B’day : अनुपम खेर बनते-बनते रह गए थे ‘मिस्टर इंडिया’ के मोगैम्बो, ‘कर्मा’ के Dr. डैंग की कहानी है मजेदार

अनुपम खेर को जन्मदिन की बधाई. (फोटो साभार : anupampkher/Instagram)

अनुपम खेर को जन्मदिन की बधाई. (फोटो साभार : anupampkher/Instagram)

 हिंदी फिल्मों के मशहूर एक्टर अनुपम खेर (Anupam Kher) आज अपना 66वां जन्मदिन मना रहे हैं. बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड तक अपने अभिनय का सिक्का जमा चुके अनुपम को स्कूल ऑफ एक्टिंग (School Of Acting) भी कहा जाता है.

  • Share this:
मुंबई : बॉलीवुड के बेहतरीन एक्टर अनुपम खेर (Anupam Kher) का जन्म 7 मार्च 1955 को शिमला में हुआ था. कश्मीरी पंडित परिवार में पैदा हुए अनुपम  की स्कूलिंग शिमला  से हुई इसके बाद दिल्ली के नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा (National School Of Drama) से ग्रेजुएशन किया. अनुपम खेर ने एक्टिंग करियर थियेटर से शुरू किया. फिल्म 'आगमन' से बॉलीवुड में कदम रखने वाले अनुपम खेर  अपनी दमदार एक्टिंग से लंबे समय से दर्शकों का मनोरंजन कर रहे हैं.  बॉलीवुड को कई हिट फिल्‍में देने वाले अनुपम ने गंभीर से लेकर हास्‍य किरदारों को बखूबी निभाया है.

विलेन की भूमिका में भी अनुपम बेहद पसंद किए गए हैं. सुपर हिट फिल्म ‘मिस्टर इंडिया’ के मोगैम्बो किरदार के लिए पहले अनुपम खेर को ही एप्रोच किया गया था. मीडिया से बात करते हुए एक इंटरव्यू में अनुपम खेर ने बताया था कि ‘शेखर कपूर के डायरेक्शन में बनी फिल्म 'मिस्टर इंडिया' में मोगैम्बो के किरदार के लिए वह पहली पसंद थे. अमरीश पुरी से पहले मुझे ऑफर किया गया था, लेकिन बाद में फिल्म निर्माताओं ने मेरी जगह अमरीश पुरी को ले लिया.

अनुपम को बुरा तो लगा था, लेकिन उनका कहना था कि- 'जब मैंने फिल्म देखी तो मुझे एहसास हुआ कि अमरीश पुरी जी की तरह इस किरदार को मैं नहीं निभा सकता था’. हांलाकि खलनायक के रूप में भी अनुपम ने अपनी अमिट छाप छोड़ी है. फिल्‍म ‘कर्मा’ में  ‘डॉक्टर डैंग’ को लोग आज भी याद करते हैं.
View this post on Instagram

A post shared by Anupam Kher (@anupampkher)






अनुपम खेर की पर्सनल लाइफ में काफी उतार चढ़ाव रहा है. अनुपम पहले से ही शादीशुदा थे लेकिन एक्टिंग के दौरान किरण खेर को अपना दिल दे बैठे. हांलाकि किरण खेर भी पहले से शादीशुदा थीं बावजूद इसके दोनों ने अपने अपने पार्टनर से अलग होकर शादी कर ली. अनुपम खेर लकवे के भी शिकार हो चुके हैं. लेकिन इस एक्टर के जुनून की तारीफ करनी चाहिए कि बीमारी के बावजूद अपनी हिम्मत बनाए रखी और फिल्मों में काम करते रहे.

सैकड़ों फिल्मों में काम कर चुके अनुपम खेर ने साल 1982 में फिल्‍म 'आगमन' से बॉलीवुड में डेब्‍यू किया था. इसके बाद 1984 में वे फिल्‍म 'सारांश' में नजर आये थे. इस फिल्‍म के अनुपम को बेस्ट एक्टर अवार्ड मिला था. उन्‍हें फिल्‍म 'डैडी' और 'मैंने गांधी को न‍हीं मारा' के लिए राष्‍ट्रीय फिल्‍म पुरस्‍कार भी मिल चुका है. अनुपम खेर को पद्मश्री से भी सम्‍मानित किया जा चुका है. वर्कफ्रंट की बात करे तो अनुपम  हाल ही में ‘द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ में नजर आए थे. ‘द कश्मीर फाइल’ इनकी अगली फिल्म है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज