मेहनती गुजराती कलाकारों को प्रमोट करने में जुटे डिजिटल मार्केटिंग के एक्सपर्ट ध्रुमिल

मेहनती गुजराती कलाकारों को प्रमोट करने में जुटे डिजिटल मार्केटिंग के एक्सपर्ट ध्रुमिल
ध्रुमिल सोनी

ध्रुमिल सोनी की डिजिटल मार्केटिंग एजेंसी ‘Pixatronix’ इवेंट्स को लेकर शानदार काम कर रही है. साथ ही एजेंसी डिजिटल मूवी 'अफरा तफरी' के कैंपेन से भी जुड़ी हुई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 12, 2020, 11:44 AM IST
  • Share this:
अहमदाबाद. आज किसी कलाकार को अपनी प्रतिभा के प्रदर्शन के लिए उचित मंच मिलना सबसे ज्यादा कठिन हो गया है. चाहे बॉलीवुड, टॉलीवुड या ढॉलीवुड कोई भी फिल्म इंडस्ट्री हो, इनमें अपनी जगह बनाने के लिए बेहद मजबूत कनेक्‍शन होने जरूरी हो गए हैं. हालांकि कई कास्टिंग एजेंसियों के जरिए इन दिनों कुछ प्रतिभावान कलाकारों उभर रहे हैं. लेकिन आज भी बहुत से प्रतिभाओं पर किसी की नजर नहीं पड़ रही है. इन्हीं प्रतिभाओं को बेहतर मंच दिलाने के लिए गुजरात के एंटरप्रेन्योर ध्रुमिल सोनी काम कर रहे हैं. वो ढॉलीवुड में मेहनती कलाकारों को प्लेटफॉर्म दिलाने की दिशा में काम कर रहे हैं. सोनी हाल ही में पंच महोत्सव 2019 के सोशल मीडिया और डिजिटल मीडिया पर कैंपेनिंग के लिए चर्चा में रहे थे.

ध्रुमिल सोनी की डिजिटल मार्केटिंग एजेंसी ‘Pixatronix’इवेंट्स को लेकर शानदार काम कर रही है. साथ ही एजेंसी डिजिटल मूवी 'अफरा तफरी' के कैंपेन से भी जुड़ी हुई है. यह एक गुजराती फिल्म है. इसमें गुजारत की एक्ट्रेस खुशी शाह और मित्रा गढवी जैसी नाम काम कर रहे हैं. साथ ही यह एजेंसी गुजराती फिल्म इंडस्ट्री और प्रदेश की कई बड़ी हस्तियों व इंफ्लूएंर्स के काम को संभाल रही है. ध्रुमिल इन दिनों गुजराती भाषा को बड़े मुकाम पर पहुंचाने के लिए कई बड़े प्रोजेक्ट्स पर काम कर रहे हैं. इसके लिए उन्होंने अपनी एजेंसी के जरिए मेहनती और बेहतरीन कलाकारों को प्रमोट करने का रास्ता चुना है. इससे पहले उनकी एजेंसी गुजरात के कई बड़े राजनेताओं के डिजिटल कैंपेन को भी संभाल चुकी है.

गुजराती भाषा को भारत में और ज्यादा आगे बढ़ाने के उद्देश्य काम कर रहे युवा एंटरप्रोन्योर से जब भविष्य की योजनाओं के बारे में पूछा जाता है तो वो कहते हैं, "मैं गुजरात के बेस्ट कलाकारों के टैलेंट को दिखाने के लिए यूट्यूब चैनल शुरू करना चाहता हूं, जिसपर नियमति रूप से कलाकारों की प्रतिभा का प्रदर्शन हो सके. उनको प्रमोट किया जा सकते. अगर आप ध्यान से देखेंगे तो पाएंगे कि टिकटॉक, हेलो जैसे ऐप के जरिए गुजरात के कई कलाकारों ने अद्भुत पॉपुलारिटी हासिल की है. वे अभी भी शानदार काम कर रहे हैं. मुझे पूरा विश्वास है कि ये और ज्यादा लाइमलाइट में आने के हकदार हैं. मैं चाहता हूं कि मैं डिजिटल माध्यमों पर इन मेहनतकश कलाकारों को प्रमोट कर के इनकी मदद करूं." हम उम्मीद करते हैं ध्रुमिल अपने मकसद में कामयाब हों और हमें एक से बढ़कर एक गुजाराती कलाकारों की प्रस्तुतियां देखने को मिलने और राष्ट्रीय पटल पर उनका नाम हो.



यह भी पढ़ेंः पारस छाबड़ा ने इसलिए अब तक नहीं हटवाया आकांक्षा पुरी के नाम का टैटू, बताई वजह
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज