नेपाल के PM के बयान पर घमासान, मनोज मुंतशिर बोले- शर्मा जी जरूर वाल्मीकि के साथ खेले-कूदे होंगे...

नेपाल के PM के बयान पर घमासान, मनोज मुंतशिर बोले- शर्मा जी जरूर वाल्मीकि के साथ खेले-कूदे होंगे...
मनोज मुंतशिर

नेपाल (Nepal) के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली (KP Sharma Oli) के बयान के बयान पर बॉलीवुड के गीतकार मनोज मुंतशिर (Manoj Muntashir) की प्रतिक्रिया सामने आई है.

  • Share this:
मुंबई. नेपाल (Nepal) के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली (KP Sharma Oli) के बयान पर घमासान मचा हुआ है. ओली ने दावा किया है कि राम की नगरी अयोध्या भारत के उत्तर प्रदेश में नहीं बल्कि नेपाल के वाल्मीकि आश्रम में है. वहीं, शर्मा के बयान पर बॉलीवुड के गीतकार मनोज मुंतशिर (Manoj Muntashir) की प्रतिक्रिया सामने आई है.

सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने वाले दिग्गज लिरिक्स राइटर मनोज मुंतशिर ने ट्वीट कर कहा, "शर्मा जी जरूर वाल्मीकि के साथ खेले-कूदे होंगे, तभी राम के बारे में सबसे पहले की जानकारी रखते हैं. चलिए अच्छा है, इसी बहाने ये और इनका देश चर्चा में तो आया. राम के नाम से बहुतों का भला हुआ है, इनका भी हो गया."


अयोध्या को 'नकली' और राम को 'नेपाली' बताकर घर में ही घिरे PM ओली



गौरतलब है कि केपी शर्मा ओली की अयोध्या और भगवान राम को लेकर की गई बेतुकी टिप्पणी पर वे घर में ही घिरते नजर आ रहे हैं. ओली के इस बयान का न सिर्फ सोशल मीडिया पर मजाक बनाया जा रहा है, बल्कि कई बड़े नेताओं ने भी इसे लेकर आपत्ति जाहिर की है. यहां तक कि नेपाली कम्युनिस्ट पार्टी (NCP) पहले ही ओली को भारत विरोधी बयानों के लिए चेतावनी दे चुकी है.

नेपाली लेखक और पूर्व विदेश मंत्री रमेश नाथ पांडे ने ट्वीट किया है, "धर्म राजनीति और कूटनीति से ऊपर है. यह एक बड़ा भावनात्मक विषय है. अबूझ भाव और ऐसी बयानबाज़ी से आप केवल शर्मिंदगी महसूस करते हैं. और अगर असली अयोध्या बीरगंज के पास है तो फिर सरयू नदी कहाँ है?"

नेपाल के पूर्व प्रधानमंत्री बाबू राम भट्टाराई ने ओली के बयान पर व्यंग्य किया है. उन्होंने एक ट्वीट में लिखा है, "आदि-कवि ओली द्वारा रचित कल युग की नई रामायण सुनिए, सीधे बैकुंठ धाम का यात्रा करिए."

नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) के उप-प्रमुख बिष्णु रिजल ने लिखा है, "यह कहना एक बड़ा भ्रम है कि कोई व्यक्ति अप्रमाणिक, पौराणिक और विवादास्पद बातें कहकर विद्वान बन जाता है. यह ना केवल दुर्भाग्यपूर्ण है, बल्कि 'रहस्यमय' भी है कि कैसे विरोध और उकसावे के लिए रोज़ नए मसाले डाले जा रहे हैं."
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading