Drugs Case: दीपिका पादुकोण की पूर्व मैनेजर करिश्मा प्रकाश की बेल पेटिशन पर सुनवाई टली

अपनी मैनेजर करिश्मा प्रकाश के साथ दीपिका पादुकोण.
अपनी मैनेजर करिश्मा प्रकाश के साथ दीपिका पादुकोण.

मुंबई की एक स्थानीय अदालत ने करिश्मा प्रकाश (Karishma Prakash) की बॉलीवुड ड्रग्स केस (Bollywood Drugs Case) में अग्रिम जमानत याचिका (Bollywood Drugs Case) पर अगली सुनवाई 10 नवंबर को तक के लिए स्थगित कर दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 7, 2020, 9:09 PM IST
  • Share this:
मुंबई. एक स्थानीय अदालत ने करिश्मा प्रकाश (Karishma Prakash) की बॉलीवुड ड्रग्स केस (Bollywood Drugs Case) में अग्रिम जमानत याचिका (Bollywood Drugs Case) पर अगली सुनवाई 10 नवंबर को तक के लिए स्थगित कर दी है. करिश्मा प्रकाश बॉलीवुड एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण (Deepika Padukone) की मैनेजर थीं.

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस से जुड़े ड्रग्स मामले की जांच कड़ाई से कर रही है. इस केस में ड्रग्स तस्करों और बॉलीवुड हस्तियों के बीच कथित गठजोड़ की जांच की जा रही है. इसी बॉलीवुड ड्रग्स मामले (Bollywood Drugs Case) में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने दीपिका पादुकोण (Deepika Padukone) की पूर्व मैनेजर करिश्मा प्रकाश को पूछताछ के लिए दो बार समन भेजा था, लेकिन वे पूछताछ के लिए ऑफिस नहीं आईं. करिश्मा प्रकाश इस पूछताछ से बचने के लिए अंतरिम जमानत हासिल करने कोर्ट की शरण में चली गई थीं. 4 नवंबर को वह पूछताछ के लिए एनसीबी के ऑफिस गई थीं.

इस मामले की जांच कर रहे नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने पिछली सुनवाई के दौरान अदालत को बताया था कि वह अभी प्रकाश के खिलाफ कोई 'सख्त' कार्रवाई (जैसे गिरफ्तारी) नहीं करेगा. विशेष लोक अभियोजक अतुल सर्पांडे ने कहा कि एनसीबी का आश्वासन जारी रहेगा लेकिन प्रकाश को जांच में सहयोग करना होगा.



एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत से संबंधित ड्रग्स मामले की जांच कर रहे एनसीबी ने सितंबर में प्रकाश से पूछताछ की थी और पिछले महीने फिर से उन्हें पूछताछ के लिए तलब किया गया था. इस मामले में गिरफ्तारी के डर के चलते प्रकाश ने विशेष ‘एनडीपीएस’ अदालत के समक्ष अग्रिम जमानत याचिका दायर की थी. पिछली सुनवाई में प्रकाश के वकील ने कहा था कि वह जांच में सहयोग करेंगी और एनसीबी के समक्ष पेश होंगी.
इससे पहले NCB ने करिश्मा प्रकाश को समन जारी कर 27 अक्टूबर को  पूछताछ के लिए पेश होने को कहा था, लेकिन वे नहीं आईं थीं. इसके बाद केंद्रीय एजेंसी की पूछताछ और जांच में सहयोग करने के लिए करिश्मा प्रकाश 4 नवंबर को NCB ऑफिस पहुंची हैं. एनसीबी के सूत्रों के मुताबिक, करिश्मा प्रकाश के आवास पर अक्टूबर के अंत में छापेमारी के दौरान केंद्रीय एजेंसी ने 1.7 ग्राम हशीश जब्त की, जिसके बाद उन्हें समन भेजा गया था. उसके बाद से ड्रग्स कंट्रोल एजेंसी ने उन्हें कई बार समन किया कि वे जांच में शामिल हों और अपना बयान दर्ज कराएं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज