डायरेक्टर अजीतपाल सिंह की फिल्म ‘फायर इन द माउंटेन्स’ को मिला बेस्ट फीचर फिल्म अवॉर्ड

फिल्म समारोह की शुरुआत इसी फिल्म के प्रदर्शन के साथ की गई.

फिल्म समारोह की शुरुआत इसी फिल्म के प्रदर्शन के साथ की गई.

फिल्म ‘फायर इन द माउंटेन्स’ (Fire in the Mountains) एक फैमिली ड्रामा फिल्म है जिसमें एक मां की कहानी है जो हिमालय के सुदूर क्षेत्र के एक गांव में रहती है. अपने दिव्यांग बेटे को फिजियोथेरेपी के वास्ते ले जाने के लिए गांव में सड़क बनाने के लिए वह पैसे बचाने के लिए कड़ी मेहनत करती है.

  • Share this:

लॉस एंजिलिस. फिल्म डायरेक्टर अजीतपाल सिंह (Ajitpal Singh) की बहुचर्चित फिल्म ‘फायर इन द माउंटेन्स’ (Fire in the Mountains) को सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म के ऑडियंस अवॉर्ड से सम्मानित किया गया है. 19वें लॉस एंजिलिस भारतीय फिल्म महोत्सव (आईएफएफएलए) में इस फिल्म को यह अवॉर्ड दिया गया है.

8 दिनों तक चले आईएफएफएलए के 19वें संस्करण का गुरुवार को समापन हो गया. इस दौरान 17 भाषाओं की 40 फिल्मों का प्रदर्शन किया गया. फिल्म महोत्सव में 16 महिला निर्देशकों की फिल्में भी दिखाई गईं. ‘फायर इन द माउंटेन्स’ डायरेक्टर के रूप में अजीतपाल सिंह की पहली फिल्म है. फिल्म समारोह की शुरुआत इसी फिल्म के प्रदर्शन के साथ की गई.

पुरस्कार जीतने के बाद अजीत ने कहा, ‘हम हमेशा से ही दर्शकों को ध्यान में रखकर फिल्में बनाते हैं, इसलिए यह जानकर बेहद खुशी हो रही है कि ‘फायर इन द माउंटेन्स’ कैलिफोर्निया के दर्शकों को पसंद आई और उन्होंने हमें पुरस्कार से सम्मानित किया.’

‘फायर इन द माउंटेन्स’ एक फैमिली ड्रामा फिल्म है जिसमें एक मां की कहानी है जो हिमालय के सुदूर क्षेत्र के एक गांव में रहती है. अपने दिव्यांग बेटे को फिजियोथेरेपी के वास्ते ले जाने के लिए गांव में सड़क बनाने के लिए वह पैसे बचाने के लिए कड़ी मेहनत करती है.
हालांकि, महिला के पति का मानना है कि जागर पद्धति के जरिए उनका बेटा ठीक हो सकता है और वह उसकी बचत की धनराशि को चुरा लेता है. फिल्म में विनम्रता राय, चंदन बिष्ट और सोनल झा के अलावा युवा कलाकार हर्षिता तिवारी तथा मयंक सिंह जायरा ने अहम भूमिका निभाई है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज