इरफान खान की याद करते-करते बोल बैठीं पत्नी सुतापा- 'CBD ऑयल लीगल करो'

सुतापा सिकदर सोशल मीडिया पर एक्टिव रहती हैं. (फाइल फोटो)
सुतापा सिकदर सोशल मीडिया पर एक्टिव रहती हैं. (फाइल फोटो)

इरफान खान (Irrfan Khan) को याद करते हुए सिकदर (Sutapa Sikdar) ने इमोशनल मैसेज लिखा साथ ही सीबीडी ऑयल लीगल करने की बात को कहा. 

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 1, 2020, 7:52 AM IST
  • Share this:
मुंबई. इरफान खान (Irrfan Khan) के निधन के बाद से उनकी पत्नी सुतापा सिकदर (Sutapa Sikdar) अक्सर उन्हें याद कर इमोशनल पोस्ट शेयर करती रहती हैं. हाल ही में उन्होंने इरफान को याद करते एक पोस्ट शेयर किया और सीबीडी ऑयल (CBD Oil) की लीगल करने की मांग कर डाली. इस पोस्ट ने सभी को हैरान कर दिया है. सुतापा ने लंदन के उस हॉस्पिटल की फोटो को शेयर किया, जिसमें इरफान का इलाज हुआ करता था. इस तस्वीर को पोस्ट करते समय उन्होंने इमोशनल मैसेज लिखा साथ ही सीबीडी ऑयल लीगल करो जैसे हैशटैग इस्तेमाल कर लोगों को चकित कर दिया.

सुतापा सिकदर (Sutapa Sikdar) ने इंस्टाग्राम पर हॉस्पिटल की फोटो के साथा लिखा- लंदन के इस अस्पताल को आज भी उन्हीं नजरों से देख रही हूं जैसे तब देखा करती थी जब इरफान यहां मौजूद थे. काश तुम यहां होते. इस पोस्ट के साथ उन्होंने कई हैगटैग्स यूज किए हैं, जिसमें से एक सीबीडी ऑयल को इंडिया में वैध करने को लेकर भी है. उन्होंने #walkingalone #wishyouwerethere #cancerpain और #LegalizeCBDoilinindia हैगटैग्स यूज किए हैं.


सीबीडी ऑयल के बारे में माना जाता है कि इससे दर्द में आराम महसूस होता है और कई कैंसर मरीजों की ट्रीटमेंट के समय भी इसे इस्तेमाल किया जाता है. सुशांत सिंह राजपूत केस में ड्रग एंगल सामने आने के बाद से सीबीडी ऑयल को लेकर चर्चाएं हो रही हैं. भारत में ये लीगल नहीं है. सोशल मीडिया पर भी  यूजर्स ये सवाल उठा रहा हैं कि अगर ये ड्रग अवैध है तो आसानी से कैसे मिल रहा है.



सुशांत सिंह राजपूत केस में ईडी ने एक्टर की टैलेंट मैनेजर जया साहा की चैट को रिट्रीव किया था, जिसमें इस बात का जिक्र था कि जया ने सुशांत को सीबीडी ऑयल देने की बात कही है. वहीं, सीबीडी ऑयल को लेकर ही एक्ट्रेस श्रद्धा कपूर भी बॉलीवुड ड्रग्स कनेक्शन मामले में फंसी हैं.

आपको बता दें कि सीबीडी ऑयल एक तरह का ड्रग है, जो की भारत में बैन है. हालांकि इसमें औषधीय गुण होते हैं जो दर्द, चिंता और डिप्रेशन में भी लोगों को राहत पहुंचाते हैं. इसे हार्ट के इलाज के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है. इसके साथ ही कैंसर के लक्षणों को कम करने के लिए भी इसका इस्तेमाल होता है. दवा के तौर पर इसका प्रयोग होता है लेकिन नशे के लिए ये भारत में बैन है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज