Birthday Special : A.R. Rahman के वो 'नॉन हिंदी' गाने जो हुए सबसे ज्यादा फेमस!

Birthday Special : A.R. Rahman के वो 'नॉन हिंदी' गाने जो हुए सबसे ज्यादा फेमस!
एआर रहमान

रहमान की परफॉर्मेंस हमेशा एक ही लेवल की रही. एक के बाद एक बढ़िया गानों ने उन्हें धीरे-धीरे ब्रांड बना दिया और नेशनल अवॉर्ड्स के साथ-साथ ऑस्कर के अवॉर्ड ने इस माएस्ट्रो को विश्वभर में प्रसिद्ध कर दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 6, 2019, 4:51 AM IST
  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
एआर रहमान का नाम सुनते ही कानों में कोई मीठी सी धुन अपने-आप बजने लगती है. ये कहना कहीं न कहीं गलत नहीं होगा कि आज संगीत का दूसरा नाम ही रहमान बन गए हैं. आज यानी 6 जनवरी को रहमान अपना 51वां जन्मदिन मना रहे हैं.

जब तमिल म्यूजिक इंडस्ट्री में केवल इलैयाराजा का राज था और लोग उनके गानों के मुरीद थे. उस वक्त म्यूज़िक इंडस्ट्री में अपनी पहचान बनाना किसी के लिए आसान नहीं था. लेकिन इसे मुमकिन बनाने वाले बने एआर रहमान, जिन्होंने ना केवल तमिल, बल्कि हिंदी फिल्मों में भी ऐसा जादू चलाया कि संगीत का दूसरा नाम बन गए.

रहमान की परफॉर्मेंस हमेशा एक ही लेवल की रही. एक के बाद एक बढ़िया गानों ने उन्हें धीरे-धीरे ब्रांड बना दिया और नेशनल अवॉर्ड्स के साथ-साथ ऑस्कर के अवॉर्ड ने इस माएस्ट्रो को विश्वभर में प्रसिद्ध कर दिया.



उनके हिंदी गानों को सुनने वाले और समझने वालों की एक अच्छी ख़ासी फ़ेहरिस्त है लेकिन उनके नॉन हिंदी गानों को सुनने और पसंद करने वाले दुनिया भर में मौजूद हैं और भले ही उनके हिंदी गाने 'जय हो' के लिए उन्हें ऑस्कर मिला हो लेकिन 'जय हो' तक आने के लिए उन्होनें एक लंबा सफर तय किया है और अपने संगीत के साथ कई सुंदर प्रयोग उन्होनें किए हैं, जिन्हें हिंदी पट्टी के लोगों को भी सुनना चाहिए.



1. उर्वशी - साल 1994 में आई फिल्म Kadhalan में प्रभु देवा और नग़मा पर फिल्माया हुआ गाना उर्वशी-उर्वशी बेहद हिट रहा था. लेकिन जब ये गाना हिंदी में आया तो युवाओं के लिए एंथम बन गया. इस गाने को ए.आर. रहमान ने एमटीवी अनप्लग्ड के लिए भी गाया था.






2. साल 1993 में आई Uzhavan फिल्म का गाना पिन्नाला खूब पसंद किया गया था. इस गाने का संगीत कानो को इतना सुकून देता है कि हिंदी सुनने वालों के लिए भाषा भले ही एक रुकावट हो आप इसके संगीत की रुमानियत को महसूस कर पाएंगे. एक लाइव कार्यक्रम में जब रहमान ने इस गाने को मंच पर चार गायकों के साथ परफ़ॉर्म किया था तो सुनने वालों की लॉटरी लग गई थी.






3. तमिल फिल्म मरयन (2013) का सुपरहिट गाना निनजे येझु भी एक रोमांटिक ट्रैक है. जिसका म्यूजिक आपको कानों में ऐसा घुल जाएगा कि आप भूल जाएंगे कि आप एक अलग भाषा का गाना सुन रहे हैं. धनुष पर फिल्माए गए इस गाने में एक टूटे हुए, मजबूर आशिक का दर्द है जो हर कीमत पर अपनी महबूबा को पा लेना चाहता है.






4. 1995 में आई फ़िल्म बांबे का गाना 'हम्मा हम्मा' आज भी रेडियो स्टेशन्स की प्ले लिस्ट का हिस्सा है. इस गाने को जब तेलुगू में बनाया गया था, तो मणिरत्नम ने रहमान से कह दिया था कि वो हम्मा हम्मा को हिंदी में इसी धुन में रखेंगे और भले ही बोल बदलने पड़े वो संगीत नहीं बदलेंगे, बाकी सब इतिहास है.






5. कधल रोजावे फिल्म का हर गाना रहमान के करियर की एक बड़ी कड़ी रहा है. इस फ़िल्म के साथ रहमान ने हिंदी फ़िल्मों में पदार्पण किया था और अपने संगीत के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार जीता था. यह पहली बार था कि किसी संगीत निर्देशक को डेब्यू फ़िल्म के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार मिला था. एस पी बालासुब्रमणियम और सुजाथा मोहन की आवाज में गाया रोजा रहमान की मैजिकल कंपोजिशन में से एक है.






6. तमिल फिल्म थिरुदा थिरुदा का गाना Veerapandi Kottaiyile रहमान की बेहतरीन परफॉर्मेंस में से एक है. आज कल के सुपरहिट संगीतकार अमित त्रिवेदी रहमान की इस एल्बम को अपने संगीत की प्रेरणा मानते हैं. रहमान के इस एलब्म की ख़ासियत थी फ्यूजन - उन्होनें पश्चिमी वाद्य यंत्रो को तमिल और तेलेगु के लोक संगीत के साथ मिक्स किया था और वीरापंडी इस एल्बम का सुपरहिट गीत था.






7. फिल्म बांबे के इस गाने की एक ख़ास बात ये है कि रहमान ने इसके लीड सिंगर हरिहरन से ही इस फ़िल्म के तमिल, तेलुगू और हिंदी वर्जन में इस गीत को गवाया. हालांकि फीमेल वाइस के लिए उन्होनें हिंदी वर्जन में कविता कृष्णामूर्ति को लिया. जहां एक तरफ़ इस एल्बम में हम्मा हम्मा जैसा डांसिंग नंबर था वहीं 'उयिरे उयिरे' या फिर 'तू ही रे' इसे एक रोमांटिक फील देता था.






8. 1996 में आई फ़िल्म कधल देसम के गाने 'मुस्तफा-मुस्तफा' को 'पुरानी जींस' से पहले आया फ्रेंडशिप एंथम माना जा सकता है. इस फिल्म को हिंदी में 'दुनिया दिलवालों की'  नाम से बनाया गया लेकिन फिल्म ने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया, ए आर रहमान की आवाज़ में गाया ये गीत हिंदी में कुछ अजीब सा लगता है और इसके बोल फिट किए लगते हैं, लेकिन इसे सुनने के बाद आप इसे गुनगुनाते रह जाएंगे, क्योंकि ये अक्सर होता है.






9. काजोल की पहली तमिल फिल्म मिन्सारा कन्नवू के लिए बना स्ट्रबेरी कन्ने कॉलेज की मस्ती दिखाता है. इस गाने के लिए रहमान को नेशनल अवॉर्ड भी मिला था. इस फ़िल्म को हिंदी में 'सपने' के नाम से रिलीज़ किया गया था और गाने 'उ ला ला ला' के लिए गायिका चित्रा को भी राष्ट्रीय पुरस्कार मिला.






10. Vidai Kodu Engal Naade रहमान ने फिल्म कन्नथिल मुथामित्तल के लिए बनाया था. इस गाने के लिए रहमान को बेस्ट म्यूजिक डायरेक्शन के लिए नेशनल अवॉर्ड मिला था.​ इसके अलावा न्यूयॉर्क नगरम में उनका ये गाना काफी पसंद किया गया था.






एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
First published: January 6, 2019, 4:51 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading