HBD अमिताभ बच्चन के पिता ने लिखा- मुझे नहीं लगता उसमें टैलेंट है, तो ऐसे मिला पहला ब्रेक

अमिताभ बच्चन.

इलाहाबाद में 11 अक्टूबर 1942 को जन्मे अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने 1969 में फिल्म सात हिंदुस्तानी (Saat Hindustani) से अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की थी, लेकिन 1973 में आई फिल्म जंजीर में पुलिस इंस्पेक्टर की उनकी भूमिका ने उन्हें एंग्री यंगमैन का तमगा दिलाया.

  • Share this:
    मुंबई. साल के दसवें महीने की 11वीं तारीख को जन्मे इस शख्स को कोई एंग्री यंगमैन कहता है, कोई सदी का महानायक, कोई बिग बी तो कोई शहंशाह. उनके बारे में कहा जा सकता है कि, उनके जितने प्रशंसक हैं, उतने ही उनके नाम हैं. हम बात कर रहे हैं हिंदी सिनेमा के सर्वकालिक लोकप्रिय एक्टर अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) की. भारत के सिनेमा के इतिहास में युगपुरूष का दर्जा रखने वाले हरदिल अजीज कलाकार अमिताभ बच्चन का जन्म 11 अक्टूबर को ही हुआ था.



    इलाहाबाद में 11 अक्टूबर 1942 को जन्मे अमिताभ ने 1969 में फिल्म सात हिंदुस्तानी (Saat Hindustani) से अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की थी, लेकिन 1973 में आई फिल्म जंजीर में पुलिस इंस्पेक्टर की उनकी भूमिका ने उन्हें एंग्री यंगमैन का तमगा दिलाया और उसके बाद दीवार और शोले जैसी फिल्मों ने उन्हें एक महान अभिनेता के तौर पर गढ़ दिया. इसके बाद की कहानी अपने आप में किसी परीकथा से कम नहीं है.




    ऐसा ही एक किस्सा उन्हें फिल्मों में ब्रेक मिलने का. अमिताभ बच्चन कोलकाता में थे, तो उनके भाई अजिताभ ने उन्हें जल्द से जल्द मुंबई आकर फिल्ममेकर ख्वाजा अहमद अब्बास से मिलने को कहा. अमिताभ बच्चन मुंबई आकर अब्बास से मिले. अब्बास ने उनसे पूछा कि 'क्या तुम साहित्यकार हरिवंश राय बच्चन के बेटे हो, क्या तुम घर से भागकर यहां आए हो'? अमिताभ ने कहा कि, पिताजी को मालूम है कि मैं यहां आया हूं. यकीन नहीं होने पर अब्बास ने हरिवंश राय बच्चन को चिट्ठी लिखकर पूछा कि आपका बेटा फिल्मों में काम करना चाहता है, क्या आपकी अनुमति है?

    जवाब में हरिवंश राय बच्चन ने लिखा कि, 'अगर आपको लगता है कि उसमें प्रतिभा है तो मेरी आज्ञा है, लेकिन मुझे नहीं लगता कि उसमें कोई टैलेंट है, आप उसे वापस भेज दीजिए.' हरिवंश राय की अनुमति मिलने के बाद ख्वाजा अहमद अब्बास ने बिग बी को फिल्म 'सात हिंदुस्तानी' में ब्रेक दे दिया. आज अमिताभ बच्चन फिल्म इंडस्ट्री के एक मात्र महानायक कहे जाते हैं. आज कई कम बजट वाले फिल्ममेकर उन्हें अपनी फिल्म में कास्ट नहीं कर पाते हैं क्योंकि वे करोड़ों में फीस लेते हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.