अपना शहर चुनें

States

नाम था 'प्रेम' लेकिन नफरत करते थे लोग, कुछ ऐसी है बॉलीवुड के इस विलेन की कहानी

 प्रेम चोपड़ा की फाइल फोटो
प्रेम चोपड़ा की फाइल फोटो

83 साल के हो गए हैं बॉलीवुड के मशहूर विलेन प्रेम चोपड़ा. लगभग 400 फिल्मों में कर चुके हैं अभिनय

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 23, 2018, 9:31 AM IST
  • Share this:
हिंदी सिनेमा की दुनिया में एक ऐसा भी दौर था जब विलेन का नाम सुनकर असल जिंदगी में भी लोग उतना ही डर जाया करते थे, जैसा कि फिल्म में दिखाया जाता था. कुछ ऐसा ही खौफ था उस जमाने के मशहूर विलेन प्रेम चोपड़ा का. आज उनके जन्मदिन पर उस दौर की कुछ ऐसी ही दिलचस्प बातों पर एक नजर. अपने कई इंटरव्यूज में प्रेम साहब ने खुद ऐसी बातों का जिक्र किया है, जिनसे पता चलता है कि उनकी एक्टिंग से लोग इस हद तक प्रभावित हो जाते थे कि रियल लाइफ में उन्हें देखते ही अजीबोगरीब प्रतिक्रिया दे बैठते थे.

ये भी पढ़ें- खलनायकी से दुखी नहीं, खुश हैं प्रेम चोपड़ा

एक इंटरव्यू में प्रेम चोपड़ा ने बताया था कि उस दौर में एक्टर्स के ऑन स्क्रीन अंदाज को दर्शक काफी गंभीरता से लेते थे. उन्होंने बताया कि उन्हें देख कर लोग अपनी बीवियों को छिपा लेते थे. कई बार उन्होंने लोगों से बात करके समझाने की कोशिश भी की थी कि वो असल जिंदगी में विलेन नहीं है. फिर भी लोग उन्हें उनके किरदारों जैसा खूंखार विलेन ही समझते थे. धीरे-धीरे इस बात को वो भी तारीफ समझकर स्वीकार करने लगे.



 बॉलीवुड का सफर
प्रेम चोपड़ा ने अपने 60 साल के फिल्मी करियर में 380 से भी ज्यादा फिल्मों में काम किया है. विलेन के तौर पर दर्शकों ने उनके किरदार की खूब सराहना की है. अपने डायलॉग्स से उन्होंने करोड़ों लोगों के दिलों में जगह बनाई.

 प्रेम नाम है मेरा प्रेम
प्रेम चोपड़ा का ये डायलॉग जितना उस दौर में मशहूर था, उतना ही आज भी याद किया जाता है. इसके पीछे एक दिलचस्प कहानी है, जिसके बारे में कम ही लोग जानते हैं. पुणे में फिल्म 'बॉबी' की शूटिंग करते हुए डायरेक्टर राज कपूर ने उन्हें ये डायलॉग दिया था. शॉट देते वक्त प्रेम चोपड़ा ने इसमें वो डरावनी हंसी डालकर इसे और मजेदार बना दिया. फिल्म हिट होने पर ये डायलॉग भी काफी हिट हुआ. इस तरह से ये आइकॉनिक डायलॉग बन गया. अब ये डायलॉग प्रेम चोपड़ा के साथ ऐसे जुड़ गया है कि वो जहां भी जाते हैं इसी डायलॉग के साथ उनकी एंट्री होती है.

विलेन नहीं, हीरो बनना चाहते थे प्रेम
हर एक्टर की तरह प्रेम चोपड़ा भी शुरुआत में हीरो बनना चाहते थे. अपने  शुरुआती दिनों में उन्होंने कुछ पंजाबी फिल्मों में काम किया जो काफी हिट रहीं. धीरे धीरे उन्होंने हिन्दी फिल्मों में भी हीरो के तौर पर काम किया जो ज्यादा सफल नहीं हो पाईं. उन्होंने कहा, ‘फिल्म फ्लॉप होने पर इंडस्ट्री में आपको ज्यादा मौके नहीं मिलते’. इसी कड़ी में उन्हें  हिन्दी फिल्मों में विलेन का रोल ऑफर किया गया और दशर्कों ने उन्हें इस किरदार में काफी पसंद किया.

ये भी पढ़ें
KBC 10: विराट के फ्लाइंग Kiss को लेकर अनुष्का को चिढ़ाते रहे अमिताभ बच्चन
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज