महाराष्ट्र भूषण पुरस्कार से सम्मानित की जाएंगी गायिका आशा भोसले, उद्धव ठाकरे ने दी बधाई

पुरस्कार समिति की बैठक में गुरुवार को यह निर्णय लिया गया.

पुरस्कार समिति की बैठक में गुरुवार को यह निर्णय लिया गया.

आशा भोसले (Asha Bhosle) को महाराष्ट्र भूषण पुरस्कार के लिए चुना गया है. उन्हें 2020 का महाराष्ट्र भूषण पुरस्कार (Maharashtra Bhushan Award) दिया जाएगा. पुरस्कार समिति की बैठक में गुरुवार को यह निर्णय लिया गया. बैठक की अध्यक्षता महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 25, 2021, 9:05 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महान गायिका आशा भोसले (Asha Bhosle) को महाराष्ट्र भूषण पुरस्कार (Maharashtra Bhushan Award) के लिए चुना गया है. उन्हें 2020 का महाराष्ट्र भूषण पुरस्कार दिया जाएगा. पुरस्कार समिति की बैठक में गुरुवार को यह निर्णय लिया गया. बैठक की अध्यक्षता महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने की.

आशा भोसले के पिता दीनानाथ मंगेशकर एक्टर और क्लासिकल सिंगर थे. आशा भोसले का जन्म महाराष्ट्र के सांगली में 1933 को हुआ था. 16 साल की उम्र में ही आशा भोसले ने गणपतराव भोसले से विवाह कर लिया था. गणपतराव उस समय 31 साल के थे. भोसले लगभग 16 हजार से अधिक गाने गा चुकीं हैं.

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के ऑफिस की तरफ से ट्वीट करके यह जानकारी दी गई. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है कि, 'प्रसिद्ध गायिका आशा भोसले को वर्ष 2020 के लिए महाराष्ट्र भूषण पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा. मुख्यमंत्री उद्धव बालासाहेब ठाकरे की अध्यक्षता में महाराष्ट्र भूषण पुरस्कार चयन समिति की बैठक में यह फैसला किया गया. पुरस्कार के लिए चयन होने के बाद मुख्यमंत्री ने आशा भोसले को बधाई दी.'

उद्धव ठाकरे के ऑफिस का ट्वीट.

आशा जब केवल 9 साल की ही थीं कि उनके पिता का देहांत हो गया था. पिता के असमय गुजर जाने के बाद उनका परिवार पुणे से कोल्हापुर आ गया, फिर कोल्हापुर के बाद पूरा परिवार मुंबई शिफ्ट हो गया. परिवार का खर्च चलाने के लिए बड़ी बहन लता मंगेशकर और आशा ने फिल्मों में गाना शुरू कर दिया था. आशा ने हिंदी फिल्म में गाने की शुरुआत 1948 में की. 1948 में उन्होंने हंसराज बहल की फिल्म चुनरिया में ‘सावन आया’ गाने को अपनी आवाज दी थी. 4 फिल्मों में गाने से आशा भोंसले को बहुत लोकप्रियता मिली. ये चार फिल्में- नया दौर (1957), तीसरी मंजिल (1966), उमरॉव जान (1981) और रंगीला (1995). इसमें नया दौर आशा भोसले की पहली हिट फिल्म थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज