यौन उत्पीड़न केस पर महेश भट्ट ने जारी किया बयान, कहा- 3 बेट‍ियों का पिता हूं, मेरा नाम गलत इस्तेमाल हुआ

यौन उत्पीड़न केस पर महेश भट्ट ने जारी किया बयान, कहा- 3 बेट‍ियों का पिता हूं, मेरा नाम गलत इस्तेमाल हुआ
महेश भट्ट

मशहूर निर्माता-निर्देशक महेश भट्ट (Mahesh Bhatt) ने कहा कि मैंने ये बयान इसलिए जारी किया है कि सभी को इस बारे में पता चल जाए कि आईएमजी वेंचर्स (IMG Ventures) से मेरा कोई भी वास्ता नहीं है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 19, 2020, 1:29 PM IST
  • Share this:
मुंबई. मॉडलिंग का मौका देने के नाम पर महिलाओं का यौन उत्पीड़न के मामले को लेकर राष्ट्रीय महिला राष्ट्रीय महिला आयोग (National Commission for Women) ने मंगलवार को मशहूर निर्माता-निर्देशक महेश भट्ट (Mahesh Bhatt) समेत कई गवाहों के बयान दर्ज किए. आयोग ने सामाजिक कार्यकर्ता योगिता भयाना द्वारा दायर एक शिकायत का संज्ञान लेने के बाद महेश भट्ट, सोनू सूद, उर्वशी रौतेला, मौनी रॉय, रणविजय सिंह, प्रिंस नरूला और ईशा गुप्ता को समन जारी किया था.

ऑनलाइन सुनवाई के लिए आयोग के सामने उपस्थित हुए महेश भट्ट ने बयान जारी कर कहा, ''मैं राष्ट्रीय महिला आयोग को सैल्यूट करता हूं कि उन्होंने ऐसी कुछ संस्थाओं को चिन्हित कर उन पर कड़ाई की है जो इंडस्ट्री में महिलाओं संग यौन उत्पीड़न को बढ़ावा देती हैं और इंडस्ट्री का नाम खराब करती हैं. इसके लिए मैं नेशनल कमिशन फॉर वुमन का आभारी हूं. मैं आज अपने ऊपर लगे एलिगेशन के संदर्भ में कमिशन के समक्ष हाजिर हुआ. आईएमजी वेंचर ने नवंबर 2020 में अपने प्रमोशनल इवेंट मिस्टर और मिसेज ग्लैमर, 2020 में मेरा नाम का इस्तेमाल किया और मुझे अमंत्रण दिया कि मैं इवेंट का हिस्सा बनूं. इसी के संदर्भ में मुझे कमिशन के सामने हाजिर होना पड़ा. मगर मैंने मौजूदा हालातों का हवाला देकर शो में शिरकत करने से मना कर दिया था. मैं इस इवेंट को लेकर किसी भी प्रकार के एग्रीमेंट में नहीं था और ना हीं इसके लिए मुझे कोई फीस दी गई थी. मगर दुर्भाग्यवश मेरा नाम और मेरी इमेज का इस्तेमाल सोशल मीडिया द्वारा इस इवेंट के संदर्भ में मेरी सहमति के बिना किया गया. जब मैंने इस बारे में उनसे पूछा तो उन्होंने इसके लिए मुझसे माफी मांगी. इसके बाद मेरी इमेज और नाम को हर जगह से हटा दिया गया.'

उन्होंने आगे कहा, ''मैंने ये बयान इसलिए जारी किया है कि सभी को इस बारे में पता चल जाए कि आईएमजी से मेरा कोई भी वास्ता नहीं है. बस मेरे नाम और इमेज का इस्तेमाल इसलिए किया गया ताकि उनके इवेंट में ज्यादा से ज्यादा लोग शरीक हो सकें. मैं 71 साल का हो चुका हूं. इस उम्र में ज्ञान बांटने और सामाजिक दृष्टिकोण से लोगों को जागरुक करने की कोशिश करता हूं. मैं तीन लड़कियों का पिता हूं. मैं नेशनल कमिशन ऑफ वुमन का आभारी हूं जिस तरह वे सोशल इश्यू के लिए सराहनीय काम कर रहे हैं.''
View this post on Instagram

A post shared by Vishesh Films (@visheshfilms) on





क्या है मामला
दरअसल, सामाजिक कार्यकर्तायोगिता भयाना ने अपनी शिकायत में एक कंपनी आईएमजी वेंचर के प्रमोटर के प्रमोटर सनी वर्मा के खिलाफ आरोप लगाया है कि उसने मॉडलिंग में करियर बनाने का मौका देने के बहाने कई लड़कियों को ब्लैकमेल और उनका यौन शोषण किया है. भयाना ने अपनी शिकायत में कहा था, ''कई टीवी और फिल्म एक्टर एक वीडियो विज्ञापन के जरिए उसकी कंपनी को प्रमोट कर रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading