होम /न्यूज /मनोरंजन /

अब भंसाली पर भारी पड़ने लगा है पद्मावती विवाद...

अब भंसाली पर भारी पड़ने लगा है पद्मावती विवाद...

पद्मावती फिल्‍म का विरोध करते राजपूत

पद्मावती फिल्‍म का विरोध करते राजपूत

पद्मावती की रिलीज अटकी है और फिल्म के निर्देशक और कलाकारों को धमकियां मिल रही है.

    पद्मावती को लेकर करणी सेना की मामूली सी नज़र आने वाली बगावत इतनी बड़ी कॉन्ट्रोवर्सी का रूप ले बैठेगी इस बात का अंदाज़ा शायद किसी को नहीं था. पद्मावती की रिलीज अटकी है और फिल्म के निर्देशक और कलाकारों को धमकियां मिल रही है.

    इस मामले ने अचानक ही राजनीतिक तूल पकड़ लिया है और अब इस फिल्म की कई बड़े नेता भी जमकर आलोचना कर रहे हैं. हाल ही में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने फिल्म को मध्यप्रदेश में बैन करने की बात कही तो वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी ने भी संजय लीला भंसाली की फिल्म को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि जितने सिर मांगने वाले दोषी हैं, उतने ही भंसाली भी दोषी हैं.

    इससे पहले महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फ़डनवीस भी फिल्म को लेकर अपनी नाराज़गी जता चुके हैं.

    राजनीति में जहां इस फ़िल्म पर लोग गुस्सा जता रहे हैं वहीं बॉलीवुड में भी इस फ़िल्म को लेकर दो धड़े दिख रहे हैं. एक तरफ जहा फिल्मी सितारे भंसाली के सपोर्ट में खड़े है तो कुछ स्टार अपने हिसाब से भंसाली की आलोचना कर रहे हैं और कॉन्ट्रोवर्सी को मार्केटिंग का नाम भी दे रहे हैं.

    हाल ही में गायक सोनू निगम ने बॉलीवुड में पद्मावती का सपोर्ट कर रहे कलाकारों की ओर इशारा करते हुए कहा कि ये कलाकार उस समय कहां थे, जब सोनू के खिलाफ़ फ़तवे जारी हो रहे थे. सोनू ने कहा, " बॉलीवुड में भेदभाव होता है और सिलेक्टिव लोगों का ही साथ देने के लिए बॉलीवुड आगे आता है."

    पढ़िए - क्यों आ गया सोनू को गुस्सा 

    इस फ़िल्म के में मुख्य कलाकार शाहिद कपूर ने गोवा फ़िल्म फ़ेस्टिवल में कहा, "जिन्होंने फिल्म देखी है उन्हें पता है कि फिल्म में ऐसा कुछ ओब्जेक्शनल नहीं है लेकिन इसके बावजूद अगर फिल्म को सेंसर का सर्टिफिकेट नहीं मिलता तो वाकई मुझे हर्ट होगा"

    फ़िल्म को देखने वाले कुछ पत्रकारोंं ने इस फ़िल्म में ऐसे किसी भी ड्रीम सीक्वेंस के होने से इंकार किया है जिसमें पद्मावती और अलाउद्दीन खिलजी के बीच कोई रोमांस दिखाया गया है.

    बिना स्क्रिप्ट ही पद्मावती के लिए हां कह दी थी

    निर्माता निर्देशक बोनी कपूर और सुधीर मिश्रा ने भी फिल्म और भंसाली को सपोर्ट करते हुए कहा कि इस फ़िल्म के साथ जो हो रहा है वो गलत हो रहा है ऐसा नहीं होना चाहिए.

    लेकिन कुछ कलाकार भंसाली के विरोध में भी खड़े हैं, अभिनेता शेखर सुमन ने कहा,"हो सकता है कि यह फिल्म की मार्केटिंग का हिस्सा हो लेकिन इस बार फंस गए संजय."

    इस वक़्त तो पद्मावती की यह कहानी पब्लिसिटी कम और कंट्रोवर्सी ज्यादा लग रही है और भंसाली के करीबी सूत्रों की माने तो फ़िल्म की रिलीज़ अब 2018 तक खिसकाई जा सकती है.

    हालांकि इस बारे में भंसाली की ओर से कोई आधिकारिक जवाब नहीं आया  है लेकिन इतना जरूर है कि फिलहाल पद्मावती की रिलीज़ मुश्किल लगती है.

    Tags: Deepika padukone, Sanjay leela bhansali

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर