Home /News /entertainment /

kabhi kabhie amitabh bachchan turn in to romantic hero from an action hero pr

अमिताभ बच्चन की किस फिल्म ने बदली इमेज, जानें बिग बी कब एक्शन हीरो से बन गए रोमांटिक एक्टर

‘कभी कभी’ से बदली थी अमिताभ बच्चन की इमेज. (फोटो साभार: Movies N Memories/Twitter)

‘कभी कभी’ से बदली थी अमिताभ बच्चन की इमेज. (फोटो साभार: Movies N Memories/Twitter)

खैय्याम को ‘कभी कभी’ फिल्म के संगीत के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार मिला था, जबकि साहिर लुधियानवी को ‘कभी कभी मेरे दिल में ख्याल आता है’ के लिए सर्वश्रेष्ठ गीतकार का पुरस्कार मिला था. इसे गाने वाले मुकेश को बेस्ट प्लेबैक मेल सिंगर का अवॉर्ड मिला था. इस फिल्म में अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) के माता-पिता भी नजर आए थे.

अधिक पढ़ें ...

अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने जब फिल्मी करियर की शुरुआत की थी तो उनकी इमेज एक्शन हीरो की बन गई थी. लेकिन 1976 में यश चोपड़ा (Yash Chopra) ने अपनी फिल्म में बिग बी को कास्ट किया. फिल्म सुपर-डुपर हिट हुई तो अमिताभ की इमेज भी बदल गई. इस फिल्म के गाने दिल को छू लेने वाले थे, अमिताभ ने इस फिल्म में गजब की एक्टिंग की और उनकी इमेज रोमांटिक हीरो में तब्दील हो गई. चलिए बताते हैं कौन सी फिल्म थी.

‘कभी कभी’ (Kabhi Kabhie) अमिताभ बच्चन के फिल्मी करियर की वह फिल्म है जब दर्शकों ने उनका बदला-बदला अंदाज देखा. ये फिल्म अमिताभ के करियर में मील का पत्थर साबित हुई इस फिल्म में राखी , शशि कपूर , ऋषि कपूर , वहीदा रहमान, नीतू सिंह जैसे भारी भरकम कलाकारों की फौज थी. यश चोपड़ा ने अमिताभ और शशि कपूर की जोड़ी को दूसरी बार इसी फिल्म में एक साथ कास्ट किया था. इससे पहले 1975 में फिल्म ‘दीवार’ में लिया था. ‘कभी कभी’ एक रोमांटिक ड्रामा, म्यूजिकल फिल्म थी.

 यश चोपड़ा ने लिया था बड़ा रिस्क
इस फिल्म में अमिताभ को लेकर यश चोपड़ा ने एक तरह से बड़ा रिस्क भी लिया था. इसकी वजह भी बताते हैं. दरअसल, अमिताभ की इमेज उस समय तक एंग्री यंग मैन की थी, अब ऐसे एक्टर को कविता पाठ करते,रोमांस करते देख दर्शक कितना पसंद करते हैं,ये एक बड़ा चैलेंज था, लेकिन यश एक ऐसे फिल्ममेकर थे, जिसे अपने सेलेक्शन पर बहुत भरोसा हुआ करता था. इस भरोसे को अमिताभ ने कायम भी रखा.

amitabh bachchan, rakhi

‘कभी कभी’ फिल्म 27 फरवरी 1976 में रिलीज हुई थी. (फोटो साभार: Movies N Memories/Twitter)

 ‘कभी कभी’ से अमिताभ की इमेज बदली
ये फिल्म जब रिलीज हुई तो बॉक्स ऑफिस के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए थे. कश्मीर की खूबसूरत वादियों में फिल्माए गए गाने ने सिनेमाघर में बैठे दर्शकों को ताजगी से भर दिया था. इस फिल्म की सफलता के साथ ही एंग्री यंग मैन अमिताभ की इमेज रोमांटिक हीरो की भी बन गई. इस फिल्म में अमिताभ बच्चन के पिता हरिवंश राय बच्चन और मां तेजी बच्चन भी नजर आए थे. इन्होंने एक सीन में राखी के माता-पिता का रोल प्ले किया था. इस फिल्म के दौरान ऋषि कपूर और नीतू सिंह की प्रेम भी खूब परवान चढ़ा.

ये भी पढ़िए-अमिताभ बच्चन का ऋषि कपूर के साथ था गजब का याराना, यह किस्सा जानकर आप भी देगें उनकी दोस्ती की मिसाल

साहिर के गीतों ने रचा ‘कभी कभी’
इस फिल्म को बनाने का ख्याल यश चोपड़ा को अपने अजीज दोस्त और गीतकार साहिर लुधियानवी की कविता से आया था. साहिर के गीतों ने उन्हें इस फिल्म को बनाने की प्रेरणा दी. फिल्म का गीत ‘कभी कभी मेरे दिल में ख्याल आता है’ के बोल, कंपोजीशन, गायिकी इतनी बेमिसाल है कि सुनते ही दिल को ताजगी से भर देती है.

Tags: Amitabh bachchan, Rakhi Gulzar, Rishi kapoor

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर