Home /News /entertainment /

TRIVIA: वीर-ज़ारा के गानों का ये किस्सा जाने बिना आप हिंदी गानों के जबरा फैन कैसे बनेंगे?

TRIVIA: वीर-ज़ारा के गानों का ये किस्सा जाने बिना आप हिंदी गानों के जबरा फैन कैसे बनेंगे?

वीर-ज़ारा के इन असली गानों को सुनकर आप अपने कानों पर यकीन नहीं कर पायेंगे. मशहूर म्यूजिक डायरेक्टर मदन मोहन का था यह संगीत.

वीर-ज़ारा के इन असली गानों को सुनकर आप अपने कानों पर यकीन नहीं कर पायेंगे. मशहूर म्यूजिक डायरेक्टर मदन मोहन का था यह संगीत.

वीर-ज़ारा के इन असली गानों को सुनकर आप अपने कानों पर यकीन नहीं कर पायेंगे. मशहूर म्यूजिक डायरेक्टर मदन मोहन का था यह संगीत.

    हिंदी सिनेमा को 'झुमका गिरा रे...', 'लग जा गले...' और 'रुके रुके से कदम...', 'कर चले हम फिदा...' जैसे अमर गीत देने वाले म्यूजिक डायरेक्टर मदन मोहन का आज (14 जुलाई) जन्मदिन है. मजेदार बात यह है कि उनका जन्म ईराक में हुआ था. मदन मोहन ने 1950 के दशक से फिल्मों में म्यूजिक देना शुरू किया और अगले दो दशकों में कई बेहतरीन गाने दिये. मदन मोहन को आज भी हिंदी सिनेमा के सबसे काबिल म्यूजिक डायरेक्टरों में से एक माना जाता है, जबकि उनकी संगीत की कोई औपचारिक शिक्षा नहीं हुई थी. मदन मोहन ने अपने जीवन काल में कई धुनें बना रखी थीं, जिन्हें वे अपने जीवन काल में गानों में यूज नहीं कर सके थे. इन धुनों का बाद में 2004 में आई शाहरुख खान और प्रीति जिंटा की चर्चित फिल्म वीर-ज़ारा में यूज हुआ.

    डायरेक्टर यश चोपड़ा करना चाहते थे मदन मोहन के साथ काम
    दरअसल वीर-ज़ारा के निर्देशक रहे यश चोपड़ा मदन मोहन के संगीत को बहुत पसंद करते थे और उनके साथ काम करना चाहते थे. एक बार उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा था, 'वो कौन थी?' (1964) फिल्म का 'लग जा गले...' उनका फेवरेट गीत है. इसे मदन मोहन ने ही कंपोज किया था. हालांकि यश, मदन मोहन के जीते उनके साथ काम नहीं कर सके, इसलिये उन्होंने मदन मोहन के गानों को बाद में अपनी फिल्म वीर-ज़ारा में यूज किया. नीचे मदन मोहन की आवाज़ में उनकी ओरिजिनल धुनें सुनें, जिन पर बने थे वीर-ज़ारा के गीत -

    मोहम्मद रफी के साथ मदन मोहन


    यहां सुनें मदन मोहन की धुन पर बना वीर-ज़ारा का गीत - तेरे लिये हम हैं जिए...

    यहां सुनें मदन मोहन की धुन जिस पर बना वीर-ज़ारा का गीत - ऐसा देश है मेरा...

    यहां सुनें मदन मोहन की धुन जिस पर बना वीर-ज़ारा का गीत - ये कहां आ गये हैं हम...

    यहां सुनें मदन मोहन की धुन जिस पर बना वीर-ज़ारा का गीत - क्यों हवा आज यूं...

    यहां सुनें मदन मोहन की धुन जिस पर बना वीर-ज़ारा का गीत - दो पल का था...

    यहां सुनें मदन मोहन की धुन जिस पर बना वीर-ज़ारा का गीत - आया तेरे दर पर...

    यहां सुनें मदन मोहन की धुन जिस पर बना वीर-ज़ारा का गीत - मैं यहां हूं...

    यहां सुनें मदन मोहन की धुन जिस पर बना वीर-ज़ारा का गीत - हम तो भई जैसे हैं...

    यहां सुनें मदन मोहन की धुन जिस पर बना वीर-ज़ारा का गीत - तुम पास आ रहे हो...

    यहां सुनें मदन मोहन की धुन जिस पर वीर-ज़ारा के - लोहड़ी वाले गीत की धुन बनी...

    जब नौशाद ने मदन मोहन की एक धुन पर अपना पूरा संगीत लुटाने की बात कही
    मदन मोहन ने फिल्म 'अनपढ़' (1962) के लिये एक धुन कंपोज की थी, जो हमारे सामने 'आप की नज़रों ने समझा...' गाने के रूप में आई. जब उस दौर के बेहतरीन डायरेक्टर 'नौशाद' ने इस धुन को सुना तो उन्होंने इस धुन के बदले अपने संगीत का पूरा खजाना लुटा देने की बात कह दी. इस गीत के बोल लिखे थे रजा मेंहदी अली खान ने और इसे गाया था लता मंगेशकर ने. सुनिये यह अमर गीत-



    (लेख में गीत www.madanmohan.in से लिये गये हैं. यह वेबसाइट उनके बेटे संजीव कोहली ने अपने पिता की यादों को संजोकर रखने के लिए शुरू की थी)

    ये भी पढ़ें : TRIVIA: अपने पहले शॉट के लिए ऋषि कपूर को संजय दत्त की मां से मिली थी 'रिश्वत'

    Tags: Bollywood, Preity zinta, Shahrukh khan, Trivia, Trivia Cinema

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर