• Home
  • »
  • News
  • »
  • entertainment
  • »
  • BOLLYWOOD KAREENA KAPOOR KHAN CAR SEEN IN NANAVATI HOSPITAL RANDHIR KAPOOR FANS STARTS CONCERN SS

करीना कपूर खान पहुंचीं नानावटी अस्पताल, फैंस को 'बेबो' की सताने लगी चिंता

करीना कपूर खान. फोटो साभार-@kareenakapoorkhan/Instagram

रणधीर कपूर (Randhir Kapoor) के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद हालांकि करीना कपूर खान (Kareena Kapoor Khan) ने अपनी कोरोना टेस्ट कराया था, जिसमें वह नेगेटिव आई थीं. अब अचानक से बेबो अस्पताल क्यों पहुंचीं, ये बात फैंस को सता रही है.

  • Share this:
    मुंबई. बॉलीवुड (Bollywood) एक्ट्रेस करीना कपूर खान (Kareena Kapoor Khan) दूसरी बार मां बनने के बाद से सुर्खियों में हैं. वह अपने प्रोफेशनल लाइफ ही नहीं बल्कि अपनी पर्सनल लाइफ को लेकर भी चर्चाओं में रहती हैं. करीना के पिता और राज कपूर के बड़े बेटे रणधीर कपूर (Randhir Kapoor) इन दिनों कोरोना से जंग लड़ रहे हैं. वहीं, इन खबरों के बीच आज एक्ट्रेस को मुंबई के नानावटी अस्पताल (Nanavati Super Speciality Hospital) में स्पॉट किया गया, जिसके बाद सोशल मीडिया पर फैंस उनकी और उनके पिता दोनों की चिंता सताने लगीं.

    रणधीर कपूर (Randhir Kapoor) के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद हालांकि करीना कपूर खान (Kareena Kapoor Khan) ने अपनी कोरोना टेस्ट कराया था, जिसमें वह नेगेटिव आई थीं. अब अचानक से बेबो अस्पताल क्यों पहुंचीं, ये बात फैंस को सता रही है.

    हालांकि अभी तक ये साफ नहीं हो पाया है कि वह अस्पताल किस कारण से गई थीं. मशहूर फोटोग्राफर विरल भयानी ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें करीना का गाड़ी दिखाई दे रही है. हालांकि गाड़ी के शीशे काले होने के वजह से एक्ट्रेस नजर नहीं आ रही हैं. वीडियो को देखने के बाद लोग अंदाजा लगा रहे हैं कि हो सकता है कि वह वैक्सीन लगवाने या फिर मेडिकल चेपअप के लिए अस्पताल में आईं हो.




    आपको बता दें कि दिग्गज एक्टर रणधीर कपूर (Randhir Kapoor) ने कहा है कि मुंबई के कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल (Kokilaben Dhirubhai Ambani Hospital) में भर्ती हैं. आईसीयू में कुछ दिन बिताने के बाद, वे अब अच्छा महसूस कर रहे हैं. पिछले दिनों उन्होंने कहा था कि उन्हें जल्द ही छुट्टी मिलने की उम्मीद है. वे कहते हैं, 'मैं ठीक हो रहा हूं और जल्द ही घर वापस जाऊंगा.' उन्होंने आगे बताया कि अस्पताल में रहने के दौरान उन्हें किसी तरह से ऑक्सीजन की जरूरत नहीं पड़ी थी. वे कहते हैं, 'मेरी सांस नहीं उखड़ी थी. मुझे बस बुखार आया था.'
    Published by:Shikha Pandey
    First published: