होम /न्यूज /मनोरंजन /'काली' डायरेक्टर लीना मणिमेकलाई पर आग बबूला हुए अशोक पंडित, बोले- 'उसकी जगह जेल में है'

'काली' डायरेक्टर लीना मणिमेकलाई पर आग बबूला हुए अशोक पंडित, बोले- 'उसकी जगह जेल में है'

अशोक पंडित ने लीना मणिमेकलाई पर रिएक्ट किया है.

अशोक पंडित ने लीना मणिमेकलाई पर रिएक्ट किया है.

Kaali Poster Controversy: 'काली' पर शुरू हुए विवाद के बाद ट्विटर ने एक्शन लिया और इसके पोस्टर को हटा दिया है. इस मामले ...अधिक पढ़ें

सोशल मीडिया (Social Media) पर इन दिनों डॉक्यूमेंट्री फिल्म ‘काली’ के पोस्टर (Kaali Poster) को लेकर जबरदस्त बवाल मचा हुआ है. ट्विटर (Twitter) पर फिल्म के पोस्टर और प्रोड्यूसर लीना मणिमेकलाई (Leena Manimekalai) को जबरदस्त विरोध हो रहा है. ‘काली’ पर शुरू हुए विवाद के बाद ट्विटर ने एक्शन लिया और इसके पोस्टर को हटा दिया है. इस मामले पर अब फिल्ममेकर अशोक पंडित ( Ashoke Pandit) ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए प्रोड्यूसर लीना मणिमेकलाई पर जमकर भड़ास निकाली है.

लीना मणिमेकलाई (Leena Manimekalai) अपनी नई डॉक्यूमेंट्री फिल्म काली के पोस्टर की वजह से विवादों में घिर गई हैं. पोस्टर में देवी काली के गेटअप में महिला को सिगरेट पीते और LGBTQ+ कम्यूनिटी का झंडा लिए दिखाया गया है. हिंदू संगठन लगातार इस फिल्म का विरोध कर रहे हैं. हिंदुओं ने लीना पर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है. फिल्ममेकर अशोक पंडित ( Ashoke Pandit) ने लीना पर जंकर भड़ास निकाली और कहा कि जेल जाना ही चाहिए, क्योंकि उसकी जगह जेल में है.

टाइम्स नाऊ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीय फिल्म निर्माता अशोक पंडित ने लीना के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए कहा, ‘वह नफरत फैलाने वाली हैं, वह देश में अशांति पैदा करने की कोशिश कर रही हैं. उन्होंने कहा कि लीना ने काली माता को इस तरह पेश करके हमारी भावनाओं को आहत किया है. उसे गिरफ्तार किया जाना चाहिए, उसकी जगह जेल में है.

अशोक पंडित ने आगे कहा कि उनके ट्वीट्स देखिए. उन्होंने भगवान राम का मजाक उड़ाया है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी नहीं छोड़ा है. वह हिंदू धर्म, हिंदू संस्कृति और हिंदू आस्था के विपरीत है.

आपको बता दें कि भारत के साथ कनाडा, ओटावा में भी इस पोस्टर पर बवाल मचा हुआ है. कनाडा, ओटावा में भारत के हाई कमिशन ने कनाडाई अथॉरिटीज से कहा है कि इस तरह का उकसाने वाला मटीरियल हटा लें. भारत में कई जगह लीला के खिलाफ केस दर्ज किया गया है. फिल्म के विरोध में दिल्ली पुलिस को दो शिकायतें मिली हैं और इन पर कार्रवाई करते हुए दिल्ली की IFSO यूनिट ने सेक्शन 153A (धर्म जाति के आधार पर भड़काना) और 295A (किसी वर्ग, धर्म की भावनाओं को आहत करना) के तहत एफआईआर दर्ज की गई है.

Tags: Ashok Pandit, Entertainment

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें