जानिए शकुंतला देवी को कैसे मिला 'ह्यूमन कंप्यूटर' का टाइटल

जानिए शकुंतला देवी को कैसे मिला 'ह्यूमन कंप्यूटर' का टाइटल
शकुंतला देवी के जीवन पर आधारित विद्या बालन स्टारर फिल्म 31 जुलाई को रिलीज होने वाली है.

31 जुलाई को अमेजन प्राइम पर बायोपिक शकुंतला देवी (Shakuntala Devi) रिलीज होने वाली है. एक्ट्रेस विद्या बालन (Vidya Balan) फिल्म में शकुंतला देवी के किरदार में दिखेंगी.

  • Share this:
मुंबई. 31 जुलाई को अमेजन प्राइम पर बायोपिक शकुंतला देवी (Shakuntala Devi) रिलीज होने वाली है. एक्ट्रेस विद्या बालन (Vidya Balan) फिल्म में शकुंतला देवी के किरदार में दिखेंगी. वही, सान्या मल्होत्रा इस फिल्म में शकुंतला की बेटी अनुपमा बनर्जी की भूमिका में हैं. शकुंतला देवी (1929-2013) एक महान गणितज्ञ थीं. जिन्हें 'ह्यूमन कंप्यूटर' (Human Computer) भी कहा जाता था. उनके हिसाब-किताब करने की रफ्तार को देखते हुए उन्हें 1982 में गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में शामिल किया गया.

एक तरफ, हम शकुंतला के जीवन के उतार-चढ़ाव के साक्षी बनने की राह पर हैं, पर क्या आप जानते हैं कि शकुंतला को 'ह्यूमन कंप्यूटर' का टाइटल किस तरह मिला था? ऐसा इसलिए हुआ कि 1950 में बीबीसी लंदन के इंटरव्यू के दौरान शकुंतला देवी को गणित का एक कठिन सवाल दिया गया था. लेकिन उन्होंने हाईलाइट करते हुए बताया कि कंप्यूटर द्वारा दिया गया प्रश्न गलत था. किसी ने भी उन पर तब तक विश्वास नहीं किया, जब अगले दिन चैनल को पता चला कि शकुंतला सचमुच सही थी. और तभी से शकुंतला देवी को 'ह्यूमन कंप्यूटर' कहा जाने लगा.

फिल्म के कलाकारों और चालक दल ने वास्तव में बीबीसी स्टूडियो में शूटिंग की है. विद्या ने बताया, "वहां शूटिंग करना अद्भुत था. आप जानते हैं कि अभिनेता वास्तविक स्थान चाहते हैं और जब उसमें इस तरह का इतिहास मौजूद होता है, तो यह उसे अधिक वास्तविक बना देता है."
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading