Home /News /entertainment /

Death Anniversary: निरूपा रॉय के पति बनना चाहते थे एक्टर, लेकिन पत्नी को मिला मौका और...

Death Anniversary: निरूपा रॉय के पति बनना चाहते थे एक्टर, लेकिन पत्नी को मिला मौका और...

फिल्मी पर्दे पर मां की भूमिका निभाने वाली एक्ट्रेस निरूपा रॉय की पुण्यतिथि है.(फोटो साभार: Movies N Memories/Twitter)

फिल्मी पर्दे पर मां की भूमिका निभाने वाली एक्ट्रेस निरूपा रॉय की पुण्यतिथि है.(फोटो साभार: Movies N Memories/Twitter)

लगभग 250 फिल्मों में काम कर चुकीं निरूपा रॉय (Nirupa Roy) को फिल्मफेयर लाइफ टाइम अचीवमेंट अवॉर्ड (Filmfare Lifetime Achievement Award) से सम्मानित किया गया है.

    मुंबई: हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में अपनी बेमिसाल एक्टिंग से मां के किरदार को सिल्वर स्क्रीन पर जीवंत करने वाली एक्ट्रेस निरूपा रॉय (Nirupa Roy) की आज पुण्यतिथि है. 13 अक्टूबर 2004 को दुनिया छोड़ गईं निरूपा ने ऐसा शानदार अभिनय किया कि आज भी उनकी जगह कोई ले नहीं पाया है. दुख की रानी, ट्रेजेडी क्वीन के नाम से भी निरूपा फेमस थीं. किसी फिल्म की सफलता में हीरो-हीरोइन के अलावा को-एक्टर्स की भूमिका भी काफी महत्वपूर्ण होती है. अमिताभ बच्चन की कई फिल्मों में मां की भूमिका निभा अमर हो गईं निरूपा के फिल्मी दुनिया में आने की कहानी भी कम दिलचस्प नहीं है.

    मीडिया की खबरों के मुताबिक निरूपा रॉय के हस्बैंड कमल रॉय फिल्मों के काफी शौकीन थे. कमल की दिली तमन्ना थी कि फिल्मों में एक्टर बन जाए. एक बार गुजराती न्यूज पेपर में एक्टर के लिए विज्ञापन देखा तो अपनी वाइफ जिनका नाम उस वक्त कोकिला था को लेकर वेट्रेन एक्टर रहे बीएम व्यास से मिलने गए. कमल ने उनसे गुजारिश की मुझे एक्टर बनना है, इसलिए कोई रोल दिलवा दें. लेकिन बीएम व्यास ने उन्हें देखने के बाद कहा कि आपकी पर्सनैलिटी एक्टर बनने के लायक नहीं है. हां अगर आप चाहें तो आपकी पत्नी को फिल्मों में काम मिल सकता है. इस तरह निरूपा रॉय की इंडस्ट्री में एंट्री हो गई और फिल्मी दुनिया ने उन्हें नाम दिया निरूपा रॉय.

    1946 में निरूपा रॉय को पहली गुजराती फिल्म ‘रनकदेवी’ में काम मिला. इसके बाद इसी साल हिंदी फिल्म ‘अमर राज’ में भी काम मिला. कई फिल्मों में काम करने वाली निरूपा रॉय के जीवन की सर्वश्रेष्ठ फिल्मों में शुमार है ‘दो बीघा जमीन.’ 1953 में आई इस फिल्म ने निरूपा के अभिनय को न सिर्फ नया आयाम दिया बल्कि उन्हें हिट हीरोइन के रूप में स्थापित कर दिया था.

    निरूपा रॉय ने कई फिल्मों में अमिताभ बच्चन की मां का रोल प्ले किया था. (फोटो साभार: Movies N Memories/Twitter)

    हमेशा की सादगी और ममता का रूप लिए सिल्वर स्क्रीन पर अवतरित होने वाली निरूपा रॉय अपनी निजी जिंदगी में भी काफी सादगी पसंद करती थीं. निरूपा रॉय ने कई धार्मिक फिल्मों में काम किया और उनकी छवि ऐसी हो गई कि उन्हें ऐसे ही रोल मे टाइपकास्ट कर दिया गया. फिर समय के साथ निरूपा को एक्टर्स की मां के रोल मिलने लगे. लेकिन निरूपा ने अपनी शानदार एक्टिंग की बदौलत मां के किरदार को सिल्वर स्क्रीन पर निभा एक नया अध्याय रच दिया.

    ये भी पढ़िए-सनी देओल को जब अपनी वाइफ पूजा के सामने करना पड़ा पूनम ढिल्लों संग इंटीमेट सीन

    खासतौर पर निरूपा ने कई फिल्मों अमिताभ बच्चन की मां का रोल प्ले किया. दीवार, रोटी, सुहाग, इंकलाब, मुकद्दर का सिकंदर, मर्द जैसी कई फिल्मों में अमिताभ और निरूपा मां-बेटे की भूमिका में नजर आए. लगभग 250 फिल्मों में काम कर चुकीं निरूपा को फिल्मफेयर लाइफ टाइम अचीवमेंट अवॉर्ड (Filmfare Lifetime Achievement Award) से सम्मानित किया गया है.

    Tags: Actress, Amitabh Bachachan, Death anniversary

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर