लाइव टीवी

मुश्किलों के दौर से गुजरी हैं कनिका कपूर, इसलिए करना चाहती थीं आत्महत्या

News18Hindi
Updated: March 23, 2020, 9:10 AM IST
मुश्किलों के दौर से गुजरी हैं कनिका कपूर, इसलिए करना चाहती थीं आत्महत्या
कनिका कपूर ने इंटरव्यू में बताई थी कहानी

कनिका कपूर (Kanika Kapoor) के पास अपने तीन बच्चों की फीस भरने के लिए भी पैसे नहीं थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 23, 2020, 9:10 AM IST
  • Share this:
मुंबई. बॉलीवुड की जानी-मानी सिंगर कनिका कपूर (Kanika Kapoor) हाल ही में कोरोना वायरस पॉजिटिव (Corona Virus Positive) पाई गई हैं. उनके केस को लेकर जबरदस्त हंगामा इसलिए हुआ क्योंकि कनिका एक पार्टी में शामिल हुई थीं, जहां के लोगों को भी कोरोना संक्रमण होने का शक है. उनके बारे में कहा यहां तक जा रहा है कि लंदन से लौटकर कनिका कपूर ने एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग नहीं कराई और बचकर निकल आई थीं. हालांकि कनिका ने इन सभी आरोपों से किनारा किया है. कनिका कपूर का इन दिनों इलाज जारी है. वहीं इसी बीच उनका एक पुराना इंटरव्यू (Kanika Kapoor Interview) जबरदस्त वायरल हो रहा है, जिसमें कनिका ने अपनी जिंदगी के मुश्किल दौर के बारे में बात की है.

कनिका कपूर लखनऊ में पली बढ़ी हैं. 18 साल की छोटी सी उम्र में उनकी शादी हो गई थी. कनिका 1997 में अपने पति राज चंदूक के साथ भारत छोड़कर लंदन रहने चली गई थीं. इस शादी से उनके तीन बच्चे भी हैं.

जब हुआ तलाक
वहीं कुछ सालों तक उनकी शादीशुदा जिंदगी काफी अच्छी रही लेकिन इस शादी में बुरा दौर आया और 2010 के आस-पास कनिका और उनके पति राज चंदूक का तलाक हो गया. कनिका ने टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए इंटरव्यू में कबूल किया था कि उस दौर में उनके पति किसी और के साथ थे.



जिंदगी खत्म करना चाहती थीं कनिका
वहीं तलाक के बाद कनिका भारत लौट आईं और उनकी जिंदगी में बेहद बुरा दौर आया. कनिका ने एक न्यूज एजेंसी से बातचीत में बताया था कि एक समय ऐसा भी आ गा था जब वो अपनी जिंदगी खत्म करना चाहती थीं. कनिका ने कहा था, 'ऐसा तब होता है जब आपके पास पैसे नहीं होते हैं, एक बुरे तलाक से गुजर रहे हैं, और वकील आपको निचोड़ रहे हैं. इसके अलावा आपके तीन बच्चे हैं, जिन्हें स्कूल से निकाल दिया गया है, क्योंकि आपने फीस का भुगतान नहीं किया है'.

हार नहीं मानी
कनिका ने इसी इंटरव्यू में आगे कहा था- 'मैं शिकायत नहीं करती हूं, और चीजों को हल करने का एक तरीका खोजने की कोशिश करती हूं. अंत में जब मैं हार मानने की कगार पर थी, भगवान ने मुझे 'बेबी डॉल' गाने का अवसर दिया. तो हां, तब मेरे पास हार मानने का कोई कारण नहीं था'.

ऐसा रहा करियर
कनिका के अपने सिंगिंग करियर की शुरुआत 2012 में 'जुगनी जी' गाने के साथ की थी. ये गाना पाकिस्तानी सूफी गीत 'अलिफ अल्लाह' का रीमिक्स संस्करण था. वहीं कनिका को असली पहचान मिली 2014 में सनी लियोन-स्टारर 'रागिनी एमएमएस 2' के गाने 'बेबी डॉल' से. ये गाना ऐसा जबरदस्त हिट हुआ कि कनिका कई इंटरव्यूज में नजर आने लगीं और रातों-रात वो रॉकस्टार बन गईं. इसके बाद उन्होंने 'चिट्टियां कलाइयां' और 'लवली' जैसे चार्टबस्टर गाने गाए.

नहीं थम रहा ये विवाद
कोरोना वायरस के दौर में जहां एक तरफ सभी को बचाव करने और संक्रमण होने पर आइसोलेशन में जाकर दूसरों को सुरक्षित रखने की सलाह दी जा रही थी, वहीं दूसरी तरफ लंदन से लौटीं कनिका किसी की परवाह ना करते हुए पार्टी में पहुंची थीं. इस दौरान उन्हें कोल्ड के लक्षण थे लेकिन कनिका ने इसे इग्नोर किया और वो बाद में कोरोना पॉजिटिव पाई गईं. इस गैर-जिम्मेदाराना रवैये के लिए सोशल मीडिया यूजर्स और कई बॉलीवुड सितारों ने भी उनकी जमकर आलोचना की है. हालांकि कई कनिका के सपोर्ट में भी आए हैं.

ये भी पढ़ें- Corona की चपेट में आई एक और एक्ट्रेस, इंस्टाग्राम पर सुनाई आपबीती

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बॉलीवुड से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 23, 2020, 8:58 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर