैफ अली खान (Ssif Ali Khan) के निवास पर!'. उन्‍होंने अपने ट्वीट में सैफ से कई सवाल क‍िए हैं.

  • Share this:
    बीजेपी व‍िधायक राम कदम (Ramkadam) ने तांडव (Tandav) वेब सीरीज पर व‍िरोध जताते हुए राम भ‍क्‍तों और श‍िव भक्‍तों से एक्‍टर सैफ अली खान (Saif Ali Khan) के घर के बाहर इकट्ठा होने की अपील कर दी है. राम कदम ने ट्व‍िटर पर ल‍िखा, सभी देशवासी तथा रामभक्तों और शिव भक्तों चलो चलो सैफ अली खान के निवास पर!'. उन्‍होंने आगे ट्वीट में ल‍िखा, 'सैफ अली खानजी वेब सिरीज़ 'तांडव' की स्क्रिप्ट सुनते वक़्त वेब सीरीज में देवी देवताओं, हिन्दू धर्म का अपमान जनक शब्दों व दृश्यों का हिस्सा भी आपके सामने आया. तब आपने खामोशी क्यों रखी? क्यों नही निर्माताओ को रोका? क्या आप का भी सीरीज में दिखाए गए अपमान जनक दृश्यों, डायलॉग को समर्थन था? यदि विरोध था तो आपने समाज बाटने वाले लोगो के साथ काम क्यों किया?'

    कदम ने आगे अपने ट्वीट में ल‍िखा, 'सैफ अली खान आप प्रतिभाशाली और देश के सम्मानित कलाकार हो. पर आपके अतीत में दिए कई बयान हमें इन सवालों को पूछने के लिए मजबूर करते हैं. आपको इन सवालों का जवाब तत्काल देना होगा. अब आपके निवास पर आकर इन सवालों पूछना हमारी मजबूरी है. देश को जवाब दीजिए या हमारे स्वागत के लिए तैयार रहिए. #tandavwebseries #boycttamazonproducts









    आपको बता दें कि तांडव वेब सीरीज पर जमकर व‍िवाद छ‍िड़ा हुआ है. इस व‍िवाद के बाद मेकर्स लोगों की संवेदनाओं को ठेस पहुंचाने के लिए माफी मांग चुके हैं.

    सैफ अली खान, डिंपल कपाड़िया और मोहम्मद जीशान अय्यूब अभिनीत ‘तांडव’ का प्रसारण पिछले सप्ताह शुरू हुआ लेकिन इसमें हिंदू देवी देवताओं के चित्रण को लेकर विवाद शुरू हो गया. इसमें विवाद के केंद्र में एक दृश्य है जिसमें कॉलेज छात्र शिवा का किरदार अदा कर रहे अय्यूब को एक मंच पर भगवान महादेव का चित्रण करते हुए दिखाया गया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.