ऋतिक रोशन ने रिक्शा चालक के बेटे को दिए 3 लाख रुपए, पूरा करना चाहता है ये सपना

ऋतिक रोशन (Photo Credit-hrithikroshan/Instagram)
ऋतिक रोशन (Photo Credit-hrithikroshan/Instagram)

अभिनेता ऋतिक रोशन (Hrithik Roshan), रिक्शा चालक के बेटे (Rickshaw Driver Son) की मदद के लिए आएग आए हैं. ऋतिक ने उसके सपने को पूरा करने के लिए आर्थिक मदद दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 22, 2020, 11:41 PM IST
  • Share this:
मुंबई. बॉलीवुड अभिनेता ऋतिक रोशन (Hrithik Roshan) इन दिनों सोशल मीडिया पर खूब एक्टिव हैं, वो आए दिन अपने फैंस के साथ दिलचस्प पोस्ट शेयर करके खबरों में छा जाते हैं. लेकिन हाल ही में वो एक अलग ही वजह से चर्चाओं के साथ-साथ तारीफें भी बटोर रहे हैं. ऋतिक रोशन ने एक ई-रिक्शा चालक के 20 साल के बेटे (Rickshaw Driver Son) की आर्थिक मदद की है. ये मदद उसके एक खास सपने को पूरा करने के लिए की गई है. ऋतिक रोशन ने इस शख्स की मदद HRX फिल्म के जरिए की है. इसकी जानकारी कुछ रिक्शा चालक के बेटे ने शेयर की है.

ऋतिक रोशन ने ई-रिक्शा चालक के 20 साल के बेटे कमल सिंह के सपने को पूरा करने में उसकी मदद की है. इसके लिए उन्होंने कमल को 3 लाख रुपए डोनेट किए हैं. हिंदुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक कमल ई-रिक्शा चालक का बेटा का है, जो दिल्ली के विकास पुरी में रहता है. कमल का सपना है बैले डांसर बनने का. इसके लिए वो इंग्लैंड के 'द इंग्लिश बैले स्कूल ऑफ लंदन' ज्वाइन करना चाहता है.





इसके बारे में बताते हुए कमल ने फंडरेजिंग प्लैटफॉर्म केटो पर लिखा- 'चार साल पहले, मैंने बैले के बारे में सुना था. मेरे पिता एक ई-रिक्शा ड्राइवर हैं और मैंने लोकल सरकारी स्कूल से पढ़ाई की है. मैं हमेशा से चाहता था लेकिन मेरे पास डांस क्लास अटेंड करने के लिए पैसे नहीं थे'. इस पोस्ट में उन्होंने बताया कि किस तरह वे दिल्ली के एक डांस क्लास में पहुंचे और यहां पर उन्हें बैले के बारे में पता चला, जिसके बाद वो इंग्लैंड के एक बैले डांस स्कूल में जाना चाहते थे. उन्हें यहां से 1 साल की ट्रनिंग का ऑफर भी आया लेकिन इसके लिए उन्हें 25 लाख रुपए चाहिए थे.
जिसके बाद उन्होंने केटो से की 17 लाख रुपए जमा किए और उन्होंने अपने पोस्ट में 3 लाख रुपए डोनेट करने के लिए ऋतिक रोशन को भी धन्यवाद कहा है. कमल ने ऋतिक रोशन को इंस्टाग्राम पर भी स्टोरी शेयर कर शुक्रिया कहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज