कंगना रनौत मुंबई से निकलीं, कहा- बड़े भारी मन से यहां से जा रही हूं, मुझे गालियां दी जा रही हैं

कंगना रनौत मुंबई से निकलीं, कहा- बड़े भारी मन से यहां से जा रही हूं, मुझे गालियां दी जा रही हैं
कंगना जब राज्यपाल के आवास से निकलीं तो उनके हाथ में दो कमल के फूल भी थे. (Photo- ANI)

कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने ट्वीट में कहा कि उनकी काम की जगह पर कार्रवाई के बाद अब उनके घर पर भी कार्रवाई की सोची जा रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 14, 2020, 11:22 AM IST
  • Share this:
मुंबई. बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) अच्छे खासे विवाद के बाद सोमवार को यहां से रवाना हो रही हैं. कंगना रनौत ने मुंबई से निकलने से पहले एक ट्वीट कर के अपनी हालत के बारे में बताया है. उन्होंने कहा कि वो बेहद भारी मन से मुंबई से जा रही हैं क्योंकि यहां लगातार उनके ऊपर हमले हो रहे हैं और गालियां दी जा रही हैं. उन्होंने कहा कि उन्हें खौफजदा रखने के लिए पूरी कोशिश की गई.

कंगना ने ट्वीट में कहा कि उनकी काम की जगह पर कार्रवाई के बाद अब उनके घर पर भी कार्रवाई की सोची जा रही है. मेरे आसपास हमेशा सुरक्षा घेरा, हथ‌ियार इन सब से साबित होता है कि मेरा मुंबई को लेकर दिया गया पीओके वाला बयान सच है.

इससे पहले रविवार को राजभवन में राज्यपाल से हुई मुलाकात के बाद संवाददाताओं से बात करते हुए कंगना ने कहा, ‘‘मैंने राज्यपाल से मुलाकात की. उन्होंने मुझे बेटी की तरह सुना. मैं एक नागरिक के तौर पर उनसे मिलने आयी. राजनीति से मेरा कोई लेना-देना नहीं है. मैंने अपने साथ हुई नाइंसाफी और जो भी अनुचित हुआ, उस बारे में उन्हें बताया. यह अभद्र बर्ताव था. ’’



कंगना के साथ उनकी बहन रंगोली चंदेल भी थीं. राज्यपाल से मुलाकात के वक्त दोनों ने मास्क उतारकर तस्वीरें खिंचवायी. कंगना कोश्यारी का पैर छूने के लिये भी झुकीं. बैठक के बारे में बाद में उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘कुछ देर पहले महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी जी से मेरी मुलाकात हुई . मैंने उन्हें अपने नजरिए से अवगत कराया और यह भी अनुरोध किया कि मुझे न्याय मिलना चाहिए . इससे आम नागरिकों का, खासकर बेटियों का इस तंत्र के प्रति विश्वास बहाल होगा. ’’
कंगना और शिवसेना के बीच हाल में विवाद तब शुरू हुआ जब अभिनेत्री ने अपने एक बयान में कहा कि उन्हें “मूवी माफिया” से ज्यादा मुंबई पुलिस से डर लगता है और महाराष्ट्र की राजधानी की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से की थी.

उनके बयान पर प्रतिक्रिया जताते हुए शिवसेना के नेता संजय राउत ने कथित तौर पर कहा था, ‘‘हम उनसे आग्रह करेंगे कि उन्हें मुंबई नहीं आना चाहिए. यह और कुछ नहीं बल्कि मुंबई पुलिस का अपमान है.’’ कंगना बुधवार को हिमाचल प्रदेश से मुंबई लौटी थीं . उन्होंने आरोप लगाया कि शिवसेना से उनके टकराव की वजह से महाराष्ट्र सरकार उन्हें निशाना बना रही है. उन्होंने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की भी आलोचना की थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज