• Home
  • »
  • News
  • »
  • entertainment
  • »
  • नीना गुप्ता, दो नेशनल अवार्ड फिर भी इस कंट्रोवर्सी से मिली पहचान

नीना गुप्ता, दो नेशनल अवार्ड फिर भी इस कंट्रोवर्सी से मिली पहचान

image: news18

image: news18

आज नीना 58 साल की हो गई हैं.

  • Share this:
    बॉलीवुड और टीवी की दुनिया की कुछ सबसे कंट्रोवर्शियल हीरोइनों में से एक नीना गुप्ता का आज यानि 4 जुलाई को जन्मदिन है. आज नीना 58 साल की हो गई हैं.

    दिल्ली में जन्मीं नीना गुप्ता ने हिमाचल के लॉरेंस बोर्डिंग स्कूल में पढ़ाई की. उसके बाद वो लौटकर दिल्ली आईं और डीयू के दौलत राम कॉलेज से संस्कृत में मास्टर्स किया. आगे की पढ़ाई के लिए उन्होंने एमफिल में एडमिशन तो ले लिया लेकिन पढ़ाई में मन नहीं लगा.

    नीना फिल्मों में एक्टिंग करना चाहती थीं. इसलिए उन्होंने मुंबई का रुख किया. टीवी सीरियल और फिल्मों में एक्टिंग की, स्क्रिप्ट लिखीं, निर्देशन किया.

    फिल्मों में नीना ने आगाज किया था 1982 में आई फिल्म 'ये नजदीकियां' से. उन्हें असली पहचान मिली 1985 में आए दूरदर्शन के सीरियल 'खानदान' से. इसके बाद नीना का सफर यूं ही चल पड़ा.

    फिल्म खलनायक के गाने 'चोली के पीछे क्या है' ने नीना को बहुत मशहूर कर दिया था.


    इसके अलावा नीना ने टीवी शो 'कमजोर कड़ी कौन' होस्ट किया था.

    साल 1993 में नीना को फिल्म 'बाजार सीताराम' के लिए 'सर्वश्रेष्ठ फिल्म' और 1994 में उनको फिल्म 'वो छोकरी' के लिए 'सर्वश्रेष्ठ सह-कलाकार' का नेशनल अवार्ड मिला था.

    लेकिन अवार्ड्स, एक्टिंग और निर्देशन से ज्यादा नीना को याद रखा जाता है उनके एक बोल्ड कदम के लिए, बिना शादी किये बच्चा पैदा करने के फैसले के लिए.

    वेस्ट इंडीज टीम के उस वक़्त के कप्तान विवियन रिचर्ड्स के साथ अफेयर ने नीना को अखबारों और मैगजीनों में सुर्खियों में ला दिया था. हालांकि उनका अफेयर बहुत कम दिन ही चला लेकिन जब नीना ने एक बच्ची को जन्म देने के निर्णय लिया, उनके परिवार में हडकंप मच गया.

    एक इंटरव्यू में नीना ने बताया था कि जब उन्होंने अपने माता-पिता से कहा कि वो एक बच्ची को जन्म देना चाहती हैं लेकिन उसके पिता से शादी नहीं करेंगी, उनके पेरेंट्स बहुत नाराज हुए.

    लेकिन अपनी बेटी की दृढ इच्छा के चलते उन्होंने नीना को बहुत सपोर्ट किया. साथ ही नीना ने यह भी कहा था कि उनके और विवियन रिचर्ड्स के बीच कोई इमोशनल रिश्ता कभी नहीं रहा था.

    जब अखबार में छपा था नीना की बेटी का बर्थ सर्टिफिकेट:

    नीना गुप्ता जब प्रेग्नेंट हुई थीं, उन्होंने मीडिया और अपने काम से दूरी बना ली थी. साल 1989 में उन्होंने अपनी बेटी मसाबा को जन्म दिया. अखबारों और फिल्म इंडस्ट्री में उनकी बच्ची के पिता का नाम जानने की खलबली मच गई. लेकिन नीना ने इस राज को लोगों के सामने उजागर नहीं होने दिया.

    विवियन रिचर्ड्स पूरी दुनिया में एक लोकप्रिय व्यक्ति थे. शायद नीना नहीं चाहती थीं कि उनकी छवि पर कोई गलत असर पड़े.

    image: twitter
    image: twitter


    लेकिन फिल्म प्रोड्यूसर और पत्रकार प्रितिश नंदी को कहीं से मसाबा का बर्थ सर्टिफिकेट मिल गया. उस सर्टिफिकेट में पिता के स्थान में विवियन का नाम देखकर उन्होंने नीना को धमकी दी कि वो मीडिया में आकर मसाबा के पिता का नाम जगजाहिर करें, वरना वो अखबार में मसाबा का बर्थ सर्टिफिकेट छपवा देंगे.

    नीना ने प्रितीश नंदी की बात नहीं मानी. मसाबा का बर्थ सर्टिफिकेट 'वीकली ऑफ इंडिया' नाम के अखबार में छापा गया.

    इसके बाद नीना को दुनिया के सामने सच मानना ही पड़ा. अच्छी बात यह थी विवियन रिचर्ड्स ने भी यह बात मानी कि मसाबा उनकी बेटी है. वो अकसर नीना और मसाबा से मिलने इंडिया आते थे या उन्हें अपने साथ वेस्ट इंडीज ले जाते थे.

    बेटी मसाबा नीना के लिए सबसे खास हैं. साल 2008 में नीना ने अमेरिका में रहने वाले एक बिजनेसमैन विवेक मेहरा से शादी की. अब वह अपनी फैमिली लाइफ में बहुत खुश हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज