कंगना रनौत ने किया एंटी कन्वर्जन ला का सपोर्ट, बोलीं- गैंगरेप रोकने को दी जाए फांसी

कंगना रनौत. (फाइल फोटो)

कंगना रनौत. (फाइल फोटो)

अपनी विवादास्पद पोस्ट की वजह से अक्सर सुर्खियों में रहने वाली बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने गैंगरेप जैसे अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए एक सुझाव दिया है. उन्होंने गैंगरेप रोकने के लिए सऊदी अरब जैसे देशों में दी जाने वाली सार्वजनिक फांसी का समर्थन किया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 12, 2021, 5:38 PM IST
  • Share this:
मुंबई. सोशल मीडिया पर अपनी विवादास्पद पोस्ट की वजह से अक्सर सुर्खियों में रहने वाली बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने गैंगरेप जैसे अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए एक सुझाव दिया है. उन्होंने गैंगरेप रोकने के लिए सऊदी अरब जैसे देशों में दी जाने वाली सार्वजनिक फांसी का समर्थन किया.

कंगना ने हाल ही में मध्य प्रदेश की भाजपा सरकार द्वारा लाए गए कथित लव जिहाद के खिलाफ एंटी कन्वर्जन ला (धर्मांतरण विरोधी कानून) का समर्थन किया. उन्होंने कहा कि इस अध्यादेश से धोखाधड़ी से हुई शादियों की पीड़ितों को मदद मिलेगी.

मध्य प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने शनिवार को प्रदेश सरकार के एक अध्यादेश को मंजूरी दी, जिसमें धोखाधड़ी के माध्यम से धर्मांतरण कराने पर दंड का प्रावधान किया गया है. इसमें शादी के लिए धोखाधड़ी से धर्मांतरण कराने वाले को 10 साल की कैद का दंड दिया जाएगा.



Youtube Video

रनौत ने भोपाल में मीडियाकर्मियों से कहा कि यह एक बहुत अच्छा कानून है. कई लोगों को धोखे से की गई शादी के कारण समस्याओं का सामना करना पड़ा है. ऐसे लोगों लिए यह कानून बनाया गया है. एक फिल्म की शूटिंग के लिये यहां आई रनौत ने एक सवाल के जवाब में कहा कि सरकार ने आखिरकार यह बहुत अच्छा कदम उठाया है.

देश में रेप के बढ़ते मामलों के बारे में पूछे जाने पर एक्ट्रेस ने कहा कि ऐसे मामलों की सुनवाई लंबे समय तक चलती है और पीड़ितों को इस प्रक्रिया में परेशान होना पड़ता है. ऐसे में आरोपियों के खिलाफ आरोप साबित करने का बोझ भी पीड़िता पर होता है. उन्होंने कहा कि इस लंबी कानूनी प्रक्रिया में आधे से अधिक आरोपी बरी हो जाते हैं. रनौत ने सऊदी जैसे कई देशों का उदाहरण देते हुए कहा, ‘वहां दोषी को सार्वजनिक चौराहों पर फांसी पर लटका दिया जाता है. हमारे यहां भी हम जब तक 5-6 ऐसे उदाहरण नहीं कर देते तब तक ऐसे अपराध बंद नहीं होंगे क्योंकि यहां लोग अपराध करके आसानी से निकल जाते हैं.’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज