'बंद तिजोरी' से 'कन्फेशन' तक... OTT पर रिलीज हुई इन 4 फिल्मों को देखना न भूलें

'बंद तिजोरी' आत्म सम्मान की एक बेहतरीन गाथा है.

'बंद तिजोरी' आत्म सम्मान की एक बेहतरीन गाथा है.

इन फिल्मों में सभी एक से बढ़कर एक हैं, लेकिन 'बंद तिजोरी (Bandh Tijori)' हालिया रिलीज है, जिसकी कहानी बेहद आकर्षक और रोमांच वाली है.

  • Share this:

नई दिल्ली. निर्माता अनिल काबरा की इंडिया ई-कॉमर्स लिमिटेड के बैनर तले बनी 4 फिल्में बीते 3 महीने में फेमस OTT प्लेटफार्म डिज्नी + हॉटस्टार पर पोपुलर कैटेगरी में ट्रेंड कर रही हैं. ट्रेंड करने वाली ये फिल्में हैं - 'बंद तिजोरी (Bandh Tijori)', 'कन्फेशन (Confession)', 'पंडारुक' और 'मुचुअली'. इन फिल्मों में सभी एक से बढ़कर एक हैं, लेकिन 'बंद तिजोरी' हालिया रिलीज है, जिसकी कहानी बेहद आकर्षक और रोमांच वाली है.

इंडिया ई-कॉमर्स लिमिटेड द्वारा निर्मित 'बंद तिजोरी' आत्म सम्मान की एक बेहतरीन गाथा है. इस कहानी का नेगेटिव करैक्टर इस दुनिया का रूपांतर है. एक ऐसी दुनिया को जो अपने से निचले स्तर की हर इंसान का शोषण करना चाहती है, वहीं अनन्या का किरदार ऐसा बुना गया है जो इस दुनिया का डट कर मुकाबला करने की हिम्मत रखती है. इसके झांसे में न आने के लिए किसी भी हद तक गुजर सकती है. इस फिल्म के मुख्य किरदार आर्य बब्बर हैं, जो आंखों से सारा काम कर जाते हैं. वहीं, उनके सामने वेरोनिका वणिज हैं जो हर मिडिल क्लास घर में पली बढ़ी और सहमी हुई लड़की की अदाकारी में बिल्कुल फिट बैठती है. डायरेक्टर प्रदीप सिंगरोले इन एक्टर्स के अंदर से अपने किरदारों को खींच निकालने में बेहतरीन तरीके से सफल हुए हैं.

अपनी पहचान के अनुसार प्रड्यूसर अनिल काबरा ने मसाला फिल्मों के दौर में समाज को आईना दिखाने वाली ऐसी बेहतरीन फिल्म बनाकर सोसाइटी को एक मैसेज दिया है कि इंसान चाहे जितना भी मजबूर हो, उसे झुकना नहीं चाहिए . अनिल ऐसी ही फिल्मों के निर्माण में माहिर हैं.

वे इस फिल्म के जरिये भी बताना चाहते हैं कि अपने आप को बुरे लोगों के आगे समर्पित नहीं करना चाहिए. फिल्म में आकांक्षा वर्मा और त्रिपुरारी यादव ने भी बेहतरीन काम किया है. फिल्म 'बंद तिजोरी' बेहतरीन कलाकारों की ऐसी जुगल बंदी है जो हमें समाज और कॉर्पोरेट सेक्टर की एक डार्क साइड दिखाती है. ये कहना है अनिल काबरा का. वे कहते हैं कि वीमेन एम्पावरमेंट के इस बेहतरीन प्रदर्शन को हर किसी को देखना चाहिए और इससे सीख हासिल करनी चाहिए.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज