कंगना रनौत को बीएमसी का एक और करारा झटका! खार वेस्ट वाले घर में 'अवैध निर्माण' को लेकर भेजा नोटिस

कंगना रनौत को बीएमसी का एक और करारा झटका! खार वेस्ट वाले घर में 'अवैध निर्माण' को लेकर भेजा नोटिस
Kangna vs Shiv Sena: कंगना रनौत और शिवसेना के बीच तनातनी कम होने का नाम नहीं ले रही है.

कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के ऑफिस के बाद अब बीएमसी ने एक्ट्रेस के खार वेस्ट वाले घर को लेकर भी नोटिस जारी किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 13, 2020, 2:11 PM IST
  • Share this:
मुंबई. कंगना रनौत (Kangana Ranaut) और महाराष्ट्र सरकार के बीच चल रहे विवाद को लेकर अब जल्द ही कंगना रनौत को बीएमसी का एक और झटका मिल सकता है. पहले कंगना रनौत के पाली हिल वाले दफ्तर में किए गए कथित अवैध निर्माण को लेकर बीएमसी ने बुलडोजर चलाया था. इसके बाद अब बीएमसी ने मुंबई के खार स्थित कंगना के (फ्लैट) घर के अंदर किए गए कथित अवैध निर्माण को लेकर भी नोटिस भेजा है.

बीएमसी का कहना है कि कंगना के दफ्तर के मुकाबले उनके घर में बीएमसी के नियमों का और भी ज्यादा उल्लंघन किया गया है. फ़िलहाल कंगना के घर के अवैध निर्माण का केस कोर्ट में है, जिसकी सुनवाई 25 सितंबर को होगी.

कंगना रनौत मुंबई के खार वेस्ट स्थित के 16 नंबर रोड के एक इमारत DB Breeze (Orchid Breeze) के 5वें मंजिल पर रहती हैं. इस मंजिल पर कंगना के कुल 3 फ्लैट हैं, जिनमें से एक फ्लैट 797 sqft + दूसरा फ्लैट 711sqft और तीसरा फ्लैट 459 sqft का है. यह तीनों फ्लैट्स कंगना के नाम पर 8 मार्च 2013 में रजिस्टर्ड हुए हैं. बीएमसी का कहना है कि कंगना के फ्लैट लेने के पांच साल बाद 13 मार्च 2018 में उसे इन फ्लैट्स के अंदर किये गए अवैध निर्माण की शिकायत प्राप्त हुई थी.



शिकायत के बाद 26 मार्च 2018 में बीएमसी की तरफ से कंगना के फ्लैट्स का मुआयना किया गया और उसी दिन कंगना को बीएमएसी ने योजना से परे जाकर अनधिकृत निर्माण के लिए एमआरटीपी अधिनियम के 53/1 के तहत (BMC under 53/1 of MRTP act for unauthorized construction beyond plan) नोटिस भेजा था, जिसको 27 मार्च 2014 को बीएमसी ने मंजूरी दी थी.
कंगना रनौत के फ्लैट के अवैध निर्माण को लेकर बीएमसी ने नोटिस कंगना को जारी कर उसमें बताया है कि-

1- इलेक्ट्रिक फिटिंग को संक सीमेंट से भरकर उसका कार्पेट एरिया के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है.

2- पौधे लगाने के लिए प्रदान की गई जगह पर सीढ़ियां लगाई गई हैं.

3-- खिडकी पर लगाए गए छज्जा के आसन की दीवारों को हटाकर बाल्कनी के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है.

4- सर्विस स्लैब संक सीमेंट से भर दिए हैं और साथ लगी दीवार को तोड़कर बाल्कनी में तब्दील कर कमरा बना दिया गया है.

5- उत्तर पश्चिम की ओर सीढ़ी और रसोई के बीच कॉमन रास्ता और रसोई के पास दरवाजा बनाकर कवर किया गया है.

6- तीनों फ्लैट्स के बीच प्रदान किया हुआ कॉमन जगह पर अवैध दरवाजे लिफ्ट के सामने बना दिए हैं.

7- तीनों फ्लैट्स को जोड़ने के लिए कॉमन दीवारें तोड़ी गई है.

8- शौचालय और बाथरूम के पास नलिकाएं या तो आकार में बदली हुई या ढकी हुई पायी गई है.

BMC अधिकारियों का दावा है कि उपरोक्त सभी उल्लंघन कंगना रनौत के कार्यालय की तुलना में बहुत गंभीर और अधिक गंभीर उल्लंघन हैं, जिन्हें BMC द्वारा ध्वस्त कर दिया गया था. इस नोटिस में बीएमसी ने कंगना रनौत को एक महीने में बीएमसी के अनधिकृत निर्माण हटाने के लिए या बीएमसी को इसपर जवाब देने के लिए कहा है.

प्रारंभिक उत्तर के बाद कंगना रनौत ने 22 मई 2018 को सिविल कोर्ट का दरवाजा खटखटाया फ़िलहाल यह मामला न्यायलय में है और बीएमसी ने अदालत से दरख्वास्त कर तत्काल कार्रवाई करने की मांग की है इस मामले की अगली सुनवाई 25 सितंबर 2020 को होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज