जगन्नाथ रथ यात्रा को लेकर फिल्ममेकर हंसल मेहता ने कसा तंज तो ट्रोलर्स ने लगा दी क्लास

हंसल मेहता सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते है.
हंसल मेहता सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते है.

भगवान जगन्नाथ रथयात्रा (Jagannath Rath Yatra) के शुरू होने के बाद फिल्ममेकर हंसल मेहता (Filmmaker Hansal Mehta) ने ऐसा तंज कसा कि सोशल मीडिया पर लोगों (ट्रोलर्स) ने उन्हें खूब खरी खोटी सुना दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 24, 2020, 11:26 AM IST
  • Share this:
मुंबई. हर बार की तरह इस बार भी भगवान जगन्नाथ रथयात्रा (Jagannath Rath Yatra) की शुरुआत हो चुकी है. कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण पहले रथयात्रा को लेकर संशय था लेकिन फिर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) की इजाजत के बाद यात्रा को शुरू किया गया. जगन्नाथ रथयात्रा पहले दिन भगवान जगन्नाथ, बलभद्र और सुभद्रा के रथ गुंडिचा मंदिर पहुंच गए हैं. कोरोना वायरस के कारण इसमें ज्यादा लोगों को शामिल होने की इजाजत नहीं है. लेकिन इस रथयात्रा के शुरू होने के बाद फिल्ममेकर हंसल मेहता (Filmmaker Hansal Mehta) ने ऐसा तंज कसा कि सोशल मीडिया पर लोगों (ट्रोलर्स) ने उन्हें खूब खरी खोटी सुना दी.

फिल्ममेकर हंसल मेहता  (Filmmaker Hansal Mehta) ने तंज करते हुए एक ट्वीट किया. उन्होंने लिखा- 'तबलीगी जमात अपने अतीत से कभी नहीं सीखेगी.' हंसल मेहता के इस ट्वीट के बाद ट्रोलर्स ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया. फिल्म निर्देशक अनुभव सिन्हा ने हंसल मेहता के इस ट्वीट पर लिखा-बयान को साफ करें.


एक बाद एक कई कमेंट्स कर लोगों ने हंसल मेहता की जमकर क्लास लगा दी. एक यूजर ने लिखा- 'मैं मुस्लिम हूं और उड़िया भी हूं तो मुझे मेरी सरकार के बारे में पता है. उन्हीं लोगों को इसके लिए इजाजत दी गई है, जिनकी कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आई है.' वहीं एक दूसरे यूजर ने लिखा- 'कम से कम मास्क है और कोई भी हिंदू किसी भी धार्मिक स्थानों पर थूकते नहीं हैं.'



ये भी पढ़ें- अमिताभ बच्चन ने खोज निकाला MASK का हिंदी अनुवाद, जानकर हो जाएंगे हैरान

आपको बता दें कि भगवान जगन्नाथ, बलभद्र और सुभद्रा के रथ गुंडिचा मंदिर पहुंच गए हैं. मंदिर के बाहर बैरिकेडिंग में रखा गया है, यहां अगले 7 दिन भगवान रहेंगे. 1 जुलाई को भगवान जगन्नाथ फिर इन्हीं रथों में बैठकर मुख्य मंदिर पहुंचेंगे. इसे बहुड़ा यात्रा कहा जाता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज