अपना शहर चुनें

States

किसानों के लाल किला पर निशान साहिब लगाने पर कंगना रनौत का ट्वीट, प्रियंका-दिलजीत से मांगा जवाब

कृषि कानूनों को रद्द कराने की मांग पर अड़े किसानों ने 26 जनवरी को दिल्ली में ट्रैक्टर रैली निकाली.
कृषि कानूनों को रद्द कराने की मांग पर अड़े किसानों ने 26 जनवरी को दिल्ली में ट्रैक्टर रैली निकाली.

पुलिस ने आंदोलनकारियों को रोकने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े और लाठीचार्ज भी किया गया. इस बीच कुछ सिख किसानों ने लाल किला पहुंच वहां अपना झंडा (निशान साहिब या निशान साहेब) लगा दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 26, 2021, 7:35 PM IST
  • Share this:
नई दिल्लीकृषि कानूनों (farmers bill) को रद्द कराने की मांग पर अड़े किसानों ने 26 जनवरी को दिल्ली में ट्रैक्टर रैली निकाली, जिसके लिए उन्हें पहले ही रूट बताए गए थे. लेकिन किसान वो रूट तोड़ते हुए दिल्ली में कूच कर गए और इस वजह से राजधानी में माहौल खराब हो गया. जिसके बाद पुलिस और किसानों के बीच तनाव बढ़ गया. पुलिस ने आंदोलनकारियों को रोकने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े और लाठीचार्ज भी किया. इस बीच कुछ सिख किसानों ने लाल किला पहुंच वहां अपना झंडा (निशान साहिब या निशान साहेब) लगा दिया. इसके बाद से कई बॉलीवुड एक्टर्स के कमेंट आने शुरू हो गए.

एक्ट्रेस कंगना रनौत (kangana ranaut) ने मामले पर हमलावर अंदाज में एक्टर दिलजीत दोसांझ और प्रियंका चोपड़ा से सफाई मांगी है. कंगना ने लिखा, ‘दिलजीत दोसांझ और प्रियंका चोपड़ा को इसे एक्सप्लेन करने की जरूरत है. आज पूरी दुनिया हमारे ऊपर हंस रही है. यही चाहिए था न तुम लोगों को. बधाई हो.’ साथ ही कंगना ने ट्वीट में लिखा, ‘अनपढ़ गंवार मोहल्लों में किसी के घर शादी या कोई अच्छा त्योहार आए तो जलने वाले ताऊ/चाचा/चाची कपड़े धोना या बच्चों को आंगन में शौच करवाना या खटिया लगाक बीच आंगन में शराब पीकर नंगे होकर सो जाना, वही हाल हो गया है इस गंवार देश का. शर्म कर लो आज #RepublicDay.’


कंगना ने वीडियो जारी कर कहा, 'कैसे आज गणतंत्र दिवस के दिन लाल किले पर हमला किया गया है. वहां खालिस्तान का झंडा लहराया गया है. ये साल पूरे देश के लिए कितना मुश्किल रहा. लेकिन आप देख रहे हैं कि कैसे पूरे देश को झुंझलाकर रख दिया है. इन लोगों को जो खुद को किसान कह रहे आतंकी हैं. जो इनको प्रोत्साहन दे रहे हैं और देते आए हैं. सबका तमाशा बनाकर रख दिया है. इसके बाद दुनिया में हमारी इज्जत नहीं रही. जब भी देखो हम गंवारों की तरह, जब दूसरे देश का कोई आता है, हम बस नंगे होकर बैठ जाते हैं. इस देश का कुछ नहीं होने वाला है. देश कहीं नहीं जा रहा है. कोई देश को एक कदम आगे ले जाता है ये 10 कदम पीछे ले जाते हैं. मैं तो कहूंगी उन सबको जेल में डालो जो इस कथि‍त किसान आंदोलन का सपोर्ट कर रहे हैं. उनकी संपत्ति और कमाई के सारे संसाधन छीने जाने चाहिए. देश की सरकार, सुप्रीम कोर्ट सब मजाक बनकर रह गया है.'



(फोटो साभारः Twitter ScreenShot)


कंगना के अलावा एक्ट्रेस गुल पनाग ने कहा, ‘किसी भी हाल में तिरंगे का अनादर नहीं किया जा सकता. ये अस्वीकार्य है. निंदा की जानी चाहिए. मैंने पहले दिन से शांतिपूर्ण प्रोटेस्ट का समर्थन किया है, यह हिंसक मोड़ निंदनीय है. इस पवित्र दिन पर, केवल भारत के तिरंगे झंडे को लाल किले के ऊपर लहराना चाहिए.’

बता दें लगभग दो महीनों से कृषि कानून के खिलाफ चल रहे किसान आंदोलन का कंगना रनौत विरोध कर रही हैं और कृषि बिल का समर्थन, वहीं गायक दिलजीत दोसांझ और प्रियंका चोपड़ा ने किसानों के समर्थन में ट्वीट्स किए थे. प्रियंका ने लिखा था, 'किसान तो हमारे सैनिक हैं. उनके हर डर को खत्म करना जरूरी है. उनकी उम्मीदों का पूरा होना जरूरी है. लोकतंत्र होने के नाते हमारी जिम्मेदारी है कि ये विवाद जल्द सुलझ जाए.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज