ये हैं उस गीतकार के 10 फेमस गाने, जिसके एक गाने ने रानू मंडल को बना दिया स्टार

News18Hindi
Updated: September 2, 2019, 7:23 PM IST
ये हैं उस गीतकार के 10 फेमस गाने, जिसके एक गाने ने रानू मंडल को बना दिया स्टार
ये हैं उस गीतकार के 10 फेमस गाने, जिसके एक गाने ने रानू मंडल को बना दिया स्टार

फिल्म फेयर अवॉर्ड विनर गीतकार संतोष आनंद के कई ऐसे गीत है जो आप बिना सुने रह नहीं सकेंगे. ऐसे ही है ये 10 बेहतरीन गाने, आप भी सुनें....

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 2, 2019, 7:23 PM IST
  • Share this:
रेलवे स्टेशन पर‘एक प्यार का नगमा है…’गाने वाली रानू मंडल बॉलीवुड सिंगर हो गईं लेकिन इस गाने को लिखने वाले गीतकार संतोष आनंद खुद गुमनामी की ज़िंदगी जी रहे हैं. असल में इंडस्ट्री के गीतकारों को लेकर हमेशा से यह धारणा रही है कि उन्हें उचित सम्मान और मेहनताना नहीं मिला. उनके लिखे गाने बेहद मशहूर हुए, लेकिन उन्हें कभी इंडस्ट्री में वो तवज्जो नहीं दी जो देनी चाहिए. मीडियो रिपोर्ट के अनुसार रानू मंडल पर  गीतकार संतोष आनंद ने कहा, 'मैं खुश हूं कि मेरे लिखे गीत से किसी की जिंदगी बदल गई. मुझे नहीं पता कि उन्हें मालूम भी होगा की इस गीत के गीतकार कौन है. लेकिन मैं रानू मंडल के संघर्षों को समझ सकता हूं.'

मीडिया को संतोष आनंद ने बताया कि उन्हें रोजाना कई फोन आ रहे हैं कि आपका गीत गाकर भीख मांगने वाली महिला को हिमेश रेशमिया ने अपनी फिल्म में काम करने का मौका दिया. मेरे पास स्मार्ट फोन भी नहीं है कि मैं रानू मंडल के गाए इस गीत को सुन पाऊं. आगे अपने बारे में बताते- बताते संतोष आनंद कहते हैं कि अब तो केवल जी रहा हूं. बेटे की मौत के बाद जिंदगी के सारे रंग जैसे चले गए हों.'

गीतकार संतोष आंनद
गीतकार संतोष आंनद


बता दें कि साल 2014 में गीतकार संतोष आनंद के बहु-बेटे ने कथित तौर पर सुसाइड कर लिया था. इस घटना के घाव आज भी संतोष आंनद के दिल में ताजा है. साल 1970 से लेकर 1998 तक फिल्मों के लिए कई बेहतरीन गाने लिखने वाले संतोष इस वक्त फिल्मी दुनिया से दूर दिल्ली में हैं. वो सुखदेव विहार कॉलोनी के डीडीए फ्लैट्स में रहते हैं. किसी जमाने में हरदम एक्टिव रहने वाले संतोष अब ठीक से चल भी नहीं पाते लेकिन आज भी वे कवि सम्मेलन में जाते हैं.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार संतोष आंनद बताते हैं, 'मैं फिल्मों में अच्छे और यादगार गीत इसलिए दे पाया क्योंकि मैं साहित्य की पृष्ठभूमि से आया था. गीतों के साथ ही उस वक्त के संगीतकार भी उम्दा थे. लक्ष्मीकांत प्यारेलाल के साथ मेरी जोड़ी सबसे हिट रही है. मैं उस दिन बिखर गया जब लक्ष्मीकांत प्यारेलाल इस दुनिया में नहीं रहे!

फिल्म फेयर अवॉर्ड विनर गीतकार संतोष आनंद के कई ऐसे गीत है जो आप बिना सुने रह नहीं सकेंगे. ऐसे ही है ये 10 बेहतरीन गाने, आप भी सुनें....

    Loading...

  1. ‘पूरब और पश्चिम’ फिल्म की पुरवा सुहानी आई रे.....

  2. प्रेम रोग’ फिल्म का मोहब्बत है क्या चीज ...

  3. रोटी कपड़ा और मकान फिल्म का मैं ना भूलूंगा…

  4. प्यासा सावन फिल्म का गाना मेघा रे मेघा रे....

  5. क्रांति फिल्म का जिंदगी की न टूटे लड़ी...

  6. तिरंगा फिल्म से इससे समझो ना रेशम का तार भैया...

  7. जुनून फिल्म का जो प्यार कर गए, वो लोग और थे...

  8.  प्रेम रोग फिल्म का मैं हूं प्रेम रोगी ....

  9. क्रांति फिल्म का अब के बरस तुझे धरती की रानी ...

  10. रोटी कपड़ा और मकान फिल्म का  हाय-हाय ये मजबूरी...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बॉलीवुड से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 2, 2019, 7:23 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...