लाइव टीवी

कोरोना संकट- अमिताभ बच्चन ने बढ़ाए नेकी के हाथ, ऐसे कर रहे हैं जरूरतमंदों की मदद

News18Hindi
Updated: April 10, 2020, 6:41 AM IST
कोरोना संकट- अमिताभ बच्चन ने बढ़ाए नेकी के हाथ, ऐसे कर रहे हैं जरूरतमंदों की मदद
अमिताभ बच्चन समर्थित एक ओल्ड ऐज होम विवादों में आया.

सदी के महानायक अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने अपने ब्लाग के जरिए ये जानकारी दी है, उनके इस कदम की लोग सराहना कर रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 10, 2020, 6:41 AM IST
  • Share this:
मुंबई- कोरोना (COVID-19) की जंग से लड़ने के लिए लगातार लोग मदद के हाथ बढ़ा रहे हैं. बॉलीवुड (Bollywood) भी इस संकट की घड़ी में सरकार के साथ है, लोगों से जहां वो घर में रहने की अपीलकर रहा है. वहीं, लगातार लोगों की मदद के हाथ भी बढ़ा रहा है.सदी के महानायक अमिताभ बच्चन ( Amitabh Bachchan) भी जरूरतमंदों की मदद कर रहे हैं. 21 दिन के लॉकडाउन के बीच मुंबई शहर भर में जरूरतमंदों को दोपहर और रात का भोजन उपलब्ध कराने के लिए रोजाना दो हजार भोजन के पैकेट का बांट रहे हैं. इसके साथ ही वो ऑल इंडिया फिल्म एम्पलाई कंफेडेरशन से जुड़े दैनिक वेतन भोगी श्रमिकों के एक लाख परिवारों को महीने भर का राशन दे रहे हैं.

बिग बी ने ये जानकारी अपने ब्लॉग पर दी. उन्होंने लिखा- इस बीच, व्यक्तिगत मोर्चे पर शहर के विभिन्न स्थानों पर दोपहर के भोजन और रात के खाने के लिए (मेरे द्वारा) हर दिन दो हजार पैकेट दिए जा रहे हैं. उन्होंने वो लोकेशन्स का भी जिक्र किया जहां वो लोगों के लिए ऐसी मदद कर रहे हैं. अमिताभ बच्चन ने बताया, हाजी अली दरगाह, माहिम दरगाह, बाबुलनाथ मंदिर, बांद्रा के स्लम और उत्तरी मुंबई के कुछ और स्लमों में रहने वाले लोगों की मदद वे कर रहे हैं. उन्होंने बताया कि इन सभी तक सामान को पहुंचाना बहुत ही मेहनत का काम था, लेकिन उन्हें आशा है कि सबकुछ जल्द ठीक हो जाएगा.

परिवहन में आने वाली समस्याओं पर उन्होंने कहा कि जितना हम करना चाहते हैं, उतना कर पना मुश्किल है. प्रक्रिया की अपनी समस्याएं हैं. लॉकडाउन में अब घर और रहने वाले क्षेत्रों से बाहर कदम रखना गैरकानूनी कर दिया गया है. इसलिए भले ही मैं बैगों को तैयार करने में सक्षम हूं, लेकिन परिवहन के कारण समस्याएं पैदा होती हैं.



उन्होंने कहा कि एक सामान ले जाने वाला वाहन आवश्यक पैकेज के 50 से 60 बैग ले जा सकता है, इसलिए तीन हजार पैकेज को ले जाने के लिए अन्य वाहन की जरूरत होगी. समस्या वाहन की नहीं, उनके एक स्थान से दूसरे स्थान पर आने जाने की है.



अमिताभ ने पैकेट्स बांटने के दौरान आने वाली परेशानियों को भी जिक्र किया उन्होंने कहा कि पैकेट्स जब लोगों तक पहुंचते हैं, तो स्लम में रहने वाले लोग गाड़ी की ओर दौड़ते हैं. इससे भगदड़ मचने का खतरा है जो कि पुलिस सोशल डिस्टेंसिंग के माहौल में नहीं होने दे सकती.

आपको बता दें कोरोना संकट से बचने के लिए अमिताभ बार-बार लोगों से सोशल मीडिया पर अपने घर में रहने की अपील कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें- अक्षय कुमार की फिल्म के डायरेक्टर भी कोरोना के खिलाफ जारी जंग में हुए शामिल, दान की एडवांस में मिली फीस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बॉलीवुड से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 10, 2020, 6:41 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading