होम /न्यूज /मनोरंजन /Netflix पर मौजूद 'Lust Stories' को नहीं देखने के पांच कारण!

Netflix पर मौजूद 'Lust Stories' को नहीं देखने के पांच कारण!

लस्ट स्टोरीज़ का पोस्टर

लस्ट स्टोरीज़ का पोस्टर

'लस्ट स्टोरीज़' की चर्चा हर तरफ हो रही है. इस फिल्म में न्यूडिटी, यौन शोषण, ऑर्गेज्म और कामुकता पर खुल कर बात हुई है. स ...अधिक पढ़ें

    नेटफ्लिक्स की नई पेशकश 'लस्ट स्टोरीज़' की चर्चा हर ओर हो रही है. इंसानी भावनाओं में से एक 'कामुकता' के इर्द गिर्द बनी इस फिल्म में चार शॉर्ट फ़िल्में शामिल हैं जो जाने माने निर्देशकों ने बनाई है. अनुराग कश्यप, ज़ोया अख्तर, दिबाकर बनर्जी और करन जौहर की इन फिल्मों में राधिका आप्टे, भूमि पेडनेकर, मनीषा कोइराला, कियारा आडवाणी, नेहा धूपिया, संजय कपूर और विकी कौशल जैसे कलाकार मौजूद हैं.

    अपने सब्जेक्ट के अलावा ये फिल्म हाल ही में लता मंगेशकर के परिवार की नाराज़गी का सामना करने के कारण चर्चा में रही. मंगेशकर परिवार की नाराज़गी करन जौहर से थी क्योंकि उन्होंने अपनी  शॉर्ट फिल्म में ऑर्गेज्म के एक दृश्य में लता के आलाप का इस्तेमाल किया.

    इस फिल्म के प्रोमो में कामुकता भरे दृश्य और डॉयलॉग्स की भरमार थी और फिर मंगेशकर परिवार की नाराज़गी की इस ख़बर के बाद इस फिल्म को लेकर लोगों का उत्साह बढ़ गया है. कुछ लोग इस फिल्म को भारतीय संस्कृति पर एक और हमला मान रहे हैं तो कुछ लोग इसके विरोध को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का हनन मान रहे हैं.  बात चाहे कोई भी हो, लोग इस फिल्म को देखने के लिए ललायित हो रहे हैं.

    लेकिन नहीं, इस फिल्म को देखना इतना भी ज़रूरी नहीं है और इसके कारण हम आपको बताते हैं. ताकि आप अपने साथियों के बीच इस फिल्म का पुरजोर विरोध कर सकें.

    कारण नंबर 1 - सेक्स संबंंधी संदर्भ

    इस फिल्म में हर जगह सेक्स से संबंधित चीज़ें, संदर्भ और डॉयलॉग्स भरे पड़े हैं. कई तो ऐसे टैबू सीन्स हैं जिन्हें देखकर आपको लगेगा कि इन्हें दिखाने के लिए वाकई हिम्मत चाहिए. एक टीचर का स्टूडेंट से यौन संबंध बनाना, एक लाइब्रेरियन का लाइब्रेरी में वाइब्रेटर प्रयोग करना, एक घरेलू नौकरानी का यौन शोषण दिखाया जाना आदि इत्यादि.

    इस फिल्म में ऐसे डार्क और सेंशुअल मुद्दों को इतना हाइलाइट कर के दिखाया गया है कि आप को समाज का एक कड़वा सच दिख सकता है और हम नहीं चाहेंगे कि आप के मुंह का स्वाद खराब हो. इसलिए इस फिल्म से परहेज़ कीजिए.

    कारण नंबर 2 - सेंसर की अवहेलना 

    Lust Stories
    करन जौहर द्वारा निर्देशित हिस्से में कियारा आडवाणी और विकी कौशल


    इस फिल्म ने सेंसर की अवहेलना की है. इस समय भारत में मोबाइल पर प्रदर्शन के लिए किसी फ़िल्म को 'सेंसर बोर्ड' यानी के केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड के सर्टिफ़िकेट की ज़रूरत नहीं पड़ती. लेकिन इस नियम का फायदा उठाकर हमारे सेंसर बोर्ड को सीधे-सीधे बाइपास किया गया है. ऐसी भी क्या जल्दी थी रिलीज़ की ? क्या दर्शकों के विवेक और समझ पर निर्माता को इतना भरोसा है कि उन्होंने अपने कंटेंट को इंटरनेट पर उपलब्ध करवा दिया. ऐसी किसी भी फिल्म जिसको सेंसर नहीं किया गया हो, हम कैसे स्वीकार कर सकते हैं ? इसलिए इस अनकट फिल्म को आपको नहीं देखना चाहिए.

    कारण नंबर 3 - रुटीन कहानियों से अलग


    लस्ट स्टोरीज़, इस फिल्म के नाम से ही ज़ाहिर है कि इस फिल्म में किस तरह का कंटेंट होगा. मैंने ये फिल्म खुद देखी है और आपको बता सकता हूं, पूरे दावे से कि इस फिल्म में कंटेंट के साथ प्रयोग हुए हैं. कहां सलमान खान की पारंपरिक, मसालेदार 'रेस 3' और कहां ये नई कहानी कहती शॉर्ट फिल्म. अरे, जिस फिल्म का नाम ही शॉर्ट हो वो बात क्या कहेगी. अब देखिए अनुराग कश्यप की कहानी में एक टीचर और उसके स्टूडेंट के बीच अवैध संबंध दिखाए गए हैं. कैसे पज़ेसिवनेस का विरोध करती एक महिला खुद पज़ेसिव हो जाती है, इस फिल्म में बखूबी दिखाया गया है.

    ज़ोया अख्तर की फिल्म आपको कचोट देती है. फिल्म जिसका काम मनोरंजन करना है वह आपको सोचने पर मजबूर कर देती है. एक घरेलू नौकरानी जिसे घर का नौजवान बेटा शादी का झांसा देकर इस्तेमाल करता है और फिर एक दिन छोड़ देता है. इस कहानी से तो मुझे इतनी सख्त आपत्ति हुई, पहले ही दृश्य में न्यूडिटी, हे ईश्वर!

    दिबाकर बनर्जी भी अपनी परिपाटी से हटते हुए एक उलझी हुई प्रेम कहानी दिखाते है जिसमें मनीषा कोइराला और संजय कपूर की सुखद वापसी हुई है. लेकिन हैरान करती है करन जौहर की कहानी. फ़ीमेल ऑर्गेज्म की ज़रूरत के मुद्दे को करन ने इतना खुल के दिखाया है कि आपको फैमिली के सामने संकोच हो जाए. एक पति जो बिस्तर में 5 सेकेंड में दम तोड़ देता है इससे ज्यादा खराब बात क्या हो सकती है. लेकिन ये सब बंद कमरे की बातें हैं, ऐसा हमारे बड़े बुजुर्गों ने सिखाया है, कोई कैसे ये सब सामने ला सकता है. उफ्फ़ !

    कारण नंबर 4 - सटीक अभिनय

    Lust Stories Manisha Koirala
    फिल्म लस्ट स्टोरीज़ में दिबाकर बनर्जी की फिल्म में मनीषा कोइराला और जयदीप अहलावत


    इस फिल्म में जो एक बात आपको हैरान करती है वो है इन कलाकारों का अपने किरदारों के साथ दोस्ताना. इससे पता चलता है कि इन कलाकारों को कितने समय से ऐसे किसी किरदार की तलाश थी. बतौर फिल्म समीक्षक या वो भी छोड़िए, बतौर दर्शक मैं हैरान रह गया कि कैसे कोई इतने असंस्कारी रोल में इतना सटीक अभिनय कर सकता है. इन कलाकारों ने उसी समय विरोध क्यों नहीं कर दिया फिल्म का.

    राधिका आप्टे पर्दे पर जिस तरह अपना मानसिक संतुलन खोती हैं वो उनकी फिल्म 'फोबिया' में उनके जबर्दस्त अभिनय की याद ताज़ा करवा जाता है. एक दृश्य में वो अपने स्टूडेंट के घर में घुस जाती हैं और इस दृश्य को देखकर आपको हंसी भी आती है और डर भी लगता है.

    इसी तरह फिल्म में मौजूद विवादित ऑर्गेज्म दृश्य (मैंने तो फॉरवर्ड कर दिया था), जिसको लेकर मंगेशकर परिवार ने रोष भी जताया है,  में कियारा आडवाणी ने जिस खूबसूरती से काम किया है वो देखने लायक रहा. यकीन मानिए, ये फिल्म का सबसे मुश्किल सीन था, लेकिन वो इसे निभा ले जाती हैं.

    फिल्म में नेहा धूपिया और मनीषा कोइराला भी अपना रोल बखूबी निभाती हैं लेकिन फिल्म का सरप्राइज़ पैकेज हैं 'सैराट' फेम आकाश ठोसर. आकाश ने इस फिल्म में एक मराठी स्टूडेंट की एक्टिंग की है जिसकी टीचर उसके पीछे पड़ चुकी है. आकाश जब जब स्क्रीन पर आते हैं, एक फ्रेशनेस लेकर आते हैं. लेकिन ऐसी फ्रेशनेस भी किस काम की जो हमारे मूल्यों का विरोध करती हो.

    कारण नंबर 5 - पैसे और समय की बर्बादी 

    फिल्म के निर्माताओं ने बड़ी चालाकी से इस फिल्म को नेटफ़्लिक्स पर रिलीज़ किया है ताकि आपको नेटफ़्लिक्स पर पैसे खर्च करने पड़ें और आप सिनेमाहॉल न जाएं. आप नेटफ़्लिक्स का पैक खरीदेंगे, अपने फोन का डेटा खर्च करेंगे और फिर इस फिल्म के साथ साथ आपको विश्व सिनेमा की अन्य फिल्मों को देखने का मौका मिलेगा जिससे आपको दुनियाभर के सिनेमा और उनके प्रयोगों के बारे में पता चलेगा और इससे आपका समय खराब होगा. यहां तक कि इस मोबाइल ऐप से आपको अच्छा सिनेमा देखने की लत लग सकती है और लत कोई भी हो, लत बुरी ही होती है. इसलिए इस फिल्म का पुरजोर विरोध करना चाहिए.

    इतनी बातों के बाद हमें उम्मीद है कि आप इस फिल्म को नहीं देखना चाहेंगे और खुद को बिगड़ने से, किसी बुरी लत में फंसने से बचाना चाहेंगे. लेकिन इतना कुछ पढ़ लेने के बाद भी आपको लगता है कि ये फिल्म आपको देखनी चाहिए तो साथियों पहले इस फिल्म का ट्रेलर देखो. आपको समझ आएगा कि ये फिल्म किस तरह से हमारी मान्यताओं पर चोट करती है...

    " isDesktop="true" id="1427798" >

    Tags: Lust Stories, Netflix

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें