कोर्ट ने कहा, कंगना रनौत ने 3 फ्लैटों को मिलाते समय स्वीकृत योजना का उल्लंघन किया

कंगना रनौत.

कंगना रनौत.

एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के फ्लैटों में अनधिकृत निर्माण कार्य को गिराने से बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) को रोकने की उनकी याचिका को कोर्ट ने खारिज कर दिया. मुंबई की एक दीवानी अदालत ने कहा कि, रनौत ने अपने तीन फ्लैटों को मिलाते समय स्वीकृत योजना का उल्लंघन किया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 2, 2021, 1:10 AM IST
  • Share this:

मुंबई. एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के फ्लैटों में अनधिकृत निर्माण कार्य को गिराने से बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) को रोकने की उनकी याचिका को कोर्ट ने खारिज कर दिया. मुंबई की एक दीवानी अदालत ने कहा कि, रनौत ने अपने तीन फ्लैटों को मिलाते समय स्वीकृत योजना का उल्लंघन किया.

कंगना रनौत के वकील रिजवान सिद्दीकी ने कोर्ट में कहा कि बृहन्मुंबई नगर निगम की तरफ से दिए नोटिस में साफ-साफ उन बातों का उल्लेख नहीं किया गया है, जिनका उल्लंघन करने का आरोप लगाया गया है. इसके बाद बीएमसी का पक्ष रखते हुए वकील धर्मेश व्यास ने कहा कि, कंगना रनौत को नोटिस जारी करने से पहले बीएमसी ने एक इंजीनियर को भेजकर कंगना के घर का सर्वे कराया था. सर्वे के बाद उस इंजीनियर ने 8 तरीके से बीएमसी के कानून का उल्लंघन करने की बात कही थी.

धर्मेश व्यास के तर्क सुनने के बाद कोर्ट ने कंगना रनौत को अंतरिम राहत देने से इनकार कर दिया. कोर्ट ने यह भी कहा कि 8 मार्च 2013 को इस प्रॉपर्टी की खरीद के समय ये उल्लंघन नहीं किए गए थे. ये निर्माण कंगना ने फ्लैट खरीदने के बाद कराए हैं.

उपनगर डिंडोशी में एक अदालत ने कंगना रनौत द्वारा पिछले सप्ताह दाखिल आवेदन को खारिज कर दिया. विस्तृत आदेश गुरुवार को उपलब्ध हुआ. न्यायाधीश एल एस चव्हाण ने अपने आदेश में कहा कि रनौत ने शहर के खार इलाके में 16 मंजिला इमारत की पांचवीं मंजिल पर अपने तीन फ्लैटों को मिला लिया था.
जज ने कहा कि ऐसा करते हुए उन्होंने संक एरिया, डक्ट एरिया और आम रास्ते को कवर कर दिया. अदालत ने कहा, ‘ये स्वीकृत योजना का गंभीर उल्लंघन है, जिसके लिए सक्षम प्राधिकार की मंजूरी जरूरी है.’ बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने मार्च 2018 में एक्ट्रेस को उनके खार के फ्लैटों में अनधिकृत निर्माण कार्य के लिए नोटिस जारी किया था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज