Home /News /entertainment /

lucky ali wanted to leave mumbai after father mehmood death an

लकी अली पिता महमूद के निधन के बाद छोड़कर जाना चाहते थे मुंबई, सिंगर ने अब बताई वजह

लकी अली ने कई फिल्मों के लिए गाने गाए हैं. (Instagram/officialluckyali)

लकी अली ने कई फिल्मों के लिए गाने गाए हैं. (Instagram/officialluckyali)

लकी अली (Lucky Ali) ने पिता महमूद के निधन के बाद मुंबई छोड़ने का मन बना लिया था. उन्हें मुंबई में कई लोग जानते थे, फिर भी वे यहां अजनबी की तरह महसूस करते थे. बता दें कि लकी अली ने 'सुर' (2003), 'बचना ऐ हसीनों' (2008), 'अंजाना अंजानी' (2010) और 'तमाशा' (2015) जैसी फिल्मों में गाना गाया है.

अधिक पढ़ें ...

महमूद (Mehmood) हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के मशहूर एक्टर थे. वे 77 साल की आयु में जुलाई 2004 में यह दुनिया छोड़कर चले गए थे. एक्टर के बेटे लकी अली ने एक इंटरव्यू के दौरान अपने पिता को याद किया. उन्होंने खुलासा किया कि उन्होंने पिता महमूद के निधन के बाद मुंबई छोड़ने का फैसला कर लिया था.

सिंगर ने एक ताजा इंटरव्यू में बताया कि वे मुंबई में यूं तो कई लोगों को जानते थे, पर लोगों की भीड़ में अजनबी जैसा महसूस करने लगे थे. महमूद का जब निधन हुआ था, तब वे अमेरिका के पेनसिल्वेनिया में थे. एक्टर अमेरिका में अपने इलाज के लिए गए थे. महमूद ने अपने करियर में 300 से ज्यादा फिल्मों में काम किया था. उन्होंने ‘गुमनाम’, ‘सीआईडी’, ‘प्यासा’, ‘परवरिश’, ‘पड़ोसन’ जैसी कई चर्चित फिल्मों में काम किया था.

लकी अली को पिता के निधन के बाद मुंबई लगती थी अजनबी
लकी ने टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए एक इंटरव्यू में कहा, ‘मैं ऐसा शख्स नहीं हूं जो काफी लंबे वक्त तक एक ही जगह में टिका रहता है. मुझे घूमने की जरूरत महसूस होती है, वरना मुझे ऐसा लगता है कि मैं ठहर गया हूं. जब पिता जी का देहांत हुआ था, तो मुझे लगा कि मैं भी यहां से कहीं दूर जाना चाहता था. ऐसा लगता था कि मैं मुंबई का नहीं हूं.’

लकी अली एक जगह ज्यादा वक्त तक नहीं रुक पाते
वे आगे कहते हैं, ‘मुझे लोगों की भीड़ में अजनबी की तरह लगता था. मैं मुंबई में बहुत से लोगों को जानता था, फिर भी मुझे अजनबी सा लगता था.’ लकी अब बेंगलुरु में रहते हैं. उन्होंने यहां के बारे में भी बात की. वे बोले, ‘मुझे कभी-कभी बेंगलुरु में भी ऐसा लगता है. जब ऊर्जा खत्म होने जैसा एहसास होता है, तो मुझे कहीं दूर जाने का मन करता है.

लकी अली: मैं मुंबई का माई का लाल हूं!
लकी अली दिल का हाल बयां करते हुए कहते हैं, ‘मैं मुंबई से प्यार करता हूं. यह सिर्फ इतना है कि मेरे माता-पिता मुझ पर जो जिम्मेदारियां छोड़ गए थे, उनके चलते मैं बेंगलुरु चला आया. मैं अक्सर मुंबई जाता हूं और मुझमें अभी भी मेरा ‘बॉम्बे’ बाकी है. मैं समुद्र को निहारता हूं, मुझे कार्टर रोड और नेपियन सी रोड जाना अच्छा लगता है और उन सभी जगहों पर जहां मैं पला-बढ़ा हूं. मेरे लिए, यह घर लौटने जैसा है. मुंबई मेरे लिए एक मां जैसी है, तो मुंबई मेरा मायका है और मैं मुंबई का माई का लाल हूं!’

Tags: Lucky Ali

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर