अपना शहर चुनें

States

विदेशी फिल्‍म की कॉपी नहीं है न्यूटन...ये रहा सबूत

क्या ईरानियन फिल्म की कॉपी है न्यूटन ?
क्या ईरानियन फिल्म की कॉपी है न्यूटन ?

क्या ईरानियन फिल्म की नकल है न्यूटन ?

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 25, 2017, 7:01 PM IST
  • Share this:
राजकुमार राव की फिल्म 'न्यूटन' दर्शकों का दिल जीत रही है और फिल्म को हर तरफ तारीफ हासिल हो रही है. 'न्यूटन' 26 फिल्मों को पछाड़ते हुए ऑस्कर में भारत की आधिकारिक एंट्री भी बन गई है लेकिन अब 'न्यूटन' पर आरोप लग रहे हैं कि ये एक ईरानियन फिल्म सीक्रेट बैलेट की नकल है.

'सीक्रेट बैलेट' का निर्देशन बाबाक पियानी ने किया था और ये फिल्म 2001 में रिलीज हुई थी. 'न्यूटन' की तरह सीक्रेट बैलेट को भी कई इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल्स में दिखाया गया था जहां फिल्म को काफी सराहना मिली थी.

सबसे पहले उन समानताओं की बात करते हैं जिनके आधार पर कहा जा रहा है कि न्यूटन सीक्रेट बैलेट की नकल है.



दरअसल न्यूटन और सीक्रेट बैलेट दोनों ही दो ऐसे लोगों की कहानी है जो एक ऐसे इलाकों में चुनाव प्रक्रिया संपन्न कराने पहुंचते हैं जो बहुत दुर्गम हैं और जहां लोगों का वोटिंग के प्रति रुझान ना के बराबर है.
'न्यूटन' में ये इलाका नक्सल प्रभावित छत्तीसगढ़ का एक जंगल है तो सीक्रेट बैलेट में एक ये इलाका एक दूर दराज का आइलैंड है जहां नाम मात्र की आबादी रहती है.

न्यूटन में चुनावी प्रक्रिया के दौरान राजकुमार राव का साथ असिस्टेंट कमांडेंट आत्मा सिंह देता है तो 'सीक्रेट बैलेट' में चुनाव कराने वाली अनाम महिला का साथ एक सैनिक देता है.

'सीक्रेट बैलेट' के सैनिक और 'न्यूटन' के आत्मा सिंह दोनों की ही चुनावी प्रक्रिया में कुछ खास दिलचस्पी नहीं है. 'सीक्रेट बैलेट' यू ट्यूब पर उपलब्ध है और फिल्म के अलग अलग हिस्सों को देखकर लगता है कि फिल्म की कहानी न्यूटन से मिलती जुलती है लेकिन गौर से देखने पर आपको एहसास हो जाएगा कि इन दोनों फिल्मों की आगे की कहानी और ट्रीटमेंट में जमीन आसमान का फर्क है.

हालांकि दोनों ही फिल्में चुनावी प्रक्रिया के इर्द गिर्द घूमती है और दोनों ही डार्क कॉमेडी श्रेणी की फिल्म है लेकिन दोनों की फिल्मों की विषय वस्तु और कहानी काफी अलग है. न्यूटन के डायरेक्टर अमित मसुरकर ने भी कहा है कि जब वो पहले दिन 'न्यूटन' की शूटिंग कर रहे थे तो उन्हें किसी ने बताया था कि इसी तरह की कहानी पर एक फिल्म ईरान में भी बनाई जा चुकी है.

अमित के मुताबिक उन्होंने 'सीक्रेट बैलेट' को टुकड़ों में देखा और पाया कि उनकी फिल्म की कहानी काफी अलग है. सीक्रेट बैलेट में एक रोमांटिक ट्रैक भी है जबकि न्यूटन में ऐसा नहीं दिखाया गया है.

यह भी पढ़ें

अगर बिग बॉस के घर है जाना तो ये रहा आपका पास!

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज