लाइव टीवी

इतिहास को धर्म के चश्मे से देखना खतरनाक, भारत इन सबसे ऊपर है: कबीर खान

News18Hindi
Updated: January 23, 2020, 8:09 PM IST
इतिहास को धर्म के चश्मे से देखना खतरनाक, भारत इन सबसे ऊपर है: कबीर खान
कबीर खान ने दी प्रतिक्रिया.

'बजरंगी भाईजान' और 'एक था टाइगर' जैसी सुपरहिट फिल्मों के निर्देशक कबीर खान (Kabir Khan) ने कहा कि उन्हें खुशी है कि एक फिल्मकार के रूप में उनके पास धार्मिक आधार पर फैली इन त्रूटिपूर्ण सोच का प्रतिवाद करने के लिए मंच है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 23, 2020, 8:09 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. खुद को आशावादी मानने वाले बॉलीवुड के लोकप्रिय फिल्म निर्देशक कबीर खान (Kabir Khan) का कहना है कि इन दिनों हर बात को धर्म के चश्मे से देखा जा रहा है लेकिन भारत इन सब बातों से कहीं उपर है. 'बजरंगी भाईजान' और 'एक था टाइगर' जैसी सुपरहिट फिल्मों के निर्देशक कबीर कहते हैं कि उन्हें खुशी है कि एक फिल्मकार के रूप में उनके पास धार्मिक आधार पर फैली इन त्रूटिपूर्ण सोच का प्रतिवाद करने के लिए मंच है.

कबीर खान ने कहा, 'मैं लोगों की अच्छाई में विश्वास करने वाला एक आशावादी व्यक्ति हूं. लेकिन उसकी भी एक सीमा है. आजकल हर चीज को धर्म के चश्मे से देखा जा रहा है लेकिन भारत इन सब बातों से उपर है.'

देश में हो रहा है सीएए का विरोध. PIC- twitter


कबीर खान ने समाचार एजेंसी पीटीआई भाषा से कहा, 'यह बहुत अजीब है लेकिन जब मैं बड़ा हो रहा था तो मुझे मेरे धर्म के बारे में पता नहीं था. यह इस देश की महानता है.' उन्होंने कहा कि उनकी मां हिंदू और उनके पिता मुसलमान हैं और ऐसे घर में पैदा होने के बाद उन्हें इस सामाजिक ताने-बाने को देखकर बहुत दुख होता है.

कबीर खान ने कहा, 'मैनें भारतीय धर्मनिरपेक्षता के सबसे बेहतरीन पहलू को देखा है. लेकिन इस देश की महानता के धर्म के आधार पर टुकड़े होता देखना बहुत ही दुखी करने वाला अनुभव है. कबीर ने कहा कि इतिहास को धर्म के चश्मे से देखना खतरनाक है.

बता दें कि नागरिकता संशोधन कानून (CAA) पर बॉलीवुड के सितारे अलग-अलग विचार रख रहे हैं. कुछ इसका समर्थन कर रहे हैं तो कुछ इसके विरोध में लोगों के साथ प्रदर्शन में उतर रहे हैं. हाल ही में कंगना रनौत ने भी इस संबंध में बोला है. उन्‍होंने कहा था कि जेएनयू जाना दीपिका पादुकोण और उनकी टीम का फैसला था, लेकिन अगर मैं दीपिका की जगह होती तो कभी उस टुकड़े-टुकड़े गैंग के साथ खड़ी नहीं होती जो देश विरोधी हो और देश के टुकड़े करने की बात करे.

कंगना रनौत और सैफ अली खान ने भी दिया था बयान. PIC- twitter
वहीं हाल ही में फिल्‍म तान्‍हाजी के एक्‍टर सैफ अली खान ने कहा था कि इस फिल्‍म में इतिहास को तोड़ मरोड़कर पेश किया गया है. इसे लेकर उन्‍हें अफसोस रहेगा. देश के मौजूदा हालात पर उन्‍होंने कहा था कि फिलहाल देश में जो माहौल है, उसे देखकर दुख होता है.
(इनपुट एजेंसी से भी)

यह भी पढ़ें: स्‍वराज कौशल बोले- नसीरुद्दीन शाह, तुम्‍हारे शब्‍द मन की मर्यादा पार कर चुके

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बॉलीवुड से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 23, 2020, 8:09 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर