अपना शहर चुनें

States

वीकेंड प्लान: OTT प्लेटफॉर्म पर मात्र 15 घंटे में देख सकते हैं ये 7 अंडर रेटेड फिल्में

मात्र 15 घंटे में देख सकते हैं ये 7 शानदार फिल्में (फोटो: सोशल मीडिया)
मात्र 15 घंटे में देख सकते हैं ये 7 शानदार फिल्में (फोटो: सोशल मीडिया)

हम आपको बता रहे हैं OTT प्लेटफॉर्म पर मौजूद 7 ऐसी फिल्मों (Film) के बारे में जिन्हें लोग अंडर रेटेड समझकर ना देखने की भूल कर बैठते हैं. इन तमाम फिल्मों की खासियत ये है कि आप इन्हें देखकर बोर नहीं होंगे और अगर आप इन्हें किसी दिन एक के बाद एक देखते हैं तो इन फिल्मों को आप महज 15 घंटे में खत्म कर लेंगे! यानी ये फिल्में कम वक्त में आपको ज्यादा मनोरंजन देंगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 25, 2020, 4:21 PM IST
  • Share this:
सिनेमा के शौकीन अच्छी फिल्मों की तलाश में अलग-अलग ओटीटी प्लेटफॉर्म पर नजर गड़ाए रहते हैं या फिर दूसरों से फिल्म के सजेशन लेते रहते हैं लेकिन अक्सर वो ये शिकायत करते हैं कि उन्हें कोई अच्छी फिल्म नहीं मिल रही. या फिर उनके पास वक्त की कमी है. ऐसे में सिनेमा से जुड़ा उनका एक्सपीरियंस खराब साबित होता है. मगर आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है. हमने आपके वीकेंड का इंतजाम कर दिया है. हम आपको बता रहे हैं  नेटफ्लिक्स पर मौजूद 7 ऐसी फिल्मों के बारे में जिन्हें लोग अंडर रेटेड समझकर ना देखने की भूल कर बैठते हैं. इन तमाम फिल्मों की खासियत ये है कि आप इन्हें देखकर बोर नहीं होंगे और अगर आप इन्हें किसी दिन एक के बाद एक देखते हैं तो इन फिल्मों को आप महज 15 घंटे में खत्म कर लेंगे! यानी ये फिल्में कम वक्त में आपको ज्यादा मनोरंजन देंगी.

दो पैसे की धूप, चार आने की बारिश
इस फिल्म का निर्देशन दीप्ति नवल ने किया था. फिल्म में मनीषा कोइराला और रजित कपूर मुख्य किरदार में हैं. फिल्म की कहानी एक ऐसी महीला की है जो देह व्यापार करती है. महिला को अपने अपाहिज बेटे के लिए पैसों की जरूरत है. उसकी जिंदगी में बदलाव तब आता है जब एक समलैंगिक लेखक से उसकी मुलाकात होती है.

सूडानी फ़्रॉम नाइजीरिया
फिल्म का निर्देशन ज़कारिया मोहम्मद ने किया था. ये एक मलयालम फिल्म थी जिसे मलयालम भाष में 2018 में बेस्ट फीचर फिल्म के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार मिला था. 'सुदानी फ्रॉम नाइजीरिया' में मुख्य भूमिका, युवा नाइजीरियाई अभिनेता सैमुएल एबियोला ने निभाई थी. ये फिल्म स्पोर्ट्स पर आधारित है.




हामिद
'हामिद' एक 8 साल के बच्चे की कहानी है जिसमें वो अपने गुमशुदा पिता की तलाश कर रहा है. इस फिल्म का निर्देशन ऐजाज खान ने किया है. ये फिल्म 2019 में रिलीज हुई थी.


तिथि
2016 में रिलीज हुई इस फिल्म को कन्नड़ में बेस्ट फीचर फिल्म के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार मिला था. राम रेड्डी ने इस फिल्म का निर्देशन किया था. फिल्म की कहानी तीन पीढ़ियों के इर्द-गिर्द घूमती है.


रोड टू संगम
इस फिल्म में परेश रावल का अभिनय सराहनीय है. प्रयागराज में शूट हुई इस फिल्म की कहानी एक कार मेकैनिक पर आधारित है. फिल्म का निर्देशन अमित राय ने किया है.


उमरीका
इस फिल्म की कहानी एक ऐसे युवा की है जो अपने खोए हुए भाई की तलाश में है. फिल्म में प्रतीक बब्बर, राजेश तैलांग और आदिल हुसैन जैसे दिग्गज अभिनेता भी हैं.


हरिश्चंद्राची फैक्ट्री
इस फिल्म को भारत की ओर से ऑस्कर में भी भेजा गया था. भारतीय सिनेमा के जनक, दादा साहेब फाल्के के जीवन पर आधारित है.


यहां हमने आपको सिर्फ 7 फिल्में ही बताई हैं मगर ऐसी बहुत सी फिल्में हैं जो अंडर रेटेड हैं मगर उन्हें देखकर आप कई इमोशन्स का अनुभव करेंगे साथ ही आपका भरपूर मनोरंजन होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज