लाइव टीवी

अलविदा 2019: जिन 5 फिल्मों का हुआ बेसब्री से इंतजार, निकलीं ऊंची दुकान फीका पकवान

News18Hindi
Updated: December 9, 2019, 4:21 PM IST
अलविदा 2019: जिन 5 फिल्मों का हुआ बेसब्री से इंतजार, निकलीं ऊंची दुकान फीका पकवान
कलंक का एक दृश्‍य.

Bye Bye 2019: इस साल बॉलीवुड की मुख्यधारा में करीब 95 फिल्में रिलीज हो चुकी हैं, जब‌कि पांच फिल्में अभी फ्लोर पर आने का इंतजार कर रही हैं. कुल 100 फिल्मों वाले इस साल की उन पांच फिल्मों के बारे में जानिए जिनका दर्शकों ने बहुत इंतजार किया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 9, 2019, 4:21 PM IST
  • Share this:
मुंबई. साल 2019 जब शुरू हो रहा था तब काफी चर्चाएं हो रही थीं कि इस साल कई सुपरडुपर हिट जोड़ियां जैसे अनिल कपूर (Anil Kapoor) -जूही चावला (Juhi Chawla), संजय दत्त (Sanjay Dutt)-माधुरी दीक्षित, वरुण धवन-आलिया भट्ट बड़ी स्क्रीन पर वापसी कर रही हैं. जबकि बाहुबली के बाद प्रभास (Prabhash) को देखने के लिए लोगों को बेसब्री से इंतजार था. लेकिन जब ये फिल्में रिलीज हुईं तब दर्शकों ने कहा, ये तो ऊंची दुकान और फीका पकवान निकल गया.

1. दर्शकों ने कहा ये तो वास्तव में 'कलंक' निकली
सालों बाद संजय दत्त और माधुरी दीक्षित एक साथ पर्दे पर वापसी कर रहे थे. साथ में वरुण धवन और आलिया भट्ट, आदित्य रॉय कपूर, कियारा आडवाणी और सोनाक्षी सिन्हा जैसे स्टार इस फिल्म में मुख्य किरदार निभा रहे थे. फिल्म को लेकर दर्शकों में काफी उत्साह था. फिल्म का निर्माण धर्मा प्रोडक्‍शन, फॉक्स स्टार स्टूडियोज और नाडियाडवाला ग्रैंडसन एंटरटेनमेंट कर रहे थे. टीजर आदि में फिल्म का क्राफ्ट भी बड़ा लग रहा था. लेकिन जब 17 अप्रैल को फिल्म पर्दे पर रिलीज हुई त‌ब लचर कहानी और अभिषेक वर्धमान के कमजोर निर्देशन के चलते दर्शकों को भारी निराशा हुई.

kalank
कलंक का एक दृश्य.


2. 'साहो' ने उतार दिया बाहुबली का रंग
फिल्म 'बाहुबली' के दोनों पार्ट देखने के बाद हिन्दी पट्टी के दर्शकों में एक्टर प्रभास को लेकर दीवानगी बढ़ गई थी. इसी को ध्यान में रखते हुए प्रभास ने भी अपनी अगली फिल्म 'साहो' को हिन्‍दी में भी उसी तरह से रिलीज किया, जैसे साउथ में. यहां तक प्रभास ने हिन्दी के डायलॉग की रिकॉर्डिंग भी खुद ही की. फिल्म में अभिनेत्री बॉलीवुड से चुनी गई. श्रद्धा के अलावा जैकी श्रॉफ, नील नितिन मुकेश आदि भी हिन्दी सिने जगत के चुने गए. लेकिन 30 अगस्त को जब फिल्म सिनेमाघर में लगी तो दर्शकों के दिमाग से बाहुबली वाली पूरी खुमारी उतर गई. निर्देशक सुजीत ने एक बहुत ही कंफ्यूज फिल्म बनाई थी.

saho
साहो में प्रभास
3. दर्शकों के उम्मीदों पर खरी नहीं उतरी मणिकर्णिका
रानी लक्ष्मीबाई के किरदार में कंगना रनौत को लेकर दर्शकों में काफी उत्साह था. पोस्टर, टीजर और ट्रेलर में कंगना की दमदार छवि देकर लोगों में एक बार फिर से रानी लक्ष्मीबाई की कहानी को बड़े पर्दे पर देखने की उत्कंठा जगी. लेकिन जब फिल्म पर्दे पर आई तो कमजोर निर्देशन के चलते जो उम्मीद लोगों में भर गई थी, वह टूट गई.

यह भी पढ़ेंः Bigg Boss-13: अरहान का सच्चाई जानकर फूट-फूट कर रोईं रश्मि, सलमान ने लगाया गले

markarnika
मणिकर्णिका की एक झलक.


4. 'एक लड़की को देखा तो ऐसा' गाने जितना भी मशहूर नहीं हुई फिल्म
सालों बाद अनिल कपूर अपनी बेटी सोनम कपूर के साथ फिल्म कर रहे थे. अनिल के साथ जूही चावला भी बड़े पर वापसी कर रही थीं. फिर इस तिकड़ी के साथ प्रतिभाशाली अभिनेता राजकुमार राव भी प्रमुख भूमिका में थे. दर्शकों को इस फिल्म से काफी उम्मीद थी, क्योंकि जिस गाने को आधार बनाकर इस फिल्म का टाइटल बनाया गया था, '1942 अ लव स्टोरी' के इस गाने जितनी भी फिल्म दर्शकों को पसंद नहीं आई.

ek aisi ladki ko dekha to aisa laga
नहीं चली एक लड़की को देखा तो ऐसा लगा.


5. लाल कप्तान ने तोड़ी दर्शकों की उम्मीदें
निर्देशक नवदीप सिंह ने पहले 'मनोरमा सिक्स फिट अंडर' और 'एनएच 10' बनाई थी. 'लाल कप्तान' और सैफ अली खान को लेने के बाद दर्शकों को फिर से वैसी ही एक फिल्म की उम्मीद बन गई थी.

एक्टर सैफ अली खान ने किया खुलासा, अपने धोबी के घर जाते थे टीवी देखने
एक्टर सैफ अली खान की लाल कप्तान की एक छवि.


लेकिन लचर कहानी ने नवदीप की कसे हुए निर्देशन वाली फिल्म का भ्रम तोड़ दिया.

यह भी पढ़ेंः जब शर्मिला टैगोर को इंप्रेस करने के लिए पटौदी ने गिफ्ट किया था रेफ्रिजरेटर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बॉलीवुड से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 8, 2019, 9:01 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर