पीएम नरेंद्र मोदी के आशिक हैं ये बीजेपी सांसद, सनी देओल और हेमा मालिनी को पछाड़ा

बॉलीवुड के जाने-माने सेलेब्रिटी खुद को पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) का आशिक बताते हैं. खास बात ये है कि अब वो बीजेपी सांसद (BJP MP) बन चुके हैं और वोटों के मामले में सनी देओल (Sunny Deol), हेमा मालिनी (Hema Malini) को भी पछाड़ चुके हैं.

News18Hindi
Updated: May 24, 2019, 4:28 PM IST
पीएम नरेंद्र मोदी के आशिक हैं ये बीजेपी सांसद, सनी देओल और हेमा मालिनी को पछाड़ा
पीएम नरेंद्र मोदी के साथ सिंगर और बीजेपी सांसद हंस राज हंस
News18Hindi
Updated: May 24, 2019, 4:28 PM IST
23 मई को लोकसभा चुनाव के लिए लगभग सभी सीटों के परिणाम आ गए हैं. इस चुनाव में बीजेपी और नरेंद्र मोदी को बड़ी जीत हासिल हुई है. बीजेपी के कई स्टार उम्मीदवार भी अपनी-अपनी सीटों पर जीत हासिल कर चुके हैं. जिनमें बॉलीवुड सितारे सनी देओल और हेमा मालिनी भी शामिल हैं. इन दोनों के अलावा एक और ऐसे स्टार जीते हैं जिन्हें अपनी जीत की उम्मीद तक नहीं थी. ये बात उन्होंने अपने इंटरव्यू के दौरान कबूल की है. खास बात ये भी है कि इन्होंने ऐसी जीत हासिल की है कि सारे स्टार उम्मीदवारों को पछाड़ दिया है.

बता दें कि इस बार राजनीतिक पार्टियों ने देश की अलग-अलग सीटों पर फिल्मी सितारों को भी उतारा था. सनी देओल, हेमा मालिनी और जया प्रदा, रवि किशन जैसे बॉलीवुड सुपरस्टार तो थे ही कई जाने माने सिंगर भी थे. इन्हीं में से एक थे हंस राज हंस, जिन्हें भारतीय जनता पार्टी ने नॉर्थ वेस्ट दिल्ली से अपना उम्मीदवार बनाया था. उन्हें भी इस चुनावों में जीत मिली है लेकिन खास बात ये है कि उन्होंने सुपरस्टार सनी देओल और हेमा मालिनी को भी पछाड़ दिया है.





सूफी सिंगर हंस राज हंस ने सबसे ज्यादा मतों से जीत हासिल की है. हंस राज हंस ने आम आदमी पार्टी की उम्मीदवार को 5 लाख 53 हजार 897 मतों के अंतर से हराया. वहीं हेमा मालिनी ने 2 लाख 93 हजार 471 मतों से जबकि सनी देओल ने 82 हजार 459 मतों से जीत हासिल की है. इतनी बड़ी जीत की उम्मीद खुद हंस को भी नहीं थी.

उन्होंने ये बात एक न्यूज पोर्टल को दिए इंटरव्यू में कबूल की है. उन्होंने इस इंटरव्यू के दौरान खुद को पीएम नरेंद्र मोदी का 'आशिक' कहा और ये भी माना कि इतनी बड़ी जीत की उम्मीद उन्हें नहीं थी. हंस के राजनीतिक सफर की बात करें तो उनकी ये जर्नी साल 2009 में शुरू हुई थी. इसी साल में उन्होंने पंजाब में शिरोमणि अकाली दल जॉइन कर लिया था. वो जालंधर से चुनाव भी लड़े थे.



हंस ने अकाली से 2014 में इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद 2016 में उन्होंने कांग्रेस ज्वाइन कर ली, हालांकि 10 महीनों बाद ही हंस ने कांग्रेस छोड़ दी थी. 3 सालों बाद 2019 में वो बीजेपी में शामिल हो गए और जिसके बाद उन्होंने बड़ी जीत हासिल की.
Loading...

ये भी पढ़ें- ऐसा क्या हुआ जो सुपर डांसर 3 के सेट पर रो पड़ीं रेखा?

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...